बड़ी खबरें

 राज्य के नियोजित शिक्षकों को वरीयता को लेकर शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री अपर मुख्य सचिव का संयुक्त बयान जारी राज्य के नियोजित शिक्षकों को वरीयता को लेकर शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री अपर मुख्य सचिव का संयुक्त बयान जारी सुबे के लाखों शिक्षकों को मिलेगी बड़ी राहत शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह को मिलीसुबे के लाखों शिक्षकों को मिलेगी बड़ी राहत शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह को मिली शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं

NCERT ने लिया सबसे बड़ा फैसला, शैक्षणिक सत्र 2022-23 के लिए पाठ्यक्रम होगा कम

NCERT ने लिया सबसे बड़ा फैसला, शैक्षणिक सत्र 2022-23 के लिए पाठ्यक्रम होगा कम

NCERT ने सभी कक्षाओं के लिए अगले वर्ष के लिए पाठ्यक्रम और पाठ्यपुस्तकों को कम करने का निर्णय लिया है. 15 दिसंबर 2021 को एनसीईआरटी के प्रभारी निदेशक श्रीधर श्रीवास्तव ने विभागों के प्रमुखों को आंतरिक और बाहरी विशेषज्ञों को शामिल करके समीक्षा करने का आदेश दिया

 

यह भी पढ़ें - राज्य के हजारों शिक्षकों के सेवा शर्त नियमावली में हुआ बड़ा बदलाव 1 तारीख से यह शिक्षक हो जाएंगे सहायक अध्यापक।

एनसीईआरटी ने शैक्षणिक सत्र 2022-23 के लिए सभी कक्षाओं की स्कूली पाठ्यपुस्तकों को हल्का करने का निर्णय लिया है. देश में COVID 19 महामारी के कारण सीखने की प्रक्रिया में व्यवधान के कारण परिषद ने ये फैसला लिया है. पिछले कुछ दिनों में मामले बढ़े हैं जिसके कारण स्कूल बंद हैं और ऑनलाइन कक्षाएं जारी हैं।

NCERT ने सभी कक्षाओं के लिए अगले वर्ष के लिए पाठ्यक्रम और पाठ्यपुस्तकों को कम करने का निर्णय लिया है. 15 दिसंबर 2021 को एनसीईआरटी के प्रभारी निदेशक श्रीधर श्रीवास्तव ने विभागों के प्रमुखों को आंतरिक और बाहरी विशेषज्ञों को शामिल करके समीक्षा करने का आदेश दिया।

यह भी पढ़ें - राज्य के हजारों शिक्षकों के सेवा शर्त नियमावली में हुआ बड़ा बदलाव 1 तारीख से यह शिक्षक हो जाएंगे सहायक अध्यापक।

विभागाध्यक्षों को 28 दिसंबर, 2021 तक रिपोर्ट देने के लिए कहा गया है. रिपोर्टों के अनुसार, निदेशक को शैक्षणिक सत्र 2022-23 के लिए संशोधित प्रस्तावित परिवर्तनों के साथ पाठ्यपुस्तकों को पब्लिश के लिए भेजने का भी निर्देश दिया गया है. 2022-23 सत्र के लिए स्कूली पाठ्यपुस्तकों को “हल्का” करने का निर्णय ऑनलाइन और अन्य तरीकों से सीखने में छात्रों के संघर्ष को देखते हुए लिया गया है। NCF 2022 पर आधारित नई पाठ्यपुस्तकों को NCERT द्वारा शैक्षणिक सत्र 2023-24 से पेश किए जाने की संभावना है. एनसीईआरटी कोर्सवर्क पर अधिक अपडेट के लिए आधिकारिक घोषणाओं को पढ़ते रहें.


Buy Amazon Product