बड़ी खबरें

राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी मुख्यमंत्री का कार्यालय बिहार सरकार (जनसंपर्क कोपांग) से शिक्षकों के लिए प्रेस विज्ञप्ति जारी हो गई आखिरकार शिक्षकों को मिल ही गयामुख्यमंत्री का कार्यालय बिहार सरकार (जनसंपर्क कोपांग) से शिक्षकों के लिए प्रेस विज्ञप्ति जारी हो गई आखिरकार शिक्षकों को मिल ही गया

पुरानी पेंशन योजना लागू करने के लिए प्रधानमंत्री को मिला पत्र, एनपीएस में 4.4% मिलेगी जान ले कैसे मिलेगा

पुरानी पेंशन योजना लागू करने के लिए प्रधानमंत्री को मिला पत्र, एनपीएस में 4.4% मिलेगी जान ले कैसे मिलेगा

पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर एम्स नर्सेज यूनियन ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है। यूनियन अध्यक्ष हरीश कुमार काजला द्वारा लिखे पत्र के अनुसार देश की अर्थव्यवस्था विश्व में तेजी से बढ़ रही है। सरकारी कर्मचारी राष्ट्र निर्माण के लिए प्रतिबद्ध है। लेकिन भविष्य को लेकर चिंतित है। एनपीएस से मिलने वाला बकाया 4.4 फीसदी से भी घट गया है। जिसका कर्मचारियों को कोई लाभ नहीं मिलेगा।

 

यह भी पढ़ें - पुरानी पेंशन व्यवस्था की मांग को आजाद लेकर कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन,मांग पूरी नहीं हुई, तो करेंगे रेल चक्का जाम।

एक जुलाई से 5000 स्कूलों में प्री-प्राइमरी की पढ़ाई

 

प्राइवेट स्कूलों की तर्ज पर उत्तराखंड के पांच हजार स्कूलों में एक जुलाई से प्री- प्राइमरी कक्षाएं शुरू हो जाएंगी। ये वो स्कूल हैं, जिनके परिसरों पर आंगनबाड़ी केंद्र भी चल रहे हैं। आंगनबाड़ी में आने वाले छात्रों को प्री-प्राइमरी में अक्षर और संख्या ज्ञान कराया जाएगा। शिक्षा सचिव आर. मीनाक्षी सुंदरम ने एससीईआरटी को जल्द से जल्द प्री-प्राइमरी का सिलेबस तैयार करने के निर्देश दिए हैं। छात्रों की पुस्तकों को आकर्षक, सरल और चित्रों पर आधारित बनाने को कहा गया है। पर बनाने को कहा है। एससीईआरटी के अपर निदेशक डॉ. आरडी शर्मा ने बताया कि सिलेबस को अंतिम रूप दे दिया गया है। इसे पुस्तक के रूप में प्रकाशित कराया जा रहा है।

 

यह भी पढ़ें - नियोजित शिक्षकों को प्रमोशन नहीं दिए जाने पर कोर्ट जाएगा शिक्षक संघ, मिलेगा स्नातक ग्रेड में प्रमोशन।

यह फायदा मिलेगा

 

वर्तमान व्यवस्था में सरकारी स्कूलों में पढ़ाई की शुरुआत पहली कक्षा से होती है। छात्र को पहली कक्षा से अक्षर और संख्या ज्ञान सीखना होता है। प्री-प्राइमरी में अक्षर-संख्या ज्ञान से वाकिफ हो जाने से छात्र पहली कक्षा के सिलेबस को आसानी से समझ सकेंगे। विभिन्न स्तर पर हुए सर्वेक्षण में अक्सर सरकारी स्कूलों के छात्रों को उनकी कक्षा के मुकाबले कम शैक्षिक स्तर का पाया गया है।


Buy Amazon Product