बड़ी खबरें

78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी।78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी। राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी

80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग ने 100 दिनों के लिए दिया टास्क पत्र हुआ जारी।

80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग ने 100 दिनों के लिए दिया टास्क पत्र हुआ जारी।

बच्चों में पढ़ाई को रुचिकर बनाने तथा ज्ञानार्जन की भूख जगाने के लिए 100 दिवसीय 'पठन अभियान' चलेगा। पहली जनवरी से ही इसकी औपचारिक शुरुआत कर दी गई है। हालांकि सोमवार 3 जनवरी से यह जमीन पर 3 दिखने लगे, इस कोशिश में राज्य सरकार का शिक्षा महकमा जुटा है। बिहार शिक्षा परियोजना परिषद को इस अभियान के संचालन की महती जिम्मेवारी दी गई है।

शिक्षा और खासकर कम उम्र के बच्चों में पढ़ने का आनंद पैदा करने के मकसद से केंद्र सरकार के स्कूल, शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने इस अभियान की पूरी परिकल्पना और इसे जमीन पर उतारने की कार्ययोजना तैयार की है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने शनिवार को ही बिहार समेत देश के सभी राज्यों के लिए इस 100 दिवसीय पठन अभियान को लांच किया है। बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक श्रीकांत शास्त्री ने पठन अभियान को सफल बनाने को लेकर सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को खास तैयारी  करने का निर्देश दिया है। पहली जनवरी से अप्रैल तक 100 कार्यदिवस तक इस विशेष मुहिम से बाल वाटिका से लेकर आठवीं कक्षा के करीब दो करोड़ बच्चे जुड़े रहेंगे। बोईपी निदेशक ने अभियान के खूब प्रचार-प्रसार करने का भी निर्देश दिया है। 

इस मुहिम से बच्चों को जोड़ने  की जवाबदेही भी तय कर दी गई है। स्कूल इसकी बुनियाद में रहेंगे जबकि मुहल्ला, टोला, समाज को भी जोड़ना होगा। 14 सप्ताह की निरंतर गतिविधि में बच्चों में पढ़ने की आदत डालने को लेकर शिक्षक अभिभावक, समुदाय, शिक्षा महकमे के आलाधिकारी व स्थानीय जनप्रतिनिधियों की सहभागिता सुनिश्चित कराई जाएगी। स्कूलों, शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय, बीआरसी, सीआरसी, स्वयंसेवक, सभी वर्गों के विद्यार्थी, एनसीसी एनएसएस के वोलेंटियर पठन अभियान का हिस्सा बनेंगे।


Buy Amazon Product