बड़ी खबरें

 राज्य के नियोजित शिक्षकों को वरीयता को लेकर शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री अपर मुख्य सचिव का संयुक्त बयान जारी राज्य के नियोजित शिक्षकों को वरीयता को लेकर शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री अपर मुख्य सचिव का संयुक्त बयान जारी सुबे के लाखों शिक्षकों को मिलेगी बड़ी राहत शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह को मिलीसुबे के लाखों शिक्षकों को मिलेगी बड़ी राहत शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह को मिली शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं

नियोजित शिक्षकों ने वेतन बढ़ोतरी को लेकर शिक्षा विभाग की खटखटाया दरवाजे।

नियोजित शिक्षकों ने वेतन बढ़ोतरी को लेकर शिक्षा विभाग की खटखटाया दरवाजे।

राज्य में पंचायत, प्रखंड एवं नगर शिक्षकों के विसंगति रहित वेतन निर्धारण के लिए शिक्षक शिक्षा विभाग का दरवाजा खटखटायेंगे । वेबिनार में लिया गया यह निर्णय शिक्षकों की कोर कमेटी यह निर्णय बुधवार को वेबिनार में लिया गया है। बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष ब्रजनंदन शर्मा की पहल पर संगठन के कार्यकारी अध्यक्ष मनोज कुमार के नेतृत्व में जूम एप पर पंचायत, प्रखंड एवं नगर शिक्षकों के वेतन निर्धारण में विसंगति न हो, के लिए वेबिनार का आयोजन किया गया। इसमें संगठन व्यवस्था के तहत नियक्त के सभी बीस सदस्यों ने हिस्सा लिया। तय हुआ कि सेवा पूर्व प्रशिक्षित शिक्षकों एवं नियुक्ति के उपरांत प्रशिक्षित शिक्षकों के बीच वेतन विसंगति न हो, इसके लिए बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के कार्यकारी अध्यक्ष मनोज कुमार के नेतृत्व में शिक्षकों का एक प्रतिनिधिमंडल शिक्षा विभाग के अधिकारियों से मिलेगा। श्री कुमार ने कहा कि पुराने मैट्रिक्स में ही 1.15 से गुणा कर वेतन निर्धारण किया जाना चा । इसके लिए नये पे मैट्रिक्स की आवश्यकता नहीं थी । इंडेक्स की बाध्यता समाप्त की जानी चाहिये । वेबिनार को संबोधित करने वालों में बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रवक्ता प्रेमचंद्र सहित हरिओम निराला, संजीव ठाकुर, अशोक सिंह, शंभु प्रसाद, पप्पू कुमार 'पप्पू', रविंद्र कुमार सिंह, रंजीत कुमार, रवि प्रकाश, रणु मिश्रा, रूदेंद्र कुमार सिंह, सुमन कुमारी एवं सोनी कुमारी यादव के नाम उल्लेखनीय हैं ।

शिक्षकों की वेतन विसंगति को दूर करने की उठी मांग पटना : बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के राज्य अध्यक्ष बृजनंदन शर्मा के आदेश पर बुधवार को बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ की बैठक हुई. कार्यकारी अध्यक्ष मनोज कुमार के नेतृत्व में जूम एप पर पंचायती राज के तहत नियुक्त पंचायत प्रखंड एवं नगर शिक्षकों के वेतन विसंगति सहित उनके फिक्सेशन में आ रही विभिन्न प्रकार की त्रुटियों के निराकरण पर विचार विमर्श करने के लिए वेबिनार किया गया. संगठन से जुड़े पंचायती राज व्यवस्था के तहत नियुक्त शिक्षकों की कोर कमेटी के सभी 20 सदस्यों ने हिस्सा लिया. वेबिनार में सर्वसम्मति से विचार विमर्श के उपरांत यह निर्णय लिया गया की सेवा पूर्व प्रशिक्षित शिक्षकों एवं नियुक्ति के उपरांत प्रशिक्षित शिक्षकों के बीच जो वेतन विसंगति हो गयी है तथा जो वेतन फिक्सेशन में विभिन्न प्रकार की त्रुटियां पायी जा रही है उसे दूर करने के लिए मनोज कुमार कार्यकारी अध्यक्ष बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के नेतृत्व में शिक्षकों का एक शिष्टमंडल यथाशीघ्र शिक्षा विभाग के वरीय अधिकारियों से संपर्क करेगा एवं विभाग के वरीय अधिकारियों को शिक्षकों की उपरोक्त समस्या से अवगत कराते हुए समस्या का समाधान करवाने का प्रयास करेगा. उन्होंने कहा कि पुराने मैट्रिक्स में ही 1.15 से गुणा कर वेतन निर्धारण किया जाना चाहिए।

सातवें चरण का शिड्यूल शीघ्र होगा जारी - शिक्षा मंत्री
पटना:राज्य के शिक्षा मंत्री ने कहा कि छठे चरण जो फरवरी माह में संपन्न हो रही है। तत्पश्चात मार्च प्रथम सप्ताह में सातवें चरण की शिक्षक नियोजन प्रक्रिया शुरू की जाएगी। उन्होंने साफ किया कि सातवें चरण का नियोजन प्रक्रिया कराया जाना जरूरी है। राज्य के माध्यमिक एवं प्लस-टू विद्यालयों के लिए शीघ्र शिड्यूल जारी किया जाएगा। एस टी रखे। सरकार ई टी- 2019 उत्तीर्ण अभ्यार्थी धैर्य लेकर गंभीर हैं। क्षक बहाली को


Buy Amazon Product