बड़ी खबरें

78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी।78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी। राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी

मुजफ्फरपुर: स्मार्ट सिटी के रेलवे जंक्शन पर होगी एयरपोर्ट की सुविधा, जानिए- क्या है योजना

मुजफ्फरपुर: स्मार्ट सिटी के रेलवे जंक्शन पर होगी एयरपोर्ट की सुविधा, जानिए- क्या है योजना

स्टेशन पुनर्विकास योजना के तहत मुजफ्फरपुर जंक्शन पर यात्रियों को ट्रेवलेटर (चलता पथ) की सुविधा मिलेगी। महानगरों के एयरपोर्ट की तर्ज पर मुजफ्फरपुर जंक्शन पर लगने वाले ट्रेवलेटर की मदद से यात्री बड़े आराम से कॉनकोर्स (ओवरब्रिज) तक पहुंचेंगे। मुजफ्फरपुर जंक्शन पर यात्रियों को विश्वस्तरीय सुविधा उपलब्ध कराने के लिए रेल भूमि विकास प्राधिकारण (आरएलडीए) ने कॉनकोर्स व एलिवेटेड सड़क के साथ ट्रेवलेटर की सुविधा के लिए तैयारी की है। यात्री रैंप व एस्केलेटर के अलावा ट्रेवलेटर से कॉनकोर्स पर पहुंचकर ट्रेनों का इंतजार करेंगे। ट्रेन आने पर यात्री ट्रेवलेटर से प्लेटफॉर्म पर उतरकर ट्रेनों में सवार होंगे। प्लेटफॉर्म व रेलवे लाइन के ऊपर शेड का प्रावधान किया गया है।

बुजुर्ग, बच्चे व दिव्यांग को सहुलियत

यह भी पढ़ें - अगले महीने नियोजित शिक्षकों को मिलेगी सबसे बड़ी खुशखबरी पुराने व नियमित शिक्षकों की तरह मिलेगा अब नियोजित शिक्षकों को लाभ।

यात्री प्लेटफॉर्म के बदले कॉनकोर्स पर ट्रेनों का इंतजार करेंगे। 40 मीटर चौड़ी कॉनकोर्स पर कैफेटेरिया व अन्य सुविधाएं होंगी। ट्रेवलेटर से सबसे अधिक सहुलियत बुजुर्ग, बच्चे व दिव्यांग यात्रियों को होगी। यात्री बिना चले सीधे कॉनकोर्स पर पहुंच जायेंगे। फिलहाल ट्रेवलेटर की सुविधा दिल्ली व मुंबई आदि अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर उपलब्ध है। दिल्ली के कंस्लटेंट द्वारा तैयार डिजायन की मंजूरी मिलने के बाद जल्द ही निर्माण कार्य के लिए टेंडर की प्रक्रिया शुरू होगी। प्रथम फेज में जंक्शन के दक्षिणी छोर व उत्तरी छोर के आरपीएफ बैरक के पास बहुमंजलीय भवन का निर्माण होगा। 200 करोड़ का प्रावधान पुनर्विकास योजना के लिए किया गया है।

कहते हैं अधिकारी
"मुजफ्फरपुर जंक्शन को स्टेशन पुनर्विकास योजना के तहत विकसित किया जाएगा। यहां पर एयरपोर्ट जैसी सुविधाएं रेल यात्रियों को दी जाएगी। इसके लिए आरएलडीए की देखरेख में कार्य चल रहा है।" -राजेश कुमार, सीपीआरओ, पूर्व मध्य रेलवे
दो साल में बदल जायेगा जंक्शन का स्वरूप

यह भी पढ़ें - शिक्षा निदेशालय के आदेश के बाद नियोजित शिक्षकों के प्रमाण पत्रों पर बोर्ड ने लगाई सत्यापन की मोहर

आरएलडीए के अधिकारियों के अनुसार दो साल में जंक्शन का स्वरूप बदल जायेगा। बिल्डिंग आदि का निर्माण पूरी होने से जंक्शन पर विश्वस्तरीय सुविधाएं यात्रियों को मिल सकेगी। निर्माण कार्य आरएलडीए की देखरेख में चलेगा। छह माह में निर्माण कार्य शुरू कर लेना है। बिहार के गया जंक्शन पर प्रथम व मुजफ्फरपुर जंक्शन पर दिृतीय चरण के तहत निर्माण कार्य किया जाना है। बाहरी निवेशकों के बदले रेलवे निर्माण कार्य पर खुद के फंड का उपयोग करेगा।


Buy Amazon Product