बड़ी खबरें

नियोजित शिक्षकों के चालू वित्तीय वर्ष एवं बकाया वेतन का भुगतान के लिए राशि हुआ आवंटन जान ले कितना मिलेगा ।नियोजित शिक्षकों के चालू वित्तीय वर्ष एवं बकाया वेतन का भुगतान के लिए राशि हुआ आवंटन जान ले कितना मिलेगा । नियोजित शिक्षकों के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी बिहार सरकार ने वेतन के साथ एरिया का भी कर दिया आवंटन कौन सा महीना का मिलेगानियोजित शिक्षकों के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी बिहार सरकार ने वेतन के साथ एरिया का भी कर दिया आवंटन कौन सा महीना का मिलेगा सरकारी स्कूलों में चल रहे वर्ग में बैठकर अफसर करेंगे निरीक्षण, शिक्षकों को मिलेगा 15 जून के बाद सेवांत लाभ का मौका। सरकारी स्कूलों में चल रहे वर्ग में बैठकर अफसर करेंगे निरीक्षण, शिक्षकों को मिलेगा 15 जून के बाद सेवांत लाभ का मौका। डीईओ कार्यालय में मची हड़कंप, 2006 के बाद वाले नियोजित शिक्षकों के दक्षता को लेकर सबसे बड़ी खुशखबरी ।डीईओ कार्यालय में मची हड़कंप, 2006 के बाद वाले नियोजित शिक्षकों के दक्षता को लेकर सबसे बड़ी खुशखबरी । प्रारंभिक विद्यालय में प्रधान शिक्षक की बीपीएससी से होने वाली परीक्षा जून के इस तारीख की हो गई घोषणा जान ले पूरा दिशा निर्देश।प्रारंभिक विद्यालय में प्रधान शिक्षक की बीपीएससी से होने वाली परीक्षा जून के इस तारीख की हो गई घोषणा जान ले पूरा दिशा निर्देश। नियोजित शिक्षकों के लिए इस वक्त बड़ी खुशखबरी स्कूलों को मिलेगा दूरी का प्रमाण पत्र अब बढ़ेगा DAनियोजित शिक्षकों के लिए इस वक्त बड़ी खुशखबरी स्कूलों को मिलेगा दूरी का प्रमाण पत्र अब बढ़ेगा DA

राजस्थान में 9वीं से 12वीं तक के लिए स्कूल खुलने की संभावना है

राजस्थान में 9वीं से 12वीं तक के लिए स्कूल खुलने की संभावना है

राजस्थान में जनवरी के पहले सप्ताह से स्कूलों को खोलने की तैयारी कर ली है। सरकार का कहना है कि जनवरी के पहले सप्ताह से ट्रायल के आधार पर खोले जाएंगे। इसके तहत कक्षा 9 से 12 के छात्रों के लिए फिर से खोलने की संभावना जताई जा रही है। दरअसल शिक्षा विभाग ने 15 दिनों के ट्रायल का सुझाव बनाकर सरकार को प्रस्ताव भेजा है। अब सरकार से मंजूरी का इंतजार है। अगर सरकार शिक्षा विभाग के इस प्रस्ताव पर अपनी सहमति जता देता है तो पहले 15 दिनों के लिए स्कूल खोला जाएगा। इसके बाद आगे की स्थितियों का मूल्यांकन करने के बाद आगे फैसला लिया जाएगा।

शिक्षक संघ के महासचिव के घर चोरी

वहीं इस संबंध में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा है कि प्राथमिकता बच्चों की सुरक्षा के साथ-साथ उचित शिक्षा सुनिश्चित करना है। मीडिया रिपोर्ट में बात करते हुए मंत्री ने कहा, “राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता यह सुनिश्चित करना है कि हमारे बच्चे वायरस से प्रभावित न हों, लेकिन साथ ही उन्हें उचित शिक्षा देना हमारा कर्तव्य है। इसलिए, हम स्कूल, कॉलेज और अन्य शिक्षा संस्थान खोलने पर विचार कर रहे हैं। वहीं इस बारे में हेल्थ डिर्पाटमेंट और अन्य विभाग से इस संबंध में सुझाव ले रहे हैं।

 

हम यह भी अध्ययन और विश्लेषण कर रहे हैं कि अन्य राज्य क्या सोच रहे हैं।हालांकि अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री द्वारा ही लिया जाएगा।
प्रस्ताव के अनुसार छात्रों को बिना मास्क के प्रवेश करने की अनुमति नहीं होगी। इसके अलावा, स्कूलों को पर्याप्त हैंड सैनिटाइज़र के साथ-साथ हाथ धोने के लिए स्पॉट को भी फिक्स करना होगा। इसके साथ ही स्कूल सभी फर्नीचर और सामान्य क्षेत्रों के समुचित स्वच्छता को भी सुनिश्चित करेंगे।


Buy Amazon Product