बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

अब शिक्षक को अपने स्कूल का कक्षा लेने के बाद दूसरे स्कूल का भी कक्षा लेने जाना होगा विभाग ने जारी किया आदेश

अब शिक्षक को अपने स्कूल का कक्षा लेने के बाद दूसरे स्कूल का भी कक्षा लेने जाना होगा विभाग ने जारी किया आदेश

आंगनबाड़ी केन्द्रों पर प्राथमिक स्कूल के एक शिक्षक कक्षा लेंगे। जिले समेत सूबे के सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों को निकट के प्राथमिक स्कूल के साथ मैपिंग और टैगिंग करना है। इसको लेकर पहले ही सरकार की ओर से निर्देश दिया जा चुका है। नई शिक्षा नीति के तहत पूर्व प्राथमिक शिक्षा और प्राथमिक शिक्षा को एक साथ करने के लिए यह शुरुआत की गई है।

यह भी पढ़ें - बिहार समेत देश के सभी स्कूलों होंगे बंद ,केंद्र सरकार ने जारी किया निर्देश।

प्राथमिक शिक्षा निदेशक अमरेन्द्र प्रसाद सिंह ने मुजफ्फरपुर समेत सभी जिले के डीईओ को निर्देश दिया है। जिले में दो हजार प्राथमिक स्कूलों के साथ आंगनबाड़ी केन्द्रों को टैग करना है। प्रखंड शिक्षा अधिकारी और बाल विकास परियोजना अधिकारी के सहयोग से वैसे आंगनबाड़ी केन्द्र जो स्कूल परिसर के बाहर संचालित हैं, उनके केन्द्रों को नजदीक के स्कूल के साथ 15 दिन के अंदर टैग कर देना है। इसके साथ ही प्रत्येक आंगनबाड़ी केन्द्रों के लिए पास के स्कूल के शिक्षक को केन्द्रों पर नामांकित बच्चों को पूर्व प्राथमिक शिक्षा देने के लिए नामित करना है। नामित शिक्षक हर सप्ताह में कम से कम दो दिन आंगनबाड़ी केन्द्रों पर बच्चों को पूर्व प्राथमिक शिक्षा देंगे। हेडमास्टर चाहे तो शिक्षकों को हर महीने बदल-बदल कर भेज सकते हैं। किस दिन शिक्षक आंगनबाड़ी केन्द्र पर बच्चों की कक्षा ले रहे हैं, इसकी रिपोर्ट सरकार को भेजी जाएगी।

यह भी पढ़ें - बिहार समेत देश के सभी स्कूलों होंगे बंद ,केंद्र सरकार ने जारी किया निर्देश।

 

प्रारंभिक स्कूलों के प्रधानों को एमडीएम से किया जाए मुक्त

• अपर मुख्य सचिव को मांग सह अनुरोध पत्र भी भेजा

• शिक्षकों को गैर शैक्षणिक कार्यों से मुक्त करना अनिवार्य

प्रारंभिक विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों व शिक्षकों को प्रधानमंत्री पोषण योजना से मुक्त किया जाए। शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के अंतर्गत विद्यालय के छात्रों को अनिवार्य व निःशुल्क शिक्षा प्रदान करने के लिए के लिए प्रधानाध्यापकों एवं शिक्षकों को मध्याह्न भोजन योजना जैसे गैर शैक्षणिक कार्यों से मुक्त करना अनिवार्य है।

यह भी पढ़ें - बिहार समेत देश के सभी स्कूलों होंगे बंद ,केंद्र सरकार ने जारी किया निर्देश।

उक्त बातें रविवार को हुए बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघर्ष मोर्चा की बैठक में एमजेके कॉलेज परिसर में जिला संयोजक मुकेश कुमारगुप्ता ने कही। विद्यालय प्रधानों नेएमडीएम से मुक्त करने की मांग की। अपर मुख्य सचिव शिक्षा विभाग बिहार पटना व मध्यान्ह भोजन योजना निदेशक को मांग सह अनुरोध पत्र भी भेजा गया। जिला संयोजक श्री गुप्ता ने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के क्रियान्वयन में भी वर्तमान प्रधानमंत्री पोषण योजना सबसे बड़ी बाधा बनेगी। शिव कुमार सिंह ने कहा कि पीएम पोषण योजना के संचालन के लिए विद्यालय प्रधानों को यूजर आईडी व पासवर्ड जनरेट करना है।


Buy Amazon Product