बड़ी खबरें

78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी।78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी। राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी

शिक्षा विभाग के सचिव असंगबा चुबा आओ 80 हजार सरकारी स्कूलों के लिए अर्धवार्षिक परीक्षा से पहले जारी किया निर्देश

शिक्षा विभाग के सचिव असंगबा चुबा आओ 80 हजार सरकारी स्कूलों के लिए अर्धवार्षिक परीक्षा से पहले जारी किया निर्देश

सचिव के नेतृत्व में टीम घूम-घूम करती रही जांच। 

गया। जिले की शिक्षा व्यवस्था कैसी चल रही है, स्कूलों की स्थिति क्या है, योजनाओं की रफ्तार क्या है, इन तमाम चीजों की जांच-पड़ताल होती रही। बुधवार को शिक्षा विभाग की टीम सचिव असंगबा चुबा आओ के नेतृत्व में घूम-घूम कर जांच व समीक्षा करती रही। पटना से आयी अधिकारियों की टीम जिले के कई स्कूलों में जांच के लिए पहुंची। इस दौरान सचिव अधिकारियों को लगातार निर्देश देते रहे। अधिकारियों को सचिव का निर्देश: शिक्षा विभाग के सचिव और परियोजना निदेशक असंगबा चुबा आओ, राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी इमत्याज आलम, अपर राज्य स्कूलों का भ्रमण पटना से आयी शिक्षा विभाग की टीम जिले के अधिकारियों के साथ कई स्कूलों की जांच करने पहुंची।

यह भी पढ़ें - बरसों के बाद आखिरकार नियोजित शिक्षकों एवं पुस्तकालय अध्यक्षों को मिली खुशखबरी,615 करोड़ की हुई आवंटन सभी बकाया राशि का हो जाएगा भुगतान

 

टिकारी के मक्पा कस्तुरबा स्कूल, उ.उ.वि. केवाली नगर प्रखंड और जग्गूलाल हाई स्कूल कुजापी की जांच करने सचिव पहुंचे। इस दौरान सचिव, टॉयलेट से लेकर स्कूल की साफ- सफाई पर निर्देश देते रहे। वहीं अपर राज्य परियोजना निदेशक किरण कुमारी के नेतृत्व में मध्य विद्यालय खटका सहित कई विद्यालयों की जांच हुई। अपर राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी शाहिद मोबिन, जिला शिक्षा पदाधिकारी राजदेव राम, सहायक कार्यक्रम पदाधिकारी शिवशंकर प्रसाद सहित कई अधिकारियों की टीम अन्य स्कूलों की भी जांच होगी। 

यह भी पढ़ें - समान काम समान वेतन के साथ पुरानी पेंशन एवं राज्य कर्मी का दर्जा मिलेगा सीएम डिप्टी सीएम व शिक्षा मंत्री


स्कूलों का भ्रमण, पटना से आई टीम ने किया निरीक्षण। 

पटना से आयी शिक्षा विभाग की टीम जिले के अधिकारियों के साथ कई स्कूलों की जांच करने पहुंची। टिकारी के मक्या कस्तुरबा स्कूल. उ. उ. वि. केवाली नगर प्रखंड और जग्गूलाल हाई स्कूल कुजापी की जांच करने सचिव पहुंचे। इस दौरान सचिव, टॉयलेट से लेकर स्कूल की साफ-सफाई पर निर्देश देते रहे। वहीं छात्रों से भी रू- ब-रू होते रहे। जग्गू लाल हाई स्कूल कुजापी के छात्रों से किताब से लेकर ड्रेस सहित कई चीजों के बारे में जानकारी लेते रहे। वहीं अपर राज्य परियोजना निदेशक किरण कुमारी के नेतृत्व में मध्य विद्यालय खटका सहित कई विद्यालयों की जांच हुई। अपर राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी शाहिद मोबिन, जिला शिक्षा पदाधिकारी राजदेव राम, सहायक कार्यक्रम पदाधिकारी शिवशंकर प्रसाद सहित कई अधिकारियों की टीम अन्य स्कूलों की भी जांच की।

यह भी पढ़ें - 7th pay commission DA Hike: केंद्रीय कर्मचारियों के साथ राज्य कर्मी व शिक्षकों की बल्ले-बल्ले, महंगाई भत्ता बढ़ने की तारीख हुई तय, 4% पर लगी मुहर

डीपीओ का कोरोना चर्चा में। 

एक तरफ अधिकारियों की पूरी टीम जांच के लिए गया पहुंची थी, सारे अधिकारियों और कर्मचारियों की छुट्टी रद्द थी, तो दूसरी तरफ अचानक सर्व शिक्षा अभियान के डीपीओ असगर आलम खां के कोरोना संक्रमित होने की चर्चा होने लगी। जब डीईओ से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि डीपीओ ने आवेदन दिया है। वे बीमार हैं। स्वस्थ होते ही काम पर आ जाएंगे।

यह भी पढ़ें - नियोजित शिक्षकों के पुरानी पेंशन योजना के साथ-साथ वेतनमान हो सकेगा लागू

फर्जी डिग्री वालों की बर्खास्तगी की कार्रवाई शुरू। 

मुजफ्फरपुर | अमान्य डिग्री के साथ ही फर्जी टीईटी पर बहाल शिक्षकों की कार्य अवधि के वेतन भुगतान को लेकर जिला स्तर पर कार्यवाही शुरू की गई है। डीपीओ स्थापना प्रफुल्ल कुमार मिश्र ने सभी बीईओ को इस संबंध में बुधवार को निर्देश दिया है। उपस्थिति पंजी साक्ष्य के साथ मांगी है। इसके साथ ही ऐसे शिक्षकों की बर्खास्तगी को लेकर भी कार्रवाई शुरू की है। डीपीओ स्थापना ने सभी बीईओ से इन शिक्षकों को हटाने को लेकर अब तक की गई कार्यवाही की दो दिन के अंदर साक्ष्य के साथ रिपोर्ट मांगी है। बता दें कि जिले में 128 शिक्षकों की सूची सौंपी गई है। डीपीओ स्थापना ने बताया कि अपर मुख्य सचिव ने निर्देश दिया है कि किसी प्रकार की अनियमितता या अमान्य संस्था की डिग्री पर बहाल नियोजित शिक्षकों की कार्य अवधि का वेतन भुगतान किया जाना है


Buy Amazon Product