बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

पंचायत चुनाव से पहले महिला शिक्षकों के लिए आ गई बड़ी खबर, जिससे डरते थे वही बात हो गई।

पंचायत चुनाव से पहले महिला शिक्षकों के लिए आ गई बड़ी खबर, जिससे डरते थे वही बात हो गई।

पटना। पंचायत चुनाव में महिला शिक्षक भी ड्यूटी बजायेंगी।
ड्यूटी बजाने के लिए महिला शिक्षकों की ट्रेनिंग शुरू हो गयी है। ऐसे महिला शिक्षकों की पहली ट्रेनिंग हो चुकी है। अब, दूसरी ट्रेनिंग की बारी है। पुरुष शिक्षकों की तरह ही महिला शिक्षकों की ड्यूटी भी उनके ओहदे के हिसाब से लगी है। यानी, जिनका वेतन जितना ज्यादा, उनका ओहदा उतना ऊंचा। खासकर पंचायतीराज एवं नगर निकाय महिला शिक्षकों की बात करें, तो ड्यूटी के लिए उन्हें नियुक्ति पत्र पोलिंग ऑफिसर के रूप में मिले हैं। पोलिंग ऑफिसर की तीन श्रेणियां हैं । पोलिंग ऑफिसर वन, पोलिंग ऑफिसर-टू एवं पोलिंग ऑफिसर थ्री । ओहदे के अनुसार इन्हीं श्रेणियों की पोलिंग ऑफिसर के रूप में पंचायतीराज एवं नगर निकाय महिला शिक्षक ड्यूटी बजायेंगी।

यह भी पढ़ें - शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव ने आरडीडीई, डीईओ व डीपीओ को भेजा पत्र लेनी होगी अनुमति।

आपको याद दिला दूं कि पंचायत चुनाव का पहला चरण 24 सितंबर को, दूसरा चरण 29 सितंबर को, तीसरा चरण आठ अक्तूबर को, चौथा चरण 20 अक्तूबर को, पांचवां चरण 24 अक्तूबर को, छठा चरण तीन नवम्बर को, सातवां चरण 15 नवम्बर को, आठवां चरण 24 नवम्बर को, नौवां चरण 29 नवम्बर को, 10वां चरण आठ दिसंबर को एवं 11वां चरण 12 दिसंबर को है।  पटना जिले की बात करें, तो जिले में दूसरे चरण से पंचायत चुनाव शुरू होगा। दूसरे चरण में पालीगंज, तीसरे चरण में नौबतपुर एवं विक्रम, चौथे चरण में दुल्हिन बाजार एवं बिहटा पांचवें चरण में धनरुआ, खुसरूपुर एवं सम्पतचक, छठे चरण में पुनपुन एवं मसौढ़ी, सातवें चरण में फुलवारीशरीफ, दनियावां एवं पटना सदर, आठवें चरण में बाढ़ एवं पंडारक, नौवें चरण में फतुहा एवं बख्तियारपुर, 10वें चरण में घोसवरी, अथमलगोला, मोकामा एवं बेलछी तथा 11वें चरण में मनेर एवं दानापुर प्रखंडों के पंचायतों के लिए वोट पड़ने हैं।

यह भी पढ़ें - राज्य के शिक्षा मंत्री ने लिया बड़ा संज्ञान BEO को किया सस्पेंड जान ले पूरी माजरा क्या है?

मतदानकर्मियों की ट्रेनिंग के लिए राजधानी के आठ स्कूल प्रशिक्षण केंद्र में तब्दील हैं। इनमें शहीद राजेंद्र प्रसाद सिंह राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय (पटना हाई स्कूल), गर्दनीबाग राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय, कमला नेहरू बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय, शास्त्रीनगर राजकीय बालक उच्च माध्यमिक विद्यालय, शास्त्रीनगर राजकीय कन्या उच्च माध्यमिक विद्यालय, के. बी. सहाय उच्च माध्यमिक विद्यालय, राजेंद्रनगर राजकीय बालक उच्च माध्यमिक विद्यालय एवं बी. एन. कॉलेजियेट उच्च माध्यमिक विद्यालय शामिल हैं। हालांकि, इनमें से शहीद राजेंद्र प्रसाद सिंह राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय (पटना हाई स्कूल) में सोमवार से ट्रेनिंग इसलिए नहीं होगी, क्योंकि डीईएलएड की परीक्षा है।

यह भी पढ़ें - शिक्षा मंत्रालय ने सभी राज्यों को जरूरी कदम उठाने के दिए निर्देश पत्र हुआ जारी।

एसबीआई ने ग्राहकों को किया अलर्ट।
नयी दिल्ली। डिजिटल ट्रांजैक्शन के बढ़ते चलन के साथ साइबर ठगी के मामले भी बढ़ रहे हैं. ऐसे समय में अगर आपसे एक भी गलती हुई और आप OSBI चूके तो साइबर ठग आपका पूरा अकाउंट खाली कर देंगे. इसी बीच देश के सबसे बड़े सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक एसबीआई ने समय समय पर अपने ग्राहकों को इन फॉडर्स से बचने के तरीके बताए हैं. एसबीआई ने फर्जी कस्टमर | केयर नंबर को लेकर एक अलर्ट भी जारी किया है. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट पर हाल ही में एक ट्वीट कर अपने ग्राहकों को फेक कस्टमर केयर को लेकर अलर्ट जारी किया है. एसबीआई ने अपने ट्वीट में लिखा कि फर्जी कस्टमर केयर नंबरों से सावधान रहें। ट्वीट में आगे कहा गया कि सही कस्टमर केयर नंबर के लिए एसबीआई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

यह भी पढ़ें - राज्य के प्रारंभिक विद्यालयों में प्रधानाध्यापक की बहाली के लिए फिर नया नियम लागू हो सकता है।

इसके अलावा गोपनीय बैंकिंग जानकारी किसी के साथ शेयर ना करें। एसबीआई ने बताया कि अगर आपके साथ भी ऐसा कुछ हुआ है तो तुरंत उसकी शिकायत करें. बैंक ने एक वीडियो शेयर अपने ग्राहकों को समझाया है कि कैसे साइबर ठग आपकी एक गलती का इंतजार करते हैं और आपके बैंक अकाउंट के लिए खतरनाक हो सकते हैं. बैंक ने बताया कि किसी भी तरह की धोखाधड़ी के लिए रिपोर्ट.फिसिंग एट द रेट एसबीआई. कॉम. ईन पर अपनी शिकायत दर्ज करें या फिर साइबर क्राइम हेल्पलाइन नंबर 155260 पर कॉल करें। बता दें कि फर्जी कस्टमर केयर नंबर पर कॉल करने से फॉडर्स आपके बैंक अकाउंट को खाली कर सकते हैं. फोन पर साइबर ठग आपसे आपकी निजी जानकारी जैसे नाम, पता, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, खाता नंबर, डेबिट कार्ड नंबर और ओटीपी मांगते हैं. इसके बाद चुटकी में आपका अकाउंट खाली हो जाता है।


Buy Amazon Product