बड़ी खबरें

नियोजित शिक्षकों के चालू वित्तीय वर्ष एवं बकाया वेतन का भुगतान के लिए राशि हुआ आवंटन जान ले कितना मिलेगा ।नियोजित शिक्षकों के चालू वित्तीय वर्ष एवं बकाया वेतन का भुगतान के लिए राशि हुआ आवंटन जान ले कितना मिलेगा । नियोजित शिक्षकों के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी बिहार सरकार ने वेतन के साथ एरिया का भी कर दिया आवंटन कौन सा महीना का मिलेगानियोजित शिक्षकों के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी बिहार सरकार ने वेतन के साथ एरिया का भी कर दिया आवंटन कौन सा महीना का मिलेगा सरकारी स्कूलों में चल रहे वर्ग में बैठकर अफसर करेंगे निरीक्षण, शिक्षकों को मिलेगा 15 जून के बाद सेवांत लाभ का मौका। सरकारी स्कूलों में चल रहे वर्ग में बैठकर अफसर करेंगे निरीक्षण, शिक्षकों को मिलेगा 15 जून के बाद सेवांत लाभ का मौका। डीईओ कार्यालय में मची हड़कंप, 2006 के बाद वाले नियोजित शिक्षकों के दक्षता को लेकर सबसे बड़ी खुशखबरी ।डीईओ कार्यालय में मची हड़कंप, 2006 के बाद वाले नियोजित शिक्षकों के दक्षता को लेकर सबसे बड़ी खुशखबरी । प्रारंभिक विद्यालय में प्रधान शिक्षक की बीपीएससी से होने वाली परीक्षा जून के इस तारीख की हो गई घोषणा जान ले पूरा दिशा निर्देश।प्रारंभिक विद्यालय में प्रधान शिक्षक की बीपीएससी से होने वाली परीक्षा जून के इस तारीख की हो गई घोषणा जान ले पूरा दिशा निर्देश। नियोजित शिक्षकों के लिए इस वक्त बड़ी खुशखबरी स्कूलों को मिलेगा दूरी का प्रमाण पत्र अब बढ़ेगा DAनियोजित शिक्षकों के लिए इस वक्त बड़ी खुशखबरी स्कूलों को मिलेगा दूरी का प्रमाण पत्र अब बढ़ेगा DA

ममता बनर्जी ने किया ऐलान बंगाल बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं अब जून में होंगी

ममता बनर्जी ने किया ऐलान बंगाल बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं अब जून में होंगी

बंगाल में आगामी वर्ष माध्यमिक(दसवीं) और उच्च माध्यमिक(12वीं) की परीक्षा फरवरी व मार्च में आयोजित नहीं होगी। अब 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं राज्य में विधानसभा चुनाव के बाद जून में आयोजित की जाएगी। बंगाल माध्यमिक और उच्च माध्यमिक बोर्ड की ओर से परीक्षा आगे बढ़ाने का प्रस्ताव ममता सरकार को दी गई थी। इस पर राज्य सरकार ने अपनी सहमती दे दी। यह निर्णय कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। दोनों ही बोर्ड दसवीं और 12वीं की परीक्षा का विस्तृत कार्यक्रम की घोषणा बाद में करेंगे।

 

शिक्षा मंत्री पाार्थ चटर्जी ने बुधवार को एक संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी दी। शिक्षा मंत्री ने बुधवार को कहा कि वर्तमान में कोरोना की वजह से स्कूल बंद हैं। कोरोना के कारण पिछले मार्च से ही स्कूल बंद है। वर्तमान शैक्षणिक वर्ष में 2021 के माध्यमिक के छात्र-छात्राएं सिर्फ ढाई माह कक्षा कर सके हैं। दूसरी ओर परीक्षा में देरी के कारण नए शैक्षणिक वर्ष में स्कूल जाकर भी बच्चे कोई कक्षा नहीं कर पाएंगे।

माध्यमिक परीक्षाएं आमतौर पर हर साल फरवरी में आयोजित होती है इसके बाद मार्च में उच्च माध्यमिक की परीक्षा होती है। लेकिन इस साल कोरोना की वजह से पढ़ाई पूरी नहीं हो सकी है। बताते चलें कि हाल ही में दिल्ली के दो बोर्डों ने परीक्षा की तिथि आगे बढ़ा दी है। उसी तरह अब बंगाल के माध्यमिक व उच्च माध्यमिक बोर्ड ने भी उसी राह का अनुसरण करते हुए विलंब से परीक्षा आयोजित करने का निर्णय लिया है। इसके अलावा राज्य ने माध्यमिक से उच्च माध्यमिक में 30 से 35 फीसद तक पाठ्यक्रम को कम करने का भी निर्णय लिया गया है।


Buy Amazon Product