बड़ी खबरें

राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी मुख्यमंत्री का कार्यालय बिहार सरकार (जनसंपर्क कोपांग) से शिक्षकों के लिए प्रेस विज्ञप्ति जारी हो गई आखिरकार शिक्षकों को मिल ही गयामुख्यमंत्री का कार्यालय बिहार सरकार (जनसंपर्क कोपांग) से शिक्षकों के लिए प्रेस विज्ञप्ति जारी हो गई आखिरकार शिक्षकों को मिल ही गया

72 हजार सरकारी स्कूलों के शिक्षकों को लिए शिक्षा निर्देशक विशेष सामग्री की उपलब्धता कराई गई शिक्षक जान ले

72 हजार सरकारी स्कूलों के शिक्षकों को लिए शिक्षा निर्देशक  विशेष सामग्री की उपलब्धता कराई गई शिक्षक जान ले

1)राज्य के 70 हजार विद्यालयों को शीघ्र मिलेगी विशेष शिक्षण सामग्री
2)सूबे के 69253 प्राथमिक स्कूलों को मिलना है एफएलएन किट
3)पहली से तीसरी कक्षा के बच्चों को भी मिलेगी यह विशेष शिक्षण सामग्री
पटना। राज्य के तकरीबन 70 हजार प्राथमिक विद्यालयों को शीघ्र ही विशेष शिक्षण सामग्री मिलेगी। आधारभूत साक्षरता एवं अंकज्ञान (फंडामेंटल लिटरेसी एंड न्यूमरेसी - एफएलएन) को लेकर यह सामग्री शिक्षा विभाग ने एससीईआरटी, किलकारी व यूनिसेफ के सहयोग से चहक 'माड्यूल' के आधार पर तैयार कराई है। इसका मकसद प्राथमिक कक्षा के बच्चों को उनकी पाठ्य सामग्री (सिलेबस) के मुताबिक ज्ञान में निपुण कराना है।

यह भी पढ़ें - नई शिक्षा नीति नीति के तहत अब शिक्षकों को आईएएस अधिकारी पदों में होगी प्रोन्नति शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर

बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक असंगबा चुबा आओ ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को निर्देश दिया है कि सभी 69243 प्राथमिक विद्यालयों के लिए कक्षा एक से पांच तक का एफएलएन मैटेरियल शीघ्र उपलब्ध कराया जाए। स्कूलों तथा पहली से तीसरी कक्षा के विद्यार्थियों के लिए निर्धारित संख्या में यह शिक्षण सामग्री दिल्ली की एक कंपनी द्वारा आपूर्ति की जा रही है। बकौल निदेशक, राज्यस्तरीय समीक्षा में यह बात सामने आयी है कि प्रखंड मुख्यालय में शिक्षण सामग्री की आपूर्ति के उपरांत स्कूलों समन्वयक, तक उसका वितरण नहीं किया गया है। निदेशक ने तत्काल स्कूल किट एवं चिल्ड्रेन किट को विद्यालय में उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।

यह भी पढ़ें - सीएम नीतीश कुमार की अध्यक्षता में मंत्री परिषद में शिक्षकों के लिए आया सबसे बड़ा सुनहरा खबर

बीईपी की ओर से 16 सितम्बर से एफएलएन सामग्री के उपयोग को लेकर तीन दिनों का ऑनलाइन प्रशिक्षण (उन्मुखीकरण) चल रहा है। प्राथमिक कक्षाओं के राज्यभर के सभी शिक्षको का उन्मुखीकरण होना है। 16 सितम्बर को सभी जिला गुणवत्ता शिक्षा सभी बीईओ एससीईआरटी द्वारा प्रशिक्षित मास्टर प्रशिक्षक एवं मेंटर्स का उन्मुखीकरण हुआ। 17 को चहक के जिलों द्वारा प्रशिक्षित सभी संकुल स्तरीय प्रशिक्षको की ट्रेनिंग हुई। 20 सितम्बर, मंगलवार को सभी सरकारी प्राथमिक विद्यालय के हेडमास्टरों का उन्मुखीकरण होगा।

यह भी पढ़ें - राज्य के सारे चार लाख नियोजित शिक्षकों के समान काम समान वेतन पर दिल्ली से लौटने के बाद तेजस्वी ने रास्ता निकाला

विज्ञान शिक्षकों का भुगतान अटका
राज्य के 13 जिलों ने ही एसपीक्यूईएम योजना के तहत केन्द्र से प्राप्त राशि की निकासी हेतु आवश्यक प्रक्रिया को पूरा किया है। इनके खातों की मैपिंग एवं भुगतान की सीमा निर्धारित करते हुए अग्रेतर कार्रवाई की गयी है। माध्यमिक शिक्षा के विशेष निदेशक सचीन्द्र कुमार ने शेष 25 जिलों में विज्ञान शिक्षकों के मानदेय भुगतान को लेकर उन्हें अलर्ट किया है। निर्देश दिया है कि आज ही प्रक्रिया पूरी करते हुए प्रतिवेदन सौंपे।


Buy Amazon Product