बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग ने फिर किया नियम में बदलाव : अपर मुख्य सचिव संजय कुमार।

शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग ने फिर किया नियम में बदलाव : अपर मुख्य सचिव संजय कुमार।

स्कूल शिक्षकों की भर्ती के लिए बनेगा एजुकेशन रिकूटमेंट बोर्ड, अब बाहर हो जाएंगे मुखिया जैसे चुने हुए जनप्रतिनिधिलेकिन, नियोजन इकाई पंचायत और नगर निकाय ही होंगे।
हाईस्कूलों में 2022 में सातवें चरण की शिक्षक बहाली की चयन प्रक्रिया में स्थानीय जनप्रतिनिधियों की भूमिका नहीं रहेगी। स्कूली शिक्षकों की बहाली के लिए शिक्षक रिक्यूमेंट बोर्ड बनेगा मुखिया, पंचायत समिति प्रमुख, जिला परिषद अध्यक्ष और नगर परिषद अध्यक्ष जैसे जनप्रतिनिधियों की शिक्षक बहाली में भूमिका नहीं होगी। ये चयन समिति और प्रक्रिया से बाहर रहेंगे। शिक्षा विभाग इसके लिए नियमावली में बदलाव कर रहा है। अगले चरण की शिक्षक बहाली अब शिक्षक रिक्यूमेंट बोर्ड के माध्यम से होगी। शिक्षा विभाग नए साल में शुरू होने वाली सातवें चरण की हाई स्कूल शिक्षकों की बहाली प्रक्रिया से बदलाव को लागू करने की तैयारी में है।

आवेदन की प्रक्रिया में भी बदलाव होगा।
सातवें चरण में हाईस्कूलों में लगभग 40 हजार शिक्षकों की बहाली होगी। अभी हाईस्कूलों में छठे चरण के तहत 32714 शिक्षकों की बहाली प्रक्रिया चल रही है। अगले साल जनवरी तक छठे चरण की बहाली पूरी होने की संभावना है। छठे चरण में जो पद रिक्त रह जाएंगे, उसे भी सातवें चरण में शामिल कर दिया जाएगा। आवश्यकता होने पर उच्च व उच्चतर माध्यमिक शिक्षक बहाली नियमावली 2020 में भी संशोधन किया जा सकता है।
ऑनलाइन लिए जाएंगे आवेदन।
सातवें चरण में बहाली के लिए अभ्यर्थियों से केंद्रीयकृत (सेंट्रलाइज) तरीके से ऑनलाइन आवेदन लिए जाएंगे। उच्च और उच्चतर माध्यमिक स्कूलों में 37447 शिक्षकों की बहाली के लिए 2019 एसटीईटी ऑनलाइन परीक्षा ली गई थी। 2021 में जारी रिजल्ट में 80402 अभ्यर्थी क्वालिफायड हुए। एसटीईटी 2011 में उत्तीर्ण 16196 वैसे अभ्यर्थी जो छठे चरण में चयनित होकर शिक्षक नहीं बन सकेंगे, वे सातवें चरण की बहाली में शामिल हो सकेंगे।

प्रक्रिया में बदलाव क्यों?
शिक्षा विभाग तैयारी कर रहा है कि शिक्षकों के चयन में किसी प्रकार का विवाद और शिकायत नहीं रहे। अभी जो चयन की प्रक्रिया है, उसमें अलग-अलग नियोजन इकाई के माध्यम से सूची और चयन की प्रक्रिया पूरी की जाती है। इस माध्यम से कई बार योग्य अभ्यर्थी भी चयन से से वंचित रह जाते हैं।
इस प्रकार कोई विवाद न पैदा हो।
शिक्षक बहाली के लिए अलग भर्ती बोर्ड बनेगा विवाद को दूर करने के लिए सेंट्रलाइज तरीके से आवेदन लिए जाएंगे। नियोजन इकाई तो पंचायत व नगर निकाय होंगे, लेकिन इसके जनप्रतिनिधि चयन प्रक्रिया से अलग रहेंगे। हाईस्कूलों में अगले साल होने वाली शिक्षक चयन प्रक्रिया बदली जाएगी। -संजय कुमार, शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव।


Buy Amazon Product