बड़ी खबरें

DA News : महंगाई भत्ते में हो सकती है 4 फीसदी की बढ़ोतरी, जानें कब से होगा लागू, इन लोगों को मिलेगा लाभDA News : महंगाई भत्ते में हो सकती है 4 फीसदी की बढ़ोतरी, जानें कब से होगा लागू, इन लोगों को मिलेगा लाभ शिक्षा विभाग के निर्देशक मनोज कुमार एवं शिक्षा मंत्री का आया संयुक्त बयान पत्र हुआ जारीशिक्षा विभाग के निर्देशक मनोज कुमार एवं शिक्षा मंत्री का आया संयुक्त बयान पत्र हुआ जारी नियोजित शिक्षकों का वेतन हुआ जारी 2 महीने का वेतन एवं एरियर मिलाकर ₹1,00,000 से ₹1,30,000 तक मिलेगा 10 दिन के अंदर। नियोजित शिक्षकों का वेतन हुआ जारी 2 महीने का वेतन एवं एरियर मिलाकर ₹1,00,000 से ₹1,30,000 तक मिलेगा 10 दिन के अंदर। तबादले की मांग लेकर शिक्षकों का अनिश्चितकालीन धरना शुरू शिक्षा विभाग के अधिकारी क्या बोले सुन लीजिए। तबादले की मांग लेकर शिक्षकों का अनिश्चितकालीन धरना शुरू शिक्षा विभाग के अधिकारी क्या बोले सुन लीजिए। नियोजित शिक्षकों के 3 माह के वेतन का हुआ आवंटन 15% वृद्धि का एरियर एवं वेतन का लिस्ट हुआ जारी एक मुश्त होगा भुगतान।नियोजित शिक्षकों के 3 माह के वेतन का हुआ आवंटन 15% वृद्धि का एरियर एवं वेतन का लिस्ट हुआ जारी एक मुश्त होगा भुगतान। सबसे बड़ी खुशखबरी 15 अगस्त से सभी कर्मचारियों के साथ शिक्षकों को पुरानी पेंशन योजना हो जाएगी लागू।सबसे बड़ी खुशखबरी 15 अगस्त से सभी कर्मचारियों के साथ शिक्षकों को पुरानी पेंशन योजना हो जाएगी लागू।

शिक्षा मंत्री आज लाइव वेबिनार में शिक्षकों से बोर्ड परीक्षाओं पर करेंगे बात : रमेश पोखरियाल निशंक

शिक्षा मंत्री आज लाइव वेबिनार में शिक्षकों से बोर्ड परीक्षाओं पर करेंगे बात : रमेश पोखरियाल निशंक

नई दिल्ली :- केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक आज शाम 4 बजे लाइव वेबिनार के जरिए शिक्षकों के साथ बातचीत करेंगे. उम्मीद की जा रही है कि शिक्षा मंत्री लाइव वेबिनार में कक्षा 10वीं और 12वीं के लिए आगामी 2021 सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं (CBSE Board Exams) पर चर्चा करेंगे और सोशल मीडिया पर छात्रों और शिक्षकों द्वारा पूछे गए प्रश्नों के संचालन, कार्यक्रम से संबंधित जानकारी देंगे. 

 

बीते दिन एक बार फिर शिक्षा मंत्री ने अपने ट्विटर हैंडल पर जानकारी दी कि वे आज 4 बजे लाइव आकर बोर्ड परीक्षा से संबंधित सवालों के जवाब देंगे. कुछ शिक्षकों ने CBSE बोर्ड परीक्षा 2021 के लिए "क्लैरिटी" देने के लिए शिक्षा मंत्री से सवाल किए हैं. जबकि कुछ ने परीक्षा रद्द करने के लिए कहा है. वहीं, कुछ शिक्षकों ने पूछा है कि प्रैक्टिकल परीक्षा कैसे आयोजित की जाएगी.अपने पिछले वेबिनार में छात्रों द्वारा पूछे गए इसी तरह के एक प्रश्न का उत्तर देते हुए रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा था कि अगर छात्र अपने स्कूलों में लैब का काम करने के लिए नहीं जा सकते हैं, तो प्रैक्टिकल परीक्षा के विकल्पों पर विचार किया जाएगा. 


Buy Amazon Product