बड़ी खबरें

 राज्य के नियोजित शिक्षकों को वरीयता को लेकर शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री अपर मुख्य सचिव का संयुक्त बयान जारी राज्य के नियोजित शिक्षकों को वरीयता को लेकर शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री अपर मुख्य सचिव का संयुक्त बयान जारी सुबे के लाखों शिक्षकों को मिलेगी बड़ी राहत शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह को मिलीसुबे के लाखों शिक्षकों को मिलेगी बड़ी राहत शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह को मिली शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं

3.5 लाख नियोजित शिक्षकों को लगा करारा झटका अब बढ़ा हुआ 15% वेतन जनवरी में नहीं फरवरी से मिलेगा

3.5 लाख नियोजित शिक्षकों को लगा करारा झटका अब बढ़ा हुआ 15% वेतन जनवरी में नहीं फरवरी से मिलेगा

पटना। राज्य के 3.57 लाख शिक्षकों और पुस्तकालयाध्यक्षों को फरवरी 2022 के वेतन से 15 प्रतिशत बढ़ी हुई राशि का भुगतान शुरू हो जायेगा। प्रारंभिक से लेकर उच्च माध्यमिक स्कूलों के शिक्षकों को वेतन में लगभग तीन से चार हजार रुपये प्रतिमाह वृद्धि का लाभ मिलेगा। वैसे 15 प्रतिशत वेतन बढ़ोतरी का लाभ शिक्षकों एवं पुस्तकालयाध्यक्षों को एक अप्रैल 2021 से ही मिलना है। यह राशि शिक्षकों एवं पुस्तकालयाध्यक्षों को बकाये के रूप में मिलेगी।

यह भी पढ़ें - माह के 9 तारीख को वेतन मिलेंगे नियोजित शिक्षकों को, नहीं तो अफसरों के वेतन से होगी भुगतान।

शुक्रवार को शिक्षकों के वेतन वृद्धि मामले पर सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों के साथ माध्यमिक शिक्षा निदेशक मनोज कुमार ने वीडियो कांफ्रेंसिंग कर समय पर शिक्षकों का नये पे मैट्रिक्स के आधार पर 15 प्रतिशत की दर से वेतन बढ़ातेरी का डाटा एक्सेल सीट में तैयार करा लें। वेतन विसंगति नहीं रहे, इसके लिए पूरी सावधानी रखनी है। इस दौरान एनआईसी के प्रतिनिधि वेतन वृद्धि पर पे कैलकुलेटर के लिए तैयार सॉफ्टवेयर का प्रजेंटेशन दिया गया। सॉफ्टवेयर में भी कुछ सुधार की आवश्यकता जताई गई है। जिला शिक्षा पदाधिकारियों एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों ने भरोसा दिया है कि जल्द शिक्षकों के वेतन वृद्धि का आकलन कर भेज देगा। पहले से मिल रहे वेतन में 1.15 से गुणा करने पर जो राशि आयेगी, उसे पे मैट्रिक्स के अनुसार निर्धारित कर एक अप्रैल 2021 से वेतन वृद्धि का लाभ मिलेगा। 15 प्रतिशत वेतन वृद्धि होने पर शिक्षकों को प्रतिमाह लगभग तीन से चार हजार रुपए की बढ़ोतरी होगी। शिक्षकों की सेवाशर्त नियमावली अगस्त 2020 में लागू की गई। साथ ही 1 अप्रैल 2021 से वेतन में 15 प्रतिशत वृद्धि की घोषणा की गई थी।

यह भी पढ़ें - राज्य के 3.30 लाख नियोजित शिक्षकों के 15% बढ़े हुए वेतन के अनुसार पे स्केल हो गया जारी देख लें डिटेल से

प्रारंभिक से लेकर उच्च माध्यमिक शिक्षकों के वेतन वृद्धि होने पर प्रत्येक शिक्षकों को वरीयता और कोटि के आधार पर तीन से चार हजार रुपये प्रति माह का लाभ होगा। अभी विभिन्न कोटि के शिक्षकों को 25 हजार से 32 हजार तक वेतन मिलता है। वेतन वृद्धि के बाद 28 से 36 हजार प्रति माह हो जायेगा।

16.50 हजार पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति भुगतान के लिए टीम गठित कर जांच का निर्देश भी जिला शिक्षा पदाधिकारियों एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों को दिया गया। वीडियो कांफ्रेंसिंग में माध्यमिक शिक्षा उप निदेशक चंद्रशेखर।


Buy Amazon Product