बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

नियोजित शिक्षकों के वेतन बढ़ोतरी एवं 15% बकाया एरियर का भुगतान एक शिक्षक को 30 से 35 हजार तक हुआ आप भी अपना जान ले

नियोजित शिक्षकों के वेतन बढ़ोतरी एवं 15% बकाया एरियर का भुगतान एक शिक्षक को 30 से 35 हजार तक हुआ आप भी अपना जान ले

1)डीईओ की बिना सहमति डीपीओ ने किया भुगतान
2)वेतन बढ़ोतरी भुगतान पर सहमति नहीं बनी
3)वेतन राशि से बकाया भुगतान पर अब बनी दूरी
4) एक शिक्षक को 30-35 हजार किया है भुगतान
लखीसराय।
शिक्षा विभाग में वेतन एवं बकाया भुगतान पर शिक्षा पदाधिकारियों के बीच सहमति नहीं है। राज्य सरकार के द्वारा शिक्षकों के वेतन में 15 प्रतिशत का बढ़ोत्तरी किया गया। डीपीओ स्थापना के द्वारा वेतन भुगतान की राशि से जिला के अधिकांश प्रखंड के शिक्षकों को किया गया है।बिगत गुरुवार को सूर्यगढ़ा प्रखंड के 15 प्रतिशत बकाया भुगतान को लेकर खुब रार हुआ। शिक्षक स्थापना से जिला शिक्षा कार्यालय तक शिक्षकों ने हंगामा बरपाया उसके बाद शिक्षकों के दबाब में बकाया राशि का भुगतान कर दिया गया।

यह भी पढ़ें - 91 हजार सरकारी प्राइमरी से प्लसटू स्कूलों के लिए एक अवकाश तालिका लागू हुआ बड़ा बदलाव जान ले अब कितनी छुट्टी मिलेगी

 बकाया भुगतान से पहले पदाधिकारियों के बीच खुब मैच हुआ। बुधवार शाम डीईओ बिमलेश कुमार चौधरी को वेतन भुगतान की राशि से बकाया भुगतान की जानकारी मिली तो गुरुवार को वह स्थापना कार्यालय पहुंचे और मामले की जांच की। डीईओ ने ऐसे कार्यों पर नाराजगी जताई और कार्रवाई को लेकर विभाग के वरीय पदाधिकारियों को रिपोर्ट करने की बात कही। डीईओ के सख्ती के बाद डीपीओ ने सूर्यगढ़ा प्रखंड के शिक्षकों के बकाया भुगतान पर तत्काल रोक लगा दी। मामला फंसता देख स्थापना शाखा के द्वारा भुगतान के अनुमोदन को संचिका डीईओ के पास ले जाया गया लेकिन उन्होंने अनुमोदन देने से इंकार कर दिया। वहीं डीईओ ने कहा, छह प्रखंड के शिक्षकों को बकाया भुगतान किया तो अनुमति क्यों नहीं ली।

यह भी पढ़ें - 31 दिसंबर तक सभी सरकारी एवं प्राइवेट स्कूल हो गए बंद जिलाधिकारी ने दिया आदेश पत्र हुआ जारी

सूर्यगढ़ा प्रखंड के भुगतान से पूर्व अनुमति लेने का प्रयास किया गया। डीईओ ने भुगतान का संचिका पर अनुमति नहीं देने पर डीपीओ के द्वारा शिक्षकों के दबाब में वेतन मद की बचे राशि बकाया भुगतान कर दिया। बचे हुए राशि से बकाया भुगतान मामले में डीईओ डीपीओ स्थापना के विरूद्ध विभाग के वरीय पदाधिकारियों को रिपोर्ट सौंप दी
वेतन मद की राशि से बकाया का भुगतान नियम  संगत नहीं है। सूर्यगढ़ा प्रखंड के बकाया भुगतान को संचिका लायी थी लेकिन राशि नहीं रहने से अनुमति नहीं दी |गई। पूर्व में भी बकाया भुगतान को लेकर अनुमति नहीं लिया गया। पूर्व में नियम के विरूद्ध हुए भुगतान के बाद अनुमित देना नियम संगत नहीं था । बिमलेश कुमार चौधरी, डीईओ, लखीसराय

यह भी पढ़ें - 31 दिसंबर तक सभी सरकारी एवं प्राइवेट स्कूल हो गए बंद जिलाधिकारी ने दिया आदेश पत्र हुआ जारी

अलग अलग तिथियों में हुआ राशि का भुगतान
15 प्रतिशत वेतन बढ़ोतरी के बकाया राशि के भुगतान के लिए विभाग द्वारा राशि उपलब्ध नहीं कराए जाने के बाद स्थापना शाखा के द्वारा भुगतान को लेकर नायाब तरीका निकाला। स्थापना शाखा के द्वारा वेतन भुगतान के बाद बचे हुए राशि से अलग अलग प्रखंडों को अलग अलग तिथियों को भुगतान कर दिया गया। एक बार भुगतान होने पर मामला फंसता देख अलग अलग तिथियों को अलग अलग प्रखंडों को भुगतान किया गया। एक शिक्षक को 30 से 35 हजार रुपए के आसपास बकाया राशि का भुगतान किया गया है।


Buy Amazon Product