बड़ी खबरें

स्कूल कॉलेज खुलते हैं बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विभाग ने बदला अपना फैसला।

स्कूल कॉलेज खुलते हैं बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विभाग ने बदला अपना फैसला।

पटना। बिहार के स्कूल-कॉलेजों व अन्य शिक्षण संस्थानों में कक्षाएं शुरू होने के बाद कोरोना संक्रमण की शिकायतों के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग संक्रमण की रैंडम जांच कराएगा। सोमवार को शिक्षण संस्थान खुलने पर रैंडम जांच की कार्रवाई शुरू होगी। स्वास्थ्य विभाग ने सभी सिविल सर्जनों को रैंडम जांच कराने का निर्देश दिया है।

बड़ी खबर सभी डीपीओ पर गिरेगी गाज :माध्यमिक शिक्षा निदेशक गिरवर दयाल सिंह।

रविवार को स्वास्थ्य विभाग के निदेशक प्रमुख, स्वास्थ्य सेवाएं डॉ. एनसी प्रसाद ने बताया कि रैंडम जांच से संक्रमितों की पहचान की जाएगी। शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत को पत्र लिख कर कोरोना जांच कराने का अनुरोध किया था। गौर हो कि मुंगेर व गया के स्कूलों में शिक्षकों व विद्यार्थियों के संक्रमित मिलने का मामला प्रकाश में आया था।

आगे भी पढ़ें।

अपने ही स्कूलों में प्रैक्टिकल देंगे स्टूडेंट्स

पटना : सीबीएसइ स्कूलों में एक मार्च से प्रैक्टिकल परीक्षा शुरू हो जायेगी । परीक्षा की तैयारियां शुरू कर दी गयी है। 10वीं और 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षा स्टूडेंट्स अपने स्कूल में ही देंगे। पिछले साल की ही तरह ही प्रैक्टिकल स्वकेंद्र पर आयोजित किया जायेगा । प्रैक्टिकल के लिए स्टूडेंट्स को दूसरे स्कूल में जाना नहीं पड़ेगा । बोर्ड परीक्षाओं की ही तरह प्रैक्टिकल की परीक्षाओं का केंद्र.


Buy Amazon Product