बड़ी खबरें

78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी।78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी। राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी

राज्य के सभी स्कूल एवं शैक्षणिक संस्थान सोमवार से खुल जाएंगे सरकार ने लिया आदेश.

राज्य के सभी स्कूल एवं शैक्षणिक संस्थान सोमवार से खुल जाएंगे सरकार ने लिया आदेश.

पटना। राज्य में सोमवार से स्कूल-कॉलेज खुलेंगे। माना जा रहा है कि स्कूल दो चरण में खोले जायेंगे। इसमें कोरोना प्रोटोकोल का सख्ती से अनुपालन होगा।

इस अंतिम निर्णय आपदा प्रबंधन समूह द्वारा लिया जाना है। आपदा चरणबद्ध रूप से खुलेंगी स्कूली कक्षाएं प्रबंधन समूह की बैठक शनिवार को होने वाली है। माना जा रहा है कि स्कूल चरणबद्ध रूप में खोले जायेंगे। पहले ऊंची कक्षाओं में पढ़ाई शुरू होगी। उसके बाद नीचे की कक्षाएं खुलेंगी। यह भी माना जा रहा है कि प्रतिदिन पचास फीसदी बच्चे ही स्कूल आयेंगे।

नये साल यानी वर्ष 2022 प्राइमरी स्कूलों से लेकर विश्वविद्यालयों के स्नातकोत्तर विभागों में कक्षाओं का संचालन बंद है। दरअसल, प्राइमरी स्कूलों से लेकर विश्वविद्यालयों तक में नये साल (वर्ष 2022) में पढ़ाई शुरू ही नहीं हो पायी है। प्राइमरी स्कूलों से लेकर विश्वविद्यालयों तक में गत 31 दिसंबर को इसलिए छुट्टी थी, क्योंकि उस दिन वर्ष 2021 विदा हो रहा था। उसके अगले दिन एक जनवरी को नये साल 2022 के स्वागत के लिए छुट्टी थी। दो जनवरी को रविवार था। सो, प्राइमरी स्कूलों से लेकर यूनिवर्सिटीज तक तीन जनवरी को खुलने वाले थे। लेकिन, कोरोना की तीसरी लहर से उत्पन्न स्थिति के मद्देनजर खुल नहीं पाये। कोरोना की तीसरी लहर से बचाव को लेकर पढ़ाई के लिए बंद कर दिये गये।

आपको याद दिला दूं कि राज्य में तकरीबन 43 हजार प्राइमरी स्कूल हैं, जिनमें 1 ली से 5वीं कक्षा की पढ़ाई होती है। 29 हजार मिडिल स्कूल हैं, जिनमें 1 ली से 8वीं कक्षा की पढ़ाई चलती है। 1ली से 8वीं की पढ़ाई वाले 108 गैरकारी (अल्पसंख्यक सहित) अनुदानित प्रारंभिक विद्यालय भी हैं। तकरीबन आठ हजार सेकेंडरी एवं प्लसटू स्कूल हैं, जिनमें क्रमश: 9वीं से 10वीं एवं 9वीं से 12वीं कक्षा की पढ़ाई होती है। रिजल्ट अनुदानित 715 प्रस्वीकृत एवं स्थापना की अनुमति प्राप्त विद्यालय हैं, जिनमें 9वीं से 10वीं कक्षा की पढ़ाई चलती है। रिजल्ट अनुदानित तकरीबन 600 इंटरमीडिएट कॉलेज हैं, जिनमें 11वीं एवं 12वीं कक्षा की पढ़ाई चलती है। इसके साथ ही तकरीबन 20 हजार प्राइवेट स्कूल हैं। साथ ही, हजारों कोचिंग इंस्टीच्यूट हैं । 12वीं कक्षा से ऊपर की बात करें, तो 13 पारंपरिक विश्वविद्यालयों के तहत " तकरीबन 262 अंगीभूत एवं 227 संबद्ध डिग्री कॉलेज हैं, जिनमें स्नातक की पढ़ाई होती है। इनमें कई अंगीभूत कॉलेज ऐसे भी हैं, जिनमें स्नातकोत्तर की भी पढ़ाई होती है।

इन 13 पारंपरिक विश्वविद्यालयों में पटना विश्वविद्यालय, पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय, वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय, मगध विश्वविद्यालय, जयप्रकाश विश्वविद्यालय, बीआरए बिहार विश्वविद्यालय, ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय, कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय, बीएन मंडल विश्वविद्यालय, पूर्णियां विश्वविद्यालय, तिलका मांझी भागलपुर विश्वविद्यालय, मुंगेर विश्वविद्यालय एवं मौलाना मजहरुल हक अरबी-फारसी विश्वविद्यालय हैं। चाणक्या नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी एवं आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय हैं । मोतिहारी एवं बोध गया में केंद्रीय विश्वविद्यालय हैं। राजेंद्र कृषि विश्वविद्यालय एवं बिहार कृषि विश्वविद्यालय हैं । आईआईटी एवं एनआईटी हैं। प्राइवेट यूनिवर्सिटी हैं, सो अलग।


Buy Amazon Product