बड़ी खबरें

राज्य के प्रारंभिक शिक्षकों के वेतन के लिए 914 करोड़ रुपए हो गए जारी नए वेतन में अब कितना बढ़कर मिलेगा जान ले।राज्य के प्रारंभिक शिक्षकों के वेतन के लिए 914 करोड़ रुपए हो गए जारी नए वेतन में अब कितना बढ़कर मिलेगा जान ले। नई नीति के तहत स्कूली पाठ्यक्रम को नए ढांचे में गढ़ने की तैयारी शिक्षकों को ऐसा करना होगा? नई नीति के तहत स्कूली पाठ्यक्रम को नए ढांचे में गढ़ने की तैयारी शिक्षकों को ऐसा करना होगा?  पप्पू यादव की ‘दहाड़’, कहा- नित्यानंद राय और तेजस्वी को चुल्लू भर पानी में डूब मर जाना चाहिए, जानें पूरा मामला पप्पू यादव की ‘दहाड़’, कहा- नित्यानंद राय और तेजस्वी को चुल्लू भर पानी में डूब मर जाना चाहिए, जानें पूरा मामला शिक्षकों के ग्रेड पे में हुआ बड़ा बदलाव, नियोजित शिक्षक फिर किए दक्षता परीक्षा की मांग।शिक्षकों के ग्रेड पे में हुआ बड़ा बदलाव, नियोजित शिक्षक फिर किए दक्षता परीक्षा की मांग।  महागठबंधन में दरार, कांग्रेस से पीछा छुड़ाने की फिराक में राजद! महागठबंधन में दरार, कांग्रेस से पीछा छुड़ाने की फिराक में राजद! प्रशिक्षित नियोजित शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग के प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने वेतन निर्धारण को लेकर जारी किया निर्देश पत्र हुआ जारी।प्रशिक्षित नियोजित शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग के प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने वेतन निर्धारण को लेकर जारी किया निर्देश पत्र हुआ जारी।

अब कर्मचारी भविष्य निधि EPFO के खाते को अलग करने की तैयारी।

अब कर्मचारी भविष्य निधि EPFO के खाते को अलग करने की तैयारी।

सेवानिवृत्ति के बाद पेंशन लाभ से वंचित न रहे कोई इसको लेकर पूरी कवायद योजना: पीएफ और पेंशन खाते को अलग करने की तैयारी में केंद्र
कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के करीब छह करोड़ अंशधारकों के लिए बड़ी खबर है। केंद्र सरकार मासिक पेंशन भुगतान की सुरक्षा के लिए भविष्य निधि (पीएफ) और पेंशन खातों को अलग करने की योजना बना रही है। इससे जुड़े दो शीर्ष अधिकारियों ने यह जानकारी दी है।

राज्य के लाखों नियोजित शिक्षकों के लिए सरकार के द्वारा जारी हुआ निर्देश बरसों का इंतजार खत्म।

 

सरकार ऐसा इसलिए करना चाहती है कि जब कर्मचारी अपना भविष्य निधि निकालते हैं तो वे अपने पेंशन फंड में से भी पैसा निकाल लेते हैं, क्योंकि पीएफ और पेंशन एक ही खाते का हिस्सा हैं। पिछले साल महामारी के प्रकोप के बाद 31 मई 2021 तक कोविड एडवांस के तहत कुल 70.63. लाख कर्मचारियों ने पैसा निकाल लिया है। ईपीएफओ से किसी भी कारण से निकासी करते समय, ग्राहक अक्सर पेंशन राशि सहित अपनी सारी बचत निकाल लेते हैं। सरकार के अनुसार यह सेवानिवृत्ति पेंशन लाभ प्रावधानों के उद्देश्य को झटका देता है।

लोगों को अधिक पेंशन की चाहत ईपीएफओ के केंद्रीय बोर्ड के सदस्य बृजेश उपाध्याय ने कहा, जैसे-जैसे कोविड-19 दूसरी लहर कम हो रही है, आप इस मोर्चे पर और कदम उठाया जाएगा। वर्तमान में, ईपीएफओ ग्राहक एक पूल खाता प्रणाली में है। ईपीएफ और पेंशन के लिए अलग खाते की जरूरत है। लोग अधिक पेंशन की चाहत कर रहे हैं और उसके लिए दोनों खातों को अलग करना सबसे अच्छा समाधान है। एक बार जब वे अलग हो जाते हैं, तो एक ग्राहक पेंशन में अधिक योगदान कर सकता है और अधिक पेंशन प्राप्त करने का पात्र बन सकता है। 

दो तरह की स्कीम संभव उपाध्याय ने कहा कि दो अलग-अलग स्कीम की संभावना है। एक प्रति माह 15,000 रुपये की वेतन सीमा से कम आय वालों के लिए और दूसरी उन सभी ग्राहकों के लिए जो अधिक कमा रहे हैं। सरकार वर्तमान में ईपीएफओ की कर्मचारी पेंशन योजना के हिस्से के रूप में 15,000 रुपये से कम मासिक वेतन पाने वाले प्रत्येक पीएफ सदस्य की पेंशन में 1.16% का योगदान करती है 

अधिकारी ने कहा कि इस साल की शुरुआत में एक आंतरिक सरकारी पैनल द्वारा ईपीएफ और ईपीएस खातों को अलग करने की सलाह देने के बाद ईपीएफओ बोर्ड की बैठक में इस मामले पर चर्चा की गई थी। अधिकारी ने कहा, ईपीएफओ के तहत, पीएफ और पेंशन योजनाओं में दो अलग- अलग खाते होने चाहिए।


Buy Amazon Product