बड़ी खबरें

नियोजित शिक्षकों के कालबद्ध प्रोन्नति के लिए स्थापना ले नियोजन इकाई से मांगी शिक्षकों की सूचीनियोजित शिक्षकों के कालबद्ध प्रोन्नति के लिए स्थापना ले नियोजन इकाई से मांगी शिक्षकों की सूची राज्य के लाखों नियोजित शिक्षकों के लिए सबसे बड़ी खबर आखिरकार मिल ही गया समय अत्यंत खुशी कि लहरराज्य के लाखों नियोजित शिक्षकों के लिए सबसे बड़ी खबर आखिरकार मिल ही गया समय अत्यंत खुशी कि लहर सरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी आठवें वेतन आयोग पर बड़ी खबर बढ़ेगी सैलरी अब होंगे 95 हजार वेतनसरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी आठवें वेतन आयोग पर बड़ी खबर बढ़ेगी सैलरी अब होंगे 95 हजार वेतन 80 हजार सरकारी स्कूलों के शिक्षकों के लिए अपर मुख्य सचिव ने जारी किया निर्देश अब ऐसे कटेंगे वेतन  इसे जल्द कर ले80 हजार सरकारी स्कूलों के शिक्षकों के लिए अपर मुख्य सचिव ने जारी किया निर्देश अब ऐसे कटेंगे वेतन इसे जल्द कर ले शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने जारी किया निर्देश 15 नवंबर तक हर हाल में सरकारी स्कूल के शिक्षक कर ले अन्यथा विधि सम्मत होगी कार्यवाही पत्र हुआ जारीशिक्षा विभाग के अधिकारियों ने जारी किया निर्देश 15 नवंबर तक हर हाल में सरकारी स्कूल के शिक्षक कर ले अन्यथा विधि सम्मत होगी कार्यवाही पत्र हुआ जारी राज्य के शिक्षा मंत्री का बड़ा ऐलान कल से सभी सरकारी स्कूल में हो गए लागू शिक्षक को मिला आरामराज्य के शिक्षा मंत्री का बड़ा ऐलान कल से सभी सरकारी स्कूल में हो गए लागू शिक्षक को मिला आराम

हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित

हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित

बच्चों से किताब ढुलवाने के मामले में हनुमाननगर और नारायणपुर मिडिल स्कूल के दौ हेडमास्टर हुए निलंबित, बीईओ से जवाब-तलब
समस्तीपुर।
जिले के मोहिउद्दीननगर में चहक कार्यक्रम के दौरान विभाग द्वारा उपलब्ध कराई गई पुस्तक स्कूल के छात्रों से दुलवाये जाने के मामले में दो हेड मास्टरों को जिला शिक्षा पदाधिकारी मदन राय ने निलंबित कर दिया है। वहीं बीईओ से इस मामले जवाब-तलब किया है। मोहिउद्दीननगर में स्कूल के छोटे-छोटे बच्चों से किताब ढुलवाए जाने के मामले में जिला शिक्षा पदाधिकारी एक्शन में है। जिला शिक्षा पदाधिकारी ने इस मामले में  खबर पर एक्शन लेते हुए हनुमान नगर मिडिल स्कूल नारायणपुर मिडिल स्कूल के हेड मास्टर सुरेश पासवान को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। इसके अलावा उन्होंने इस मामले में मोहिउद्दीननगर के प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी से जवाब तलब किया। डीईओ ने कहा है कि प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी 2 दिनों के अंदर अपनी वस्तु स्थिति स्पष्ट नहीं करते हैं तो उन पर विभागीय कार्रवाई शुरू की जाएगी। छोटे-छोटे बच्चों से किताब दुलवाया जाना गैर कानूनी है, विभाग इसे बर्दाश्त नहीं करेगा।

यह भी पढ़ें - 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी

किताब लाने में बच्चों का उपयोग किया गया, जो नियम के विरुद्ध है
बालश्रम कानून का उल्लंघन

गौरतलब है कि शुक्रवार को मोहिउद्दीननगर बीआरसी से हनुमान नगर और नारायणपुर मिडिल स्कूल के बच्चों से शिक्षकों की उपस्थिति में बीआरसी से स्कूल तक करीब 1 किलोमीटर किताब दुलवाया गया था किताब दुलवाए जाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था । वहीं इस मामले को प्रमुखता से उठाया था। मोहिउद्दीननगर बीआरसी को चहक कार्यक्रम के तहत किताब उपलब्ध कराई गई थी। किताब को बीआरसी से स्कूल लाने तक के लिए वाहनों का प्रयोग किया जाना था लेकिन स्कूल प्रशासन द्वारा किताब लाने में बच्चों का उपयोग किया गया जो नियम के विरुद्ध है।

यह भी पढ़ें - मुख्यमंत्री का कार्यालय बिहार सरकार (जनसंपर्क कोपांग) से शिक्षकों के लिए प्रेस विज्ञप्ति जारी हो गई आखिरकार शिक्षकों को मिल ही गया

बीईओ की जांच में एलिफैंट का स्पेलिंग नहीं बता सके

भगवानपुर हाट। प्रखंड क्षेत्र के सहसरांव पंचायत के उत्क्रमित मिडिल स्कूल सोनवर्षा में मध्याह्न भोजन (एमडीएम) में अनियमितता बरते जाने की शिकायत की बीईओ ने शनिवार को जांच की। इसे लेकर शनिवार को  मध्याह्न भोजन नहीं मिलने पर लोगों ने विरोध जताया शीर्षक से प्रमुखता से खबर छपी थी। शुक्रवार को मेन्यू के अनुसार एमडीएम नहीं मिलने तथा शिक्षकों द्वारा स्कूल में सही ढंग से पठन-पाठन नहीं कराने पर अभिभावकों ने स्कूल में पहुंचकर अपना विरोध जताया था। इसपर संज्ञान लेते हुए बीईओ रीता कुमारी ने शनिवार को स्कूल में पहुंचकर इसकी जांच की उन्होंने इस मामले में ग्रामीणों की शिकायतें भी सुनीं। बीईओ के स्कूल में पहुंचने पर शिक्षकों में हड़कंप मच गया। उन्होंने मध्याह्न भोजन को लेकर बच्चों से भी पूछताछ की। जांच के दौरान उन्होंने बारी-बारी से संचालित हो रहे वर्ग कक्षों में पहुच कर बच्चों से पठन-पाठन के बारे में जानकारी दी।

यह भी पढ़ें - शिक्षकों व प्रधानाध्यापकों के वेतन को 12.58 अरब जारी 15% वेतन बढ़ोतरी एरियर के साथ होगा भुगतान

डांटने पर गुस्साए छात्र ने प्रधानाचार्य को गोली मारी

सीतापुर। सदरपुर थाना क्षेत्र के आदर्श रामस्वरूप इंटर कॉलेज जहांगीराबाद के प्रधानाचार्य पर 12वीं के छात्र ने फायर झोक दिया। छात्र ने तीन राउंड फायरिंग की, जिसमें दो गोली प्रधानाचार्य को लगी हैं। गंभीर रूप से घायल प्रधानाचार्य को लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है। आरोपी छात्र फरार है। घटना शनिवार की सुबह करीब सात बजे की है। रेउसा थानाक्षेत्र के भागूपुरवा मजरा रेवान निवासी छात्र गुरविंदर सिंह पुत्र जगविन्दर सिंह सुबह कॉलेज खुलते ही प्रधानाचार्य को जान से मार डालने की नियत से बस्ता लेकर पहुंच गया। उस समय प्रधानाचार्य राम सिंह वर्मा निवासी दानपुरवा मजरा जहांगीराबाद विद्यालय में निर्माणाधीन दुकानों व भवन का निरीक्षण कर रहे थे। गुरविंदर सिंह हाथ में तमंचा लेकर वहां पहुंच गया और प्रधानाचार्य पर। फायर झोक दिया।

यह भी पढ़ें - शिक्षक नियुक्ति में फंसा पेच अब शिक्षकों को मिलेगी सीधा सेवा में प्रोन्नति

प्रधानाचार्य रामसिंह वर्मा बचने के लिए कार्यालय की ओर भागे, लेकिन आरोपी ने पीछे से कई राउंड फायर किए जिसमें दो गोली प्रधानाचार्य के कमर के पास लगीं। इसी बीच छात्र ने तमंचे के बट से प्रधानाचार्य के सिर पर भी वार किया। मौके पर मौजूद छात्रों ने प्रधानाचार्य को बचाने का प्रयास किया इसी बीच आरोपी छात्र फरार हो गया। सूचना मिलते ही परिवारीजन तथा भारी चाकk संख्या में छात्र और अभिभावक इकठ्ठा हो गये। घटना की सूचना पाकर 112 डायल तथा सदरपुर थाने की पुलिस पहुंची। गंभीर हालत में प्रधानाचार्य को परिजन निजी वाहन से बिसवां सीएससी ले गए, जहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। जिला अस्पताल से भी प्राथमिक उपचार के बाद प्रधानाचार्य को लखनऊ भेजा गया है।

विवाद पर छात्र को फटकार लगाई थी

12वीं के छात्र गुरविंदर सिंह और रोहित मौर्य के बीच किसी बात को लेकर शुक्रवार को विवाद हुआ था। उस विवाद में गुरविंदर ने रोहित की पिटाई कर दी थी, जिससे प्रधानाचार्य ने उसे डांट फटकार लगाई थी। इससे गुरविंदर सिंह काफी नाराज था । बताया जाता है कि शनिवार सुबह जब वह स्कूल पहुंचा तो उसने सबसे पहले बस्ता कक्षा में रख दिया और प्रधानाचार्य की तलाश करने लगा। जब वह नहीं मिले तो पास ही स्थित उन्हें खेत पर तलाश करने गया लेकिन वह खेत से जा चुके थे। जिस पर वह कॉलेज लौट आया और घटना को अंजाम दिया।


Buy Amazon Product