बड़ी खबरें

राज्य के प्रारंभिक शिक्षकों के वेतन के लिए 914 करोड़ रुपए हो गए जारी नए वेतन में अब कितना बढ़कर मिलेगा जान ले।राज्य के प्रारंभिक शिक्षकों के वेतन के लिए 914 करोड़ रुपए हो गए जारी नए वेतन में अब कितना बढ़कर मिलेगा जान ले। नई नीति के तहत स्कूली पाठ्यक्रम को नए ढांचे में गढ़ने की तैयारी शिक्षकों को ऐसा करना होगा? नई नीति के तहत स्कूली पाठ्यक्रम को नए ढांचे में गढ़ने की तैयारी शिक्षकों को ऐसा करना होगा?  पप्पू यादव की ‘दहाड़’, कहा- नित्यानंद राय और तेजस्वी को चुल्लू भर पानी में डूब मर जाना चाहिए, जानें पूरा मामला पप्पू यादव की ‘दहाड़’, कहा- नित्यानंद राय और तेजस्वी को चुल्लू भर पानी में डूब मर जाना चाहिए, जानें पूरा मामला शिक्षकों के ग्रेड पे में हुआ बड़ा बदलाव, नियोजित शिक्षक फिर किए दक्षता परीक्षा की मांग।शिक्षकों के ग्रेड पे में हुआ बड़ा बदलाव, नियोजित शिक्षक फिर किए दक्षता परीक्षा की मांग।  महागठबंधन में दरार, कांग्रेस से पीछा छुड़ाने की फिराक में राजद! महागठबंधन में दरार, कांग्रेस से पीछा छुड़ाने की फिराक में राजद! प्रशिक्षित नियोजित शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग के प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने वेतन निर्धारण को लेकर जारी किया निर्देश पत्र हुआ जारी।प्रशिक्षित नियोजित शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग के प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने वेतन निर्धारण को लेकर जारी किया निर्देश पत्र हुआ जारी।

साप्ताहिक आधार पर कीमतों में बदलाव अब हर हफ्ते तय होगें LPG सिलेंडर के दाम; सरकार कर सकती है ऐलान

साप्ताहिक आधार पर कीमतों में बदलाव अब हर हफ्ते तय होगें LPG सिलेंडर के दाम; सरकार कर सकती है ऐलान

देश में अगले साल की शुरुआत मंथ से रसोई गैस सिलेंडर के दाम हर हफ्ते तय हो सकते हैं। फिलहाल ये दाम मासिक आधार पर तय होते हैं। पेट्रोलियम पदार्थों के दामों में हर रोज होने वाले उतार-चढ़ावों को देखते हुए पेट्रोलियम कंपनियां अब साप्ताहिक आधार पर कीमतों में बदलाव का प्लान कर रही हैं। तेल कंपनियों का कहना है कि ऐसा करने से कंपनी और ग्राहक दोनों को फायदा है।

सरकार से चल रही है बातचीत

तेल कंपनियों के मुताबिक, कंपनियों की तरफ से इसका प्रस्ताव केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय (MOPNG) के पास भेज दिया गया है। वहां इस प्रस्ताव पर बातचीत चल रही है। जल्द ही इस पर फैसला लिया जा सकता है। बता दें कि पेट्रोल-डीजल के दाम रोजाना तय किए जाते हैं। जिससे तेल के दामों में कोई बदलाव होने पर पेट्रोलियम कंपनियां उसे आसानी से रोज समायोजित कर लेती हैं। लेकिन रसोई गैस के दाम मासिक आधार पर तय होने की वजह से कंपनियों को पूरे महीने तक नुकसान को उठाना पड़ता है। इसके चलते कंपनियां काफी समय से कीमतों में बदलाव के तरीकों पर विचार कर रही थी।

दिसंबर में दो बार दाम बढ़ा चुकी हैं पेट्रोलियम कंपनियां

तेल कंपनियों के अधिकारियों के मुताबिक, यह प्लान कंपनियों को हो रहे घाटे को कम करने के लिए बनाया गया है। हर महीने समीक्षा के दौरान अगर रेट्स में कटौती होती थी तो कंपनियों को पूरे महीने नुकसान उठाना पड़ता था। वहीं, इस नई व्यवस्था के जरिए कंपनियों को काफी राहत मिलने की उम्मीद की जा रही है। बता दें दिसंबर महीने में दो बार गैस सिलेंडर के रेट्स में इजाफा हुआ है। इसे देखते हुए एलपीजी के वितरकों का कहना है कि अब हर सप्ताह एलपीजी सिलेंडर की कीमत में बदलाव होगा।


Buy Amazon Product