बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

सीएम नीतीश कुमार नए साल में नियोजित शिक्षकों को वेतन बढ़ोतरी के साथ दिया खुशियों का सौगात

सीएम नीतीश कुमार नए साल में नियोजित शिक्षकों को वेतन बढ़ोतरी के साथ दिया खुशियों का सौगात

शिक्षा विभाग में होगी बंपर बहाली, शिक्षकों का वेतन बढ़ेगा

 

■ नियुक्तिपत्र वितरण समारोह में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने की घोषणा

■ कहा- बिहार में शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी काम हुआ है

पटना के ज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रीय शिक्षा पुरस्कार पाने वाली निशि कुमारी को सम्मानित करते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार साथ में उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव, मंत्री विजय कुमार चौधरी व अन्य।

पटना। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घोषणा की है कि शिक्षा विभाग में बड़े पैमाने पर शिक्षकों और अन्य पदों पर बहाली होगी। इसकी तैयारी चल रही है। शिक्षकों से अपील की कि पूरे मन से बच्चों को पढ़ाएं। आपलगों का आगे भी समय-समय पर वेतन राज्य सरकार बढ़ाएगी। मुख्यमंत्री शनिवार को उच्च माध्यमिक विद्यालय के 369 प्रधानाध्यापक, जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थानों के 37 व्याख्याता, पटना विवि एवं मौलाना मजहरुल हक विवि के 17 सहायक प्राध्यापक एवं राजकीय अभियंत्रण महाविद्यालयों के 139 सहायक प्राध्यापकों के नियुक्ति-पत्र वितरण कार्यक्रम में यह बात कही।

यह भी पढ़ें - 26 जनवरी 2023 के सभी प्रारंभिक विद्यालयों में हो गए नए नियम लागू सभी सरकारी स्कूलों में लगेंगे टीवी चैनलों से होगी पढ़ाई

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी काम हुआ है। पहले लड़कियां इंजीनियरिंग कॉलेजों में कम पढ़ती थीं। अब बड़ी संख्या में लड़कियां इंजीनियरिंग कॉलेजों में पढ़ाई कर रही हैं। बिहार में बिहार लोक सेवा आयोग, बिहार कर्मचारी चयन आयोग, तकनीकी सेवा आयोग, बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग, केंद्रीय चयन पर्षद (सिपाही भर्ती), बिहार राज्य विश्वविद्यालय सेवा आयोग का गठन कर विभिन्न पदों पर बहाली की जाती है। वर्ष 2022- 23 में 51 हजार करोड़ से ज्यादा शिक्षा के क्षेत्र में खर्च किया जा रहा है। आगे और अधिक खर्च करेंगे। हमने बिहार कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से पढ़ाई की है। जब केंद्र सरकार में श्रद्धेय अटल जी की सरकार थी तो हमने उनसे आग्रह करके इसे एनआईटी बनवाया। हमारे अनुरोध पर ही पटना में आईआईटी बनाया गया।

यह भी पढ़ें - शिक्षकों के ऐच्छिक स्थानांतरण का रास्ता साफ बरसों से इंतजार की घड़ी हुई खत्म जनवरी के प्रथम सप्ताह में सूची जारी की जाएगी

धैर्य रखें, हर वादा पूरा करेंगे : तेजस्वी यादव

नियुक्ति पत्र वितरण के दौरान उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि राज्य में महागठबंधन की सरकार राज्य के विकास और युवाओं-गरीबों के उत्थान के लिए दिन-रात काम कर रही है। महागठबंधन सरकार अपना हर वादा पूरा करेगी, इसके लिए धैर्य रखें। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में हर एक काम किया जा राह है। कहा कि केंद्र सरकार से हमलोगों की मांग रही है कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिले, विशेष पैकेज मिले, पर इस पर कोई विचार नहीं किया जा रहा है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल किया कि वर्ष 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने की घोषणा का क्या हुआ, बताएं? हर साल दो करोड़ की नौकरी देने का ऐलान करने वाली केंद्र आठ सालों में कितनों को नौकरी दिया, बताए। कहा कि पिछड़ा और गरीब राज्य होने के बावजूद बिहार सरकार युवाओं को बड़ी संख्या में सरकारी नौकरी और रोजगार के साधन मुहैया करा रही है। यह भी कहा कि इतिहास को बदलने की कोशिश केंद्र द्वारा की जा रही है, जिसे हमलोग कभी नहीं होने देंगे। मौके पर वित्त मंत्री विजय कुमार चौधरी, शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर, मंत्री सुमित कुमार सिंह, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी और शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह ने अपनी बात कही।

यह भी पढ़ें - प्रारंभिक विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों को MACP 2010 के प्रभाव से लागू मिली वित्तीय उन्नयन की लाभ वेतन में होगी वृद्धि

पांच से जाएंगे यात्रा पर, लोगों की समस्याएं जानेंगे: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम राज्य के विभिन्न जगहों पर पांच जनवरी से यात्रा पर जा रहे हैं। लोगों के बीच जाकर देखेंगे कि बिहार में जो काम हुआ है वो कितना प्रभावी है। लोगों की क्या समस्याएं हैं, उन्हें हम जानने का प्रयास करेंगे और उसे दूर करने की दिशा में कार्य करेंगे। हम एक-एक चीज को जाकर देखेंगे। सड़क, पुल, पुलिया, भवन सभी चीजों को मेंटेन रखना है, उसे भी देखेंगे। अगर गरीब-गुरबा को किसी प्रकार की परेशानी है तो उसे भी जानेंगे।

शाम के बाद पहले लोग बाहर नहीं निकलते थे, अब रात में भी घूमते हैं

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि पहले शाम के बाद लोग घर से बाहर नहीं निकलते थे। आज देर शाम के बाद लोग आराम से घूमते हैं। कानून व्यवस्था का हमलोग पूरा ख्याल रखते हैं। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने 'बंगलेश शनिवार, सुरक्षित शनिवार' का वीडियो जारी किया। मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार पाने वाली शिक्षिका निशी कुमारी और शिक्षक सौरभ सुमन को सम्मान पत्र, स्मृति चिन्ह, अंगवस्त्र एवं तीस हजार का चेक प्रदान कर सम्मानित किया।


Buy Amazon Product