बड़ी खबरें

बड़ी खबर: नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में पढ़ाई के साथ कमाई भी होगी: धर्मेंद्र प्रधानबड़ी खबर: नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में पढ़ाई के साथ कमाई भी होगी: धर्मेंद्र प्रधान दिवाली से पहले कर्मचारियों ब शिक्षकों को मिल सकता है बंपर तोहफा 3 जगह से आएगा पैसा जान ले कैसे?दिवाली से पहले कर्मचारियों ब शिक्षकों को मिल सकता है बंपर तोहफा 3 जगह से आएगा पैसा जान ले कैसे? कैचअप कोर्स से बच्चों और शिक्षकों का 3 ग्रेड में होगा मूल्यांकन जाने विस्तार से उसके बाद शिक्षकों का क्या होने वाला है? कैचअप कोर्स से बच्चों और शिक्षकों का 3 ग्रेड में होगा मूल्यांकन जाने विस्तार से उसके बाद शिक्षकों का क्या होने वाला है? 3.57 लाख शिक्षकों को 15% वेतन वृद्धि का लाभ वित्त विभाग से आने के बाद अब नए साल में मिलने की उम्मीद: अपर मुख्य सचिव3.57 लाख शिक्षकों को 15% वेतन वृद्धि का लाभ वित्त विभाग से आने के बाद अब नए साल में मिलने की उम्मीद: अपर मुख्य सचिव प्रारंभिक विद्यालयों में प्रधान शिक्षक प्रधानाध्यापक पद का जिला भार हुआ आवंटन पत्र हुआ जारी।:प्राथमिक शिक्षा निर्देशकप्रारंभिक विद्यालयों में प्रधान शिक्षक प्रधानाध्यापक पद का जिला भार हुआ आवंटन पत्र हुआ जारी।:प्राथमिक शिक्षा निर्देशक शिक्षकों को बरगला रही सरकार 15 प्रतिशत की वेतन बढ़ोतरी स्थानांतरण एवं प्रोन्नति का भी मामला लटका। शिक्षकों को बरगला रही सरकार 15 प्रतिशत की वेतन बढ़ोतरी स्थानांतरण एवं प्रोन्नति का भी मामला लटका।

अब कर्मचारी भविष्य निधि EPFO के खाते को अलग करने की तैयारी।

अब कर्मचारी भविष्य निधि EPFO के खाते को अलग करने की तैयारी।

सेवानिवृत्ति के बाद पेंशन लाभ से वंचित न रहे कोई इसको लेकर पूरी कवायद योजना: पीएफ और पेंशन खाते को अलग करने की तैयारी में केंद्र
कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के करीब छह करोड़ अंशधारकों के लिए बड़ी खबर है। केंद्र सरकार मासिक पेंशन भुगतान की सुरक्षा के लिए भविष्य निधि (पीएफ) और पेंशन खातों को अलग करने की योजना बना रही है। इससे जुड़े दो शीर्ष अधिकारियों ने यह जानकारी दी है।

राज्य के लाखों नियोजित शिक्षकों के लिए सरकार के द्वारा जारी हुआ निर्देश बरसों का इंतजार खत्म।

 

सरकार ऐसा इसलिए करना चाहती है कि जब कर्मचारी अपना भविष्य निधि निकालते हैं तो वे अपने पेंशन फंड में से भी पैसा निकाल लेते हैं, क्योंकि पीएफ और पेंशन एक ही खाते का हिस्सा हैं। पिछले साल महामारी के प्रकोप के बाद 31 मई 2021 तक कोविड एडवांस के तहत कुल 70.63. लाख कर्मचारियों ने पैसा निकाल लिया है। ईपीएफओ से किसी भी कारण से निकासी करते समय, ग्राहक अक्सर पेंशन राशि सहित अपनी सारी बचत निकाल लेते हैं। सरकार के अनुसार यह सेवानिवृत्ति पेंशन लाभ प्रावधानों के उद्देश्य को झटका देता है।

लोगों को अधिक पेंशन की चाहत ईपीएफओ के केंद्रीय बोर्ड के सदस्य बृजेश उपाध्याय ने कहा, जैसे-जैसे कोविड-19 दूसरी लहर कम हो रही है, आप इस मोर्चे पर और कदम उठाया जाएगा। वर्तमान में, ईपीएफओ ग्राहक एक पूल खाता प्रणाली में है। ईपीएफ और पेंशन के लिए अलग खाते की जरूरत है। लोग अधिक पेंशन की चाहत कर रहे हैं और उसके लिए दोनों खातों को अलग करना सबसे अच्छा समाधान है। एक बार जब वे अलग हो जाते हैं, तो एक ग्राहक पेंशन में अधिक योगदान कर सकता है और अधिक पेंशन प्राप्त करने का पात्र बन सकता है। 

दो तरह की स्कीम संभव उपाध्याय ने कहा कि दो अलग-अलग स्कीम की संभावना है। एक प्रति माह 15,000 रुपये की वेतन सीमा से कम आय वालों के लिए और दूसरी उन सभी ग्राहकों के लिए जो अधिक कमा रहे हैं। सरकार वर्तमान में ईपीएफओ की कर्मचारी पेंशन योजना के हिस्से के रूप में 15,000 रुपये से कम मासिक वेतन पाने वाले प्रत्येक पीएफ सदस्य की पेंशन में 1.16% का योगदान करती है 

अधिकारी ने कहा कि इस साल की शुरुआत में एक आंतरिक सरकारी पैनल द्वारा ईपीएफ और ईपीएस खातों को अलग करने की सलाह देने के बाद ईपीएफओ बोर्ड की बैठक में इस मामले पर चर्चा की गई थी। अधिकारी ने कहा, ईपीएफओ के तहत, पीएफ और पेंशन योजनाओं में दो अलग- अलग खाते होने चाहिए।


Buy Amazon Product