बड़ी खबरें

 राज्य के नियोजित शिक्षकों को वरीयता को लेकर शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री अपर मुख्य सचिव का संयुक्त बयान जारी राज्य के नियोजित शिक्षकों को वरीयता को लेकर शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री अपर मुख्य सचिव का संयुक्त बयान जारी सुबे के लाखों शिक्षकों को मिलेगी बड़ी राहत शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह को मिलीसुबे के लाखों शिक्षकों को मिलेगी बड़ी राहत शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह को मिली शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं

नियोजित शिक्षकों के वेतन मद के लिए 22.98 अरब जारी, बढ़ा हुआ वेतन एवं एरियर के साथ होगा भुगतान।

नियोजित शिक्षकों के वेतन मद के लिए 22.98 अरब जारी, बढ़ा हुआ वेतन एवं एरियर के साथ होगा भुगतान।

पटना। राज्य में समग्र शिक्षा अभियान के लिए 22 अरब 98 करोड़ 58 लाख 60 हजार 958 रुपये की राशि व्यय की स्वीकृति के साथ जारी हुई है।

इसमें वर्तमान वित्तीय वर्ष 2021 22 में समग्र शिक्षा अभियान स्कीम अंतर्गत केंद्रांश मद में प्रथम किस्त की अवशेष राशि के रूप में प्राप्त 17 अरब 31 करोड़ रुपये एवं इसके विरुद्ध समानुपातिक राज्यांश की राशि 11 अरब 54 करोड़ रुपये के स्थान पर बजट उपबंध कम होने के कारण तत्काल 5 अरब 67 करोड़ 58 लाख 60 हजार 958 रुपये शामिल हैं। आपको बता दूं कि समग्र शिक्षा अभियान केंद्र प्रायोजित योजना है।

यह भी पढ़ें - सरकारी स्कूल के शिक्षकों के लिए बल्ले बल्ले समग्र शिक्षा के लिए 4,441 करोड रुपया हुआ जारी जान ले इसे कैसे करना है खर्च।

केंद्र सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय के स्कूल शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के निर्देश के आलोक में सर्व शिक्षा अभियान, राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान एवं शिक्षक शिक्षा योजनाओं को एकीकृत कर प्री-स्कूल से लेकर 12वीं कक्षा तक के लिए एक नयी योजना समग्र शिक्षा अभियान संचालित किया गया है। वित्तीय वर्ष 2020-21 में केंद्र सरकार द्वारा समग्र शिक्षा अभियान के प्रोजेक्ट एप्रूवल बोर्ड (पीएबी) की बैठक गत 15 जून को सम्पन्न हुई। उसमें चालू वित्तीय वर्ष 2021-22 में समग्र शिक्षा अभियान के लिए 77 अरब 51 करोड़ 6 लाख 57 हजार 6 सौ रुपये का बजट स्वीकृत किया गया। इसके मुताबिक वर्ष 2020-21 में केंद्र सरकार द्वारा वास्तविक रूप से 38 अरब 27 करोड़ 55 लाख रुपये विमुक्त किया जायेगा, जिसमें से 36 अरब 38 करोड़ 80 लाख 67 हजार रुपये प्रारंभिक शिक्षा के लिए केंद्रांश के रूप में निर्धारित है। समग्र शिक्षा अभियान में केंद्र एवं राज्य की हिस्सेदारी 6040 है।

यह भी पढ़ें - 80 हजार सरकारी स्कूल के शिक्षकों को कक्षा दो से 8 के लिए शिक्षा विभाग ने जारी कर दिया नया निर्देश, पत्र हुआ जारी।

इसके मद्देनजर वर्तमान वित्तीय वर्ष 2021-22 में समग्र शिक्षा अभियान के तहत केंद्रांश मद में प्रथम किस्त की अवशेष राशि के रूप में प्राप्त 17 अरब 31 करोड़ रुपये एवं इसके विरुद्ध समानुपातिक राज्यांश की राशि 11 अरब 54 करोड़ रुपये के स्थान पर बजट उपबंध कम होने के कारण तत्काल 5 अरब 67 करोड़ 58 लाख 60 हजार 958 रुपये सहायक अनुदान के रूप में व्यय की स्वीकृति के साथ विमुक्त की गयी है। शेष बकाया राज्यांश की राशि की निकासी बजट उपबंध उपलब्ध होने पर की जायेगी।


Buy Amazon Product