बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

वेतन वृद्धि प्राप्त करने वाले शिक्षकों को नहीं मिल पाएगा 15 फीसदी वेतन वृद्धि का लाभ समझ ले पूरा गणित।

वेतन वृद्धि प्राप्त करने वाले शिक्षकों को नहीं मिल पाएगा 15 फीसदी वेतन वृद्धि का लाभ समझ ले पूरा गणित।

सासाराम:। शिक्षा विभाग के मनमाने आदेश के कारण प्रत्येक वर्ष जुलाई माह में वेतन वृद्धि प्राप्त करने वाले शिक्षकों को नहीं मिल पाएगा 15% वेतन वृद्धि का लाभ इस संबंध में परिवर्तनकारी प्रारंभिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष रवि सिंह ने आपत्ति व्यक्त की है। जिला महासचिव वाहिद अनवर ने कहा है कि सभी शिक्षकों को प्रत्येक वर्ष 3% वार्षिक वेतन वृद्धि मिलती है। राज्य सरकार ने 1 अप्रैल 2021 के प्रभाव से सभी शिक्षकों को 15% वेतन वृद्धि का लाभ देने की घोषणा की है किंतु जिन शिक्षकों ने जुलाई में 3% वार्षिक वेतन वृद्धि प्राप्त कर लिया उनके द्वारा वेतन वृद्धि के फलस्वरूप प्राप्त किए गए। वेतन को उसी 15% वेतन वृद्धि में सामंजित किया जा रहा है और इनके वार्षिक वेतन वृद्धि की तिथि जनवरी 2022 के लिए निर्धारित की जा रही है।

यह भी पढ़ें - नियोजित शिक्षक 27 से अपनी पे स्लिप कर सकेंगे जेनरेट सुविधा

इससे 15% के बदले शिक्षकों को मात्र 12% की वेतन वृद्धि का लाभ मिल पा रहा है। संघ के प्रदेश अध्यक्ष बंसीधर ब्रजवासी ने शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव, प्राथमिक शिक्षा निदेशक और मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर शिक्षकों के वेतन वृद्धि की तिथि जुलाई को ही अक्षुण्ण रखने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि सरकार ने जिस 15% वेतन वृद्धि की घोषणा की है। वह वेतन संरचना में सुधार के दृष्टिकोण से है। इस वेतन वृद्धि के बाद भी शिक्षकों को वेतनमान का वास्तविक स्वरूप नहीं मिल पा रहा है। वेतन वृद्धि को वित्तीय उन्नयन या प्रोन्नति नहीं माना जा सकता। इसके आधार पर 6 माह तक वेतन वृद्धि के लिए शिक्षकों को इंतजार करने के लिए विवश करना शिक्षा विभाग की मनमानी है, जिसके खिलाफ संघ उच्च न्यायालय में याचिका दायर करेगा।

यह भी पढ़ें - राज्य के प्रारंभिक शिक्षकों के वेतन के लिए 914 करोड़ रुपए हो गए जारी नए वेतन में अब कितना बढ़कर मिलेगा जान ले।

शिक्षक भर्ती • चयनित अभ्यर्थियों को दिया भरोसा मंत्री बोले- 25 फरवरी को ही नियुक्ति पत्र मिलेगा।
शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने शिक्षक अभ्यर्थियों को एक बार फिर भरोसा दिया कि परेशान न हों, समय पर नियुक्ति पत्र मिल जाएगी। पिछले तीन दिनों में नगर निकायों के 35 नियोजन इकाइयों में 460 पदों के लिए काउंसिलिंग हुई, जिसमें 207 योग्य शिक्षक अभ्यर्थी चयनित हुए हैं। पारदर्शी तरीके से काउंसिलिंग कराई जा रही है। मुख्यालय से प्राथमिक शिक्षा निदेशक रवि प्रकाश लगातार मॉनीटरिंग कर रहे हैं। 22 से 25 जनवरी तक प्रखंड नियोजन इकाइयों  की काउंसिलिंग जिला मुख्यालय के काउंसिलिंग केंद्रों पर ही होगी। 28 फरवरी को लगभग 1200 पंचायत नियोजन इकाइयों की काउंसिलिंग प्रखंड मुख्यालय स्तर के केंद्रों पर होगी। काउंसिलिंग की विडियोग्राफी कराई जा रही है। पिछले दो चरणों में 38 हजार अभ्यर्थी चयनित हो चुके हैं। बाद में पंचायत चुनाव के कारण तीसरे चरण की काउंसिलिंग कराने की अनुमति नहीं मिली। अब काउंसिलिंग पूरा होने के बाद नियुक्ति पत्र देने की तिथि भी तय कर दी गई है। 25 फरवरी को सभी चयनित अभ्यर्थियों को एक साथ नियुक्ति पत्र दे दिया जाएगा, ताकि एक ही वैकेंसी से बहाल हो रहे शिक्षक बाद में नियुक्ति पत्र मिलने से जूनियर नहीं रह जाएं।


Buy Amazon Product