बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

नियोजित शिक्षक 27 से अपनी पे स्लिप कर सकेंगे जेनरेट सुविधा

नियोजित शिक्षक 27 से अपनी पे स्लिप कर सकेंगे जेनरेट सुविधा

पटना:शिक्षकों के मूल वेतन में 15% बढ़ोतरी के साथ इसी माह से मिलनी है सैलरी।
साढ़े तीन लाख नियोजित शिक्षकों की सैलरी में 15 फीसदी इजाफे के साथ वेतन मिलने का रास्ता साफ हो गया है. विशेष कैलकुलेटर से सभी शिक्षकों की सैलरी इजाफे के साथ फिक्स कर दी गयी है. 27 जनवरी से शिक्षक अपनी सैलरी स्लिप जेनरेट कर सकेंगे. शिक्षा विभाग ने इस संबंध में आधिकारिक शेड्यूल भी तय कर दिया है। शेड्यूल के मुताबिक सभी डीइओ अपने-अपने जिलों में पोर्टल पर सैलरी से जुड़ा डाटा 20 जनवरी तक अपलोड करेंगे. 21 से 25 जनवरी तक पे फिक्सेशन पर शिक्षक आपत्ति दर्ज करा सकेंगे. उन आपत्तियों का निराकरण शिक्षा विभाग करेगा. 27 जनवरी से शिक्षक सैलरी स्लिप जनरेट कर सकेंगे। जिन लोगों की समस्याओं के समाधान हो जायेंगे, उनकी सैलरी जनवरी से बढ़ोतरी के साथ मिल जायेगी. शेष लोगों की समस्याओं के समाधान के साथ सैलरी जारी होगी।मालूम हो कि शिक्षा विभाग पहले ही 15 फीसदी वेतन बढ़ोतरी को हरी झंडी दे चुका है. इस बढ़ोतरी के साथ यह वेतन अप्रैल 2021 के प्रभाव से दिया जाना है. राज्य सरकार ने इसे स्वीकार कर लिया है।

यह भी पढ़ें - वर्ष 2003-05 के नियोजित शिक्षकों की 15% वृद्धि को लेकर राज्यपाल तक पहुंच गई अब मिलेगा न्याय

बीएलओ को डोर टू डोर भौतिक सत्यापन करने का निर्देश
टिकारी: अनुमंडल पदाधिकारी की अध्यक्षता में विधान परिषद के आगामी द्विवार्षिक निर्वाचन की तैयारी हेतु अधिकारियों की बैठक हुई। कार्यालय कक्ष में मंगलवार को आयोजित बैठक में मतदाता सूची तथा मतदान केंद्र की तैयारी को लेकर गहन विचार विमर्श किया गया। इस क्रम में विधान परिषद क्षेत्र में शामिल 231 टिकारी विधानसभा क्षेत्र के टिकारी और कोंच प्रखंड तथा 225 गुरुआ विधानसभा क्षेत्र के गुरारू और परैया प्रखण्ड के निर्वाचक नामावली के अंतर्गत महत्वपूर्ण बातों की जानकारी दी गई। बैठक के दौरान सम्बंधित एईआरओ को फोटो समानता प्रविष्टि से संबंधित बीएलओ को क्षेत्र भ्रमण के दौरान भौतिक सत्यापन करते हुए डोर टू डोर निष्पादन करने का निर्देश दिया गया। एसडीओ करिश्मा, अवर निर्वाचन पदाधिकारी राजीव रंजन, कोंच बीडीओ प्रदीप कुमार चौधरी, परैया बीडीओ राजदेव कुमार रजक, अमर कुमार सहित कई बीएलओ मौजूद थे।

यह भी पढ़ें - राज्य के प्रारंभिक शिक्षकों के वेतन के लिए 914 करोड़ रुपए हो गए जारी नए वेतन में अब कितना बढ़कर मिलेगा जान ले।

स्कूल से गायब शिक्षक की हाजिरी बना देते हैं बी आरपी
मुजफ्फरपुर :स्कूल से गायब शिक्षक की हाजिरी प्रखंड साधनसेवी (बीआरपी) बनाते हैं। कटरा में बी आरपी पर चल रही जांच की रिपोर्ट से यह मामला सामने आया है। डीईओ ने कार्रवाई करते हुए दो प्रखंड साधनसेवियों को उनके पद से हटा दिया है। डीपीओ सर्वशिक्षा अभियान को इन पर कठोर कार्रवाई का आदेश दिया है। मामला कटरा प्रखंड का है। यहां अगस्त में परिवर्तनकारी प्रारंभिक शिक्षक संघ ने बीआरपी पर कार्रवाई को लेकर धरना दिया था। संघ का आरोप था कि बीआरपी स्कूल नहीं जाते हैं और फर्जी तरीके से हस्ताक्षर किया जाता है। यही नहीं, जो शिक्षक स्कूल में वर्षों से नहीं गई, उसकी हाजिरी प्रखंड साधनसेवी द्वारा बनायी जाती है और वेतन लगतार उठाया जाता रहा है। डीईओ अब्दुस सलाम अंसारी ने कहा कि तीन सदस्यी कमेटी बनाकर इसकी जांच कराई गई और जांच में मामला सही पाया गया है। जांच रिपोर्ट के आधार पर यह कार्रवाई की गई है। म. वि. अम्बेदकर नगर कटरा की उपस्थिति पंजी पर प्रियम्बदा का हस्ताक्षर बीआरपी राकेश कुमार द्वारा कया जाता रहा है।


Buy Amazon Product