बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

शिक्षा मंत्री का बड़ा ऐलान वेतन और अवकाश के साथ दुनिया के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों में करेंगे कोर्स सरकार उठाएगी खर्च।

शिक्षा मंत्री का बड़ा ऐलान वेतन और अवकाश के साथ दुनिया के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों में करेंगे कोर्स सरकार उठाएगी खर्च।

दिल्ली सरकार ने शिक्षक दिवस पर राष्ट्रीय राजधानी के सरकारी स्कूलों के शिक्षकों को बड़ा तोहफा दिया है। सरकार ने कहा है, ये शिक्षक दुनिया के 100 सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों में पढ़ाई कर सकेंगे। कोर्स का पूरा खर्च दिल्ली सरकार उठाएगी। शिक्षकों को ऑनड्यूटी
मानते हुए अवकाश भी दिया जाएगा।उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने त्यागराज स्टेडियम में 122 शिक्षकों को राज्य शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित करते हुए कहा,शिक्षक राष्ट्र निर्माण में सबसे बड़े भागीदार होते हैं। शिक्षकों के प्रयासों की सराहना करते हुए सिसोदिया ने कहा, कोरोना महामारी के कारण शिक्षा व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हुई।

 स्कूल बंद होने के बाद किसी को अंदाजा नहीं था कि टीचिंग लर्निंग प्रोसेस को आगे कैसे बढ़ाया जाए, पर शिक्षकों ने कठिनाइयों के बीचअविश्वसनीय धैर्य व दृढ़ संकल्प दिखाया।शिक्षकों ने 'लनिंग नेवर स्टॉप' का संदेश देते हुए सुनिश्चित किया कि नए माध्यमों व नवाचारों से छात्रों की पढ़ाई जारी रखी जाए।
अनुकरणीय कार्य के लिए दो विशेष पुरस्कार
सम्मानित शिक्षकों में स्पेशल एजुकेटर, म्यूजिक व आर्ट टीचर, लाइब्रेरियन, मेंटर टीचर, स्पोर्ट्स टीचर और वोकेशनल टीचर शामिल रहे। अनुकरणीय काम करने पर भारती कालरा व सरितारानी भारद्वाज को विशेष पुरस्कार भी दिए गए। फेस ऑफ डीओई के नाम से शुरू हुए दो पुरस्कार राजकुमार और सुमन अरोड़ा को दिए गए।

डीपीओ स्थापना ने किया डॉ राधाकृष्णन की प्रतिमा का अनावरण। 
सारण । प्रखंड के बीआरसी भवन परिसर में शिक्षक दिवस पर भव्य एवं ऐतिहासिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया जहां बीआरसी भवन में देश प्रथम उपराष्ट्रपति व दूसरे राष्ट्रपति सर्वपल्ली डॉ राधाकृष्णन की संगमरमर की प्रतिमा का अनावरण डीपीओ स्थापना निशांत गुंजन, बीडीओ कपूरी ठाकुर, प्रखंड प्रमुख मंजूषा ओझा, बीईओ इन्द्रकांत सिंह, परिवर्तनकारी शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष समरेंद्र बहादुर सिंह आदि ने संयुक्तरूप से किया। कार्यक्रम में डीपीओ निशांत गुंजन ने शिक्षक दिवस पर जिले के सभी शिक्षकों व शिक्षाविदों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि जिले का पहला अनूठा व अद्वितीय कार्यक्रम है। उन्होंने कहा कि शिक्षक राष्ट्र निमार्ता है। 

इनका सम्मान होना चाहिए। बीडीओ कपूरी ठाकुर ने शिक्षक दिवस पर डा राधाकृष्णन के चरित्र, व्यक्तित्व व कृतित्व की चर्चा करते कहा कि शिक्षक समाज का आदर्श होते है। बीईओ इन्द्रकांत सिंह के अथक प्रयास से इतना बड़ा कार्य का आयोजन हुआ। वहीं शिक्षक नेता समरेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि शिक्षक समाज का सबसे सम्मानित व्यक्ति होता है। अपना जीवन समाज निर्माण में बिता देत है। शिक्षक कभी रिटायर्ड नहीं होता। उन्होंने उनके द्वारा शिक्षा तथा शिक्षकों के लिए दिए योगदान की चर्चा किया। इस मौके पर 400 अवकाशप्राप्त शिक्षकों को कार्यक्रम में आमंत्रित कर शाल, कलम व फूलमाला से सम्मानित किया गया । जहां भोजपुरी के सीने गायक रामेश्वर गोप का गुरु कृपा भजन, लोक गायकी से शिक्षको को खूब आनन्दित किया। इस मौके पर संजय यादव, सचिव विनोद राय, इंद्रजीत महतो, अजीमुल्लाह, शैलेन्द्र पांडेय, रजनीकांत सिंह, पूर्व बीई ओ कमरुद्दीन अंसारी, त्रिपुरारी सिंह, अशोक राय, अवकाशप्राप्त शिक्षक जैनुद्दीन अंसारी, ऐनुल होदा सहित भारी संख्या में शिक्षक शामिल हुए।


Buy Amazon Product