बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कर्मचारियों के साथ शिक्षकों के लिए दिया खुशखबरी एक मुफ्त होगा डीए का भुगतान

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कर्मचारियों के साथ शिक्षकों के लिए दिया खुशखबरी एक मुफ्त होगा डीए का भुगतान

पटना। बिहार के सरकारी कर्मचारियोंपेशनभोगियों के लिए अच्छी खबर है। सूबे के सभी सरकारी सेवकोंग्मेशनभोगियों को महंगाई भत्ता एकमुश्त अक्टूवर माह में दिया जाएगा। इस संबंध में वित्त विभाग ने आदेश जारी कर दिया है। 1 जुलाई 2021 से बढ़ी हुई दर से महंगाई भत्ता के तहत जुलाई एवं अगस्त महीने के बकाये राशि का एकमुश्त भुगतान अक्टूबर माह में किया जाएगा। राज्य सरकार ने 28 फीसदी की दर से महंगाई भत्ता देने की स्वीति दी है। जिसमें बढ़ी हुई दर से महंगाई भत्ता का भुगतान सितंबर 2021 के वेतन पेंशन में जोड़ कर दिए जाने का प्रावधान किया गया था। राज्य सरकार ने विचार के वाद निर्णय लिया है कि 1 जुलाई 2021 से बढ़ी हुई दर से महंगाई भत्ता के माह जुलाई 2021 एवं अगस्त 2021 के वकाए राशि का एकमुश्त भुगतान अक्टूवर माह में किया जाएगा।

यह भी पढ़ें - शिक्षा शोध एवं प्रशिक्षण परिषद के निर्देशक विजय कुमार हिमांशु ने DEO के साथ शिक्षकों के लिए जारी कर दिया निर्देश।

प्रमाणपत्रों की जांच के बाद ही चयनितों को नियुक्ति पत्र

विभाग तैयारी में जुटा, प्रक्रिया में तेजी का दिया गया आदेश

• 94 हजार प्रारंभिक शिक्षकों की बहाली में गति लाने के निर्देश

• 11 सौ नियोजन इकाइयों में अगले सप्ताह से दस हजार अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग

पटना। पटना हाईकोर्ट के आदेश पर शिक्षा विभाग ने 94 हजार प्रारंभिक शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया में तेजी लाने का आदेश सभी जिलों को दिया है। प्रमाण पत्रों की जांच के बाद चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र दिया जाएगा, इसकी तैयारी विभाग के स्तर पर हो रही है।

यह भी पढ़ें - राज्य कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों के लिए खुशखबरी अक्टूबर में मिलेगा 2 महीनों का महंगाई भत्ता बढ़ेगी सैलरी।

विभिन्न कारणों से जिन 11 सौ नियोजन इकाइयों में काउंसिलिंग रद की गई थी, उन इकाइयों में अगले सप्ताह से तकरीबन दस हजार शिक्षक अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग शुरू होगी। इसके लिए प्राथमिक शिक्षा निदेशालय की ओर से काउंसिलिंग की शिड्यूल जल्द जारी किया जाएगा। पहले चरण में उन इकाइयों के लिए काउंसिलिंग हुई, जिनमें छूटे हुए दिव्यांग अभ्यर्थियों के आवेदन नहीं पड़े थे। दूसरे चरण में उन इकाइयों के लिए में काउंसलिंग हुई, जिनमें छूटे हुए दिव्यांग अभ्यर्थियों के आवेदन पड़े थे। पहले चरण की काउंसिलिंग गत पांच जुलाई से शुरू होकर 12 जुलाई तक हुई। इससे इतर दूसरे चरण की काउंसिलिंग गत दो अगस्त से शुरू होकर 13 अगस्त तक चली। दोनों चरण की काउंसिलिंग में शिक्षक पद के लिए चयनित अभ्यर्थियों की सूची संबंधित जिलों के एनआइसी पर अपलोड किये जा चुके हैं।

यह भी पढ़ें - बड़ी खुशखबरी: प्रारंभिक नियोजित शिक्षकों के वेतन को 836 करोड़ जारी, राशि मिली या नहीं पोर्टल से होगी मॉनिटरिंग।

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार के मुताबिक सबसे पहले वैसे सर्टिफिकेट जिनका सत्यापन बिहार विद्यालय परीक्षा समिति से किया जाना है, को संकलित कर एक पदाधिकारी को नामित करते हुए संबंधित बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के क्षेत्रीय कार्यालय से सत्यापन कराया जाना है। इसके साथ ही वैसे सर्टिफिकेट, जिनका सत्यापन विश्वविद्यालयों से किया जाना है, के सत्यापन के लिए प्रमाण पत्रों को विश्वविद्यालयवार संकलित करते हुए विशेष दूत के माध्यम से की जानी है, ताकि अभ्यर्थियों के सभी प्रमाण पत्र का सत्यापन शीघ्रातिशीघ्र पूरा हो सके। नियुक्ति हेतु जाति, आवासीय प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र आदि का सत्यापन भी किया जाना है।


Buy Amazon Product