बड़ी खबरें

78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी।78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी। राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी

शिक्षकों के गृह जिला स्थानांतरण की घोषणा से शिक्षकों में नव वर्ष का तोहफा

शिक्षकों के गृह जिला स्थानांतरण की घोषणा से शिक्षकों में नव वर्ष का तोहफा

शिक्षा मंत्री द्वारा नववर्ष का तोहफा देते हुए जनवरी माह में प्राथमिक शिक्षकों को गृह जिले में स्थानांतरित करने की घोषणा से शिक्षकों में काफी हर्ष है। शिक्षा मंत्री के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए एकीकृत गृह जिला स्थानांतरण शिक्षक संघ के प्रदेश प्रभारी दिलीप कुमार राय ने कहा कि गृह जिला स्थानांतरण नया वर्ष का बेहतरीन तोहफा साबित होगा। हम शिक्षक लगातार गृह जिला स्थानांतरण को लेकर सरकार से निवेदन कर रहे थे और सरकार की तरफ से यह बार बार आश्वासन दिया जा रहा था कि धैर्य रखें गृह जिले में स्थानांतरण होगा। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नेतृत्व में झारखंड सरकार के दो वर्ष पूरे होने के मौके पर माननीय शिक्षा मंत्री द्वारा जनवरी माह में शिक्षकों को गृह जिले में स्थानांतरित करने की घोषणा ने साबित किया कि झारखंड सरकार शिक्षकों की समस्याओं को लेकर गंभीर है। एक तरफ सरकार ने पारा शिक्षकों को स्थायीकरण एवं मानदेय वृद्धि का तौहफा दिया है वहीं दूसरी तरफ सरकार ने गृह जिले में स्थानांतरित करने की घोषणा कर अपनी मंशा साफ कर दिया है। पुरानी पेंशन योजना को भी लागू करने का भरोसा

दिलाया है। संघ के प्रदेश प्रभारी श्री राय ने कहा कि गृह जिला स्थानांतरण कि मांग को लेकर लगातार निवेदन अभियान चलाया जा रहा था। स्पीकर रविन्द्र नाथ महतो, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो, ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम, कृषि मंत्री बादल पत्रलेख खेल मंत्री व अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री हफिजूल हसन, सांसद विजय हांसदा, विधायक प्रदीप यादव, दीपिका पांडेय, बंधु तिर्की, मथुरा प्रसाद महतो, दिनेश मरांडी, नलिन सोरेन, डॉ इरफान अंसारी, बंधु तिर्की, विकसल कौनगाड़ी, ममता देवी, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर समेत सत्ता पक्ष के लगभग सभी विधायकों से हमारे संघ के साथियों ने ज्ञापन देकर गृह जिला स्थानांतरण का निवेदन करते रहे हैं।

हम लोगों ने सरकार के साकारात्मक रूख को देखते हुए रांची में निवेदन सह धन्यवाद यात्रा का आयोजन कर माननीय शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को उनके मंत्री आवास पर पहुंचकर धन्यवाद दे चुके हैं। माननीय शिक्षा मंत्री ने हम शिक्षकों के विश्वास और भरोसा को बढ़ाने का काम किया है और हम सभी के आशानुरूप जनवरी माह में ही गृह जिला स्थानांतरण करने की घोषणा किए हैं। श्री राय ने कहा कि एकीकृत गृह जिला स्थानांतरण शिक्षक संघ की तरफ से रांची पहुंचकर धन्यवाद एवं आभार व्यक्त किया जाएगा। सरकार गठन के दूसरी वर्षगांठ के मौके पर माननीय मुख्यमंत्री महोदय ने कहा है कि समस्याओं का ê सड़क पर नहीं वार्ता करने से होगा और मुख्यमंत्री वार्ता के लिए तैयार हैं यह बहुत बड़ा संदेश है। सबसे खुशी की बात है कि हम शिक्षकों को सरकार ने सम्मान देने का काम किया है। शिक्षा विभाग में व्याप्त समस्याओं के समाधान एवं झारखंड की शैक्षणिक व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए मुख्यमंत्री महोदय से मुलाकात कर एक सुझाव पत्र दिया जाएगा। शिक्षकों के सुझावों को शामिल किए वगैर शिक्षा व्यवस्था को दुरूस्त नहीं किया जा सकता है और पूरी उम्मीद है माननीय मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री महोदय से वार्ता कर और बेहतर शैक्षणिक माहौल झारखंड में बनाया जाएगा।


Buy Amazon Product