बड़ी खबरें

78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी।78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी। राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी

शिक्षा विभाग ने लिया ऐतिहासिक फैसला नियोजित शिक्षकों को अब नियमित के भांति मिलेंगे सभी प्रकार के लाभ वेतन होंगे दोगुने

शिक्षा विभाग ने लिया ऐतिहासिक फैसला नियोजित शिक्षकों को अब नियमित के भांति मिलेंगे सभी प्रकार के लाभ वेतन होंगे दोगुने

राज्य के साढे चार लाख नियोजित शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग ने ऐतिहासिक फैसला लेते हुए अब नियमित शिक्षकों के जैसे नियोजित शिक्षकों को भी सभी प्रकार की लाभ मिलेंगे अपर मुख्य सचिव संजय कुमार सिंह ने जारी कर दिया निर्देश अगले महीने विज्ञापन जारी हो जाएंगे सभी जिलों का रिपोर्ट आ गया है प्रधान शिक्षक एवं प्रधानाध्यापक पद के लिए बीपीएससी को रिक्ति के अनुसार बहाली कर जल्द नियुक्ति कराई जाएगी 50000 से 52000 तक वेतन मिलेंगे

यह भी पढ़ें - अगले महीने नियोजित शिक्षकों को मिलेगी सबसे बड़ी खुशखबरी पुराने व नियमित शिक्षकों की तरह मिलेगा अब नियोजित शिक्षकों को लाभ।

• इस माह 30 हजार हाईस्कूल शिक्षकों की नियुक्ति की प्रक्रिया भी आरम्भ होने के आसार नहीं

• पंचायत चुनाव के चलते अक्टूबर में ही कर दी गयी थी स्थगित

• प्रारंभिक की काउंसिलिंग के साथ ही इन शिक्षक पद के अभ्यर्थियों की नियुक्ति प्रक्रिया बढ़ सकती थी आगे

शिक्षा विभाग द्वारा शनिवार को प्रारंभिक शिक्षकों के नियोजन कार्यक्रम के तहत घोषित 14 से 22 दिसम्बर तक की काउंसिलिंग को तत्काल प्रभाव से स्थगित किये जाने के बाद अब राज्य के हाईस्कूल- प्लसटू शिक्षकों के 30020 पदों के नियुक्ति कार्यक्रम पर भी ग्रहण लगता दिख रहा है। शिक्षा विभाग ने 22 अक्टूबर 2021 को पंचायत चुनाव के चलते छठे चरण के तहत माध्यमिक उच्च माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों की नियुक्ति के लिए 29 जुलाई 2021 को जारी नियोजन शिड्यूल को अगले आदेश तक के लिए स्थगित कर दिया था। इसे स्थगित करते हुए तब शिक्षा विभाग ने अधिसूचना में कहा था कि पंचायत निर्वाचन 2021 के समापन के बाद नियोजन की कार्रवाई पुनः प्रारंभ करने के लिए अलग से समय सारिणी जारी की जाएगी।

यह भी पढ़ें - शिक्षा निदेशालय के आदेश के बाद नियोजित शिक्षकों के प्रमाण पत्रों पर बोर्ड ने लगाई सत्यापन की मोहर

गौर हो कि शिक्षा विभाग पंचायत चुनाव के बीच भी माध्यमिक उच्च माध्यमिक शिक्षकों की नियोजन प्रक्रिया जारी रखना चाहता था। इसको लेकर राज्य निर्वाचन आयोग से भी अनुमति मांगी गयी। बताया गया कि यह पहले से चल रही प्रक्रिया है लेकिन राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा 12 अक्टूबर को ही नियोजन प्रक्रिया को जारी रखने पर असहमति जताये जाने के मद्देनजर शिक्षा विभाग को इसे स्थगित करने का फैसला 22 अक्टूबर को लेना पड़ा। इसके पूर्व घोषित नियोजन शिड्यूल के मुताबिक, 10 दिसम्बर तक सभी माध्यमिक उच्च माध्यमिक नियोजन इकाइयों में रिक्त पदों के विरुद्ध आए आवेदनों के आधार पर मेधा सूची का निर्माण और उसपर सक्षम प्राधिकार की मुहर लगनी थी। लेकिन अब पंचायत चुनाव की पूर्ण समाप्ति के बाद ही विभाग पहले प्रारंभिक शिक्षकों के लिए काउंसिलिंग आयोजित करेगा। तब हाईस्कूल शिक्षक अभ्यर्थियों की •बारी आएगी। इनके नियोजन कार्यक्रम में अभी कई महत्वपूर्ण कार्य होने बाकी हैं।

यह भी पढ़ें - सरकारी स्कूलों के शिक्षकों और प्रधानाध्यापकों को कम से कम 2 कलास अनिवार्य मानक सूचकांक हुए लागू।

1 जुलाई 2019 को ही हुई थी नियुक्ति की घोषणा

शिक्षा विभाग ने छठे चरण के माध्यमिक उच्च माध्यमिक शिक्षकों की नियुक्ति का कार्यक्रम 1 जुलाई 2019 को ही जारी किया था। रोस्टर • क्लियरेंस में भी काफी समय लग गये। जिलों से रोस्टर क्लियरेंस और खाली पदों की गणना के बाद हाईस्कूलों में शिक्षकों के रिक्त 11919 जबकि प्लसटू स्कूलों में 18101 पदों को मिलाकर कुल 30,020 पदों पर नियोजन की प्रक्रिया 29 जुलाई 2019 को आरंभ की गयी थी। तब से कई बार नियोजन कार्यक्रम घोषित और स्थगित हो चुके हैं। हाईस्कूल और प्लसटू में शिक्षक बनने की चाह रखने वाले योग्य अभ्यर्थियों को नियुक्ति के लिए करीब ढाई साल से इंतजार करना पड़ रहा है।


Buy Amazon Product