बड़ी खबरें

बड़ी खबर: नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में पढ़ाई के साथ कमाई भी होगी: धर्मेंद्र प्रधानबड़ी खबर: नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में पढ़ाई के साथ कमाई भी होगी: धर्मेंद्र प्रधान दिवाली से पहले कर्मचारियों ब शिक्षकों को मिल सकता है बंपर तोहफा 3 जगह से आएगा पैसा जान ले कैसे?दिवाली से पहले कर्मचारियों ब शिक्षकों को मिल सकता है बंपर तोहफा 3 जगह से आएगा पैसा जान ले कैसे? कैचअप कोर्स से बच्चों और शिक्षकों का 3 ग्रेड में होगा मूल्यांकन जाने विस्तार से उसके बाद शिक्षकों का क्या होने वाला है? कैचअप कोर्स से बच्चों और शिक्षकों का 3 ग्रेड में होगा मूल्यांकन जाने विस्तार से उसके बाद शिक्षकों का क्या होने वाला है? 3.57 लाख शिक्षकों को 15% वेतन वृद्धि का लाभ वित्त विभाग से आने के बाद अब नए साल में मिलने की उम्मीद: अपर मुख्य सचिव3.57 लाख शिक्षकों को 15% वेतन वृद्धि का लाभ वित्त विभाग से आने के बाद अब नए साल में मिलने की उम्मीद: अपर मुख्य सचिव प्रारंभिक विद्यालयों में प्रधान शिक्षक प्रधानाध्यापक पद का जिला भार हुआ आवंटन पत्र हुआ जारी।:प्राथमिक शिक्षा निर्देशकप्रारंभिक विद्यालयों में प्रधान शिक्षक प्रधानाध्यापक पद का जिला भार हुआ आवंटन पत्र हुआ जारी।:प्राथमिक शिक्षा निर्देशक शिक्षकों को बरगला रही सरकार 15 प्रतिशत की वेतन बढ़ोतरी स्थानांतरण एवं प्रोन्नति का भी मामला लटका। शिक्षकों को बरगला रही सरकार 15 प्रतिशत की वेतन बढ़ोतरी स्थानांतरण एवं प्रोन्नति का भी मामला लटका।

शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कर दिया ऐलान इस तारीख से खुल सकते है स्कूल कालेज कोरोना की रफ़्तार हुई धीमी।

शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कर दिया ऐलान इस तारीख से खुल सकते है स्कूल कालेज कोरोना की रफ़्तार हुई धीमी।

बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा है कि शिक्षण संस्थाओं को खोलने के अनुकूल परिस्थितियां आने पर सबसे पहले कॉलेज और समकक्ष उच्च शिक्षण संस्थान खोले जायेंगे. उन्होंने कहा कि टीकाकरण और दूसरी परिस्थितियों को देखते हुए निर्णय लिये जायेंगे. शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने साफ किया कि छह जुलाई के बाद उच्च शिक्षण संस्थान खोलने पर विचार किया जायेगा. हालांकि अभी इस संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया गया है.

उन्होंने साफ किया कि स्कूलों को खोलने का अभी कोई विचार नहीं है. उच्च शिक्षण संस्थाओं के खुलने के बाद परिस्थितियों का आकलन करने के बाद ही सरकार स्कूल खोलेगी. फिलहाल कोरोना की संभावित लहर और वर्तमान स्थितियों पर शिक्षा विभाग की पूरी नजर है. हालांकि उन्होंने साफ किया कि विभाग बच्चों के स्वास्थ्य और शिक्षा दोनों से कोई समझौता नहीं करेगा.

बिहार के नियोजित शिक्षको को अब ईपीएफओ नंबर के आधार पर ही होगा जान ले पूरी बात

उल्लेखनीय है कि इससे पहले शिक्षा मंत्री चौधरी ने संकेत दिये थे कि रूटीन क्लास की जगह ऑन लाइन पढ़ाई नहीं ले सकती है. हालांकि अनुकूल परिस्थितियां आने पर ही स्कूल खोले जायेंगे. शिक्षा विभाग कॉलेज खोलने का निर्णय 18 साल से अधिक उम्र के युवकों में टीकाकरण की स्थिति पर भी नजर गड़ाए हुए है.

युवकों के बीच मुकम्मल टीकाकरण उच्च शिक्षण संस्थान खोलने के संदर्भ में पृष्ठभूमि तैयार करेगा़ इधर विशेषज्ञों का कहना है कि 18 साल से कम उम्र के बच्चों का टीका आने के बाद ही स्कूल खोलना उचित होगा़ यह देखते हुए कि तीसरी लहर बच्चों पर केंद्रित रहने वाली है़

बताते चलें कि बिहार में कोरोना वायरस मरीजों की रफ़्तार लगातार धीमी पड़ रही है. पिछले 24 घंटे में कोरोना के 268 नए केस सामने आए हैं. इधर, राज्य में अब 3016 एक्टिव मरीज हैं. बिहार में स्कूल और कॉलेज पिछले दो महीने से बंद हैं.


Buy Amazon Product