बड़ी खबरें

बढ़ते संक्रमण को देख सभी स्कूल 30 जून तक रहेंगे ग्रीष्मा अवकाश

बढ़ते संक्रमण को देख सभी  स्कूल 30 जून तक रहेंगे ग्रीष्मा अवकाश

दिल्ली के स्कूलों में ३० जून तक रहेगा ग्रीष्मकालीन अवकाश।
नयी दिल्ली कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली सरकार ने अपने सभी सरकारी स्कूलों में ग्रीश्मकालीन छुट्टियों की घोषणा कर दी है। दिल्ली सरकार के स्कूलों में ११ मई से ३० जून तक गर्मियों की छुट्टियां होनी थी, लेकिन अब इसमें बदलाव कर दिया गया है । अब २० अप्रैल यानी मंगलवार से ६ जून तक दिल्ली सरकार के सभी स्कूलों में गर्मी की छुट्टियां रहेंगी।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में 9 एजेंडों पर लगी मुहर, गृह विभाग ने जारी किया निर्देश। -

 

इस दौरान आनलाइन क्लास बंद रहेंगी। शिक्षा निदेशालय की ओर से आधिकारिक आदेश में कहा गया है कि कोविड- १६ महामारी के मौजूदा हालात के मद्देनजर शैक्षणिक सत्र २०२१-२०२२ के लिये ग्रीष्मकालीन अवकाश में बदलाव किया गया है। अब २० अप्रैल यानी मंगलवार से ६ जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश रहेगा।

इसे भी पढ़ें।
कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली में सोमवार रात 10 बजे से लॉकडाउन लगाया गया है जो आगामी 26 अप्रैल तक प्रभावी रहेगा। इस दौरान कई तरह की पाबंदियां रहेंगी, लेकिन लोगों को जरूरत के हिसाब से छूट भी प्रदान की जाएगी । लॉकडाउन में लोगों की आवाजाही पर रोक लगी रहेगी, लेकिन जरूरी सेवाओं पर छूट मिलेगी। सभी जिलाधिकारी व डीसीपी इन आदेशों सख्ती से पालन कराएंगे। इसका पालन नहीं करने पर आपदा प्रबंधन कानून के तहत सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

सबसे बड़ी बात यह है कि इसमें बिना काम के घर से बाहर निकलने पर रोक, इसके लिए अतिरिक्त जरूरत पड़ने पर घर से बाहर निकलने पर लोगों को छूट है, लेकिन वजह जरूरी होनी चाहिए। स्वास्थ्य विभाग, पुलिस, जेल अधिकारी-कर्मचारी, होमगार्ड, सिविल डिफेंस, अग्निशमन, इमरजेंसी सेवाएं, जिला प्रशासन, पे व अकाउंट, परिवहन कर्मचारी ( हवाई सेवा, रेल व बस कर्मचारी), नगर निगम, बिजली, पानी, सफाई विभाग व आपदा प्रबंधन विभाग के कर्मचारी पूरी क्षमता से काम करेंगे ।

दिल्ली सरकार ने न्यायिक सेवा अधिकारी, कोर्ट में कार्यरत अधिकारियों, डॉक्टर, नर्स, पारामेडिकल स्टाफ, क्लिनिक व अस्पताल के कर्मचारी को आई कार्ड दिखाने पर आने जाने की अनुमति दी है। प्रिंट मीडिया व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया कर्मियों को आई कार्ड दिखाने पर आवागमन की छूट दी गई है। विवाह और अंतिम संस्कार दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव विजय देव ने अपने आदेश में कहा है कि लॉकडाउन के दौरान शादी समारोह भाग लेने के लिए पचास लोगों व अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए 50 लोगों को अनुमति दी जाएगी, लेकिन शादी का कार्ड दिखाना होगा।


Buy Amazon Product