बड़ी खबरें

राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी मुख्यमंत्री का कार्यालय बिहार सरकार (जनसंपर्क कोपांग) से शिक्षकों के लिए प्रेस विज्ञप्ति जारी हो गई आखिरकार शिक्षकों को मिल ही गयामुख्यमंत्री का कार्यालय बिहार सरकार (जनसंपर्क कोपांग) से शिक्षकों के लिए प्रेस विज्ञप्ति जारी हो गई आखिरकार शिक्षकों को मिल ही गया

शिक्षकों को 1 जनवरी 2019 के प्रभाव से एमएसईबी की मिली स्वीकृति वेतन में होगी वृद्धि एरियर के साथ होगा भुगतान।

शिक्षकों को 1 जनवरी 2019 के प्रभाव से एमएसईबी की मिली स्वीकृति वेतन में होगी वृद्धि एरियर के साथ होगा भुगतान।

राजकीयकृत एवं परियोजना उच्च विद्यालयों के सहायक शिक्षकों को एमएसीपी मिलने का रास्ता साफ हो गया है । दरअसल, छह मार्च, 2019 को जारी शिक्षा विभाग के संकल्प संख्या 554 में किये गये प्रावधानों के आलोक में राज्य के राजकीयकृत एवं परियोजना उच्च विद्यालयों के सहायक शिक्षकों को एक जनवरी, 2009 के प्रभाव से एमएसीपी की स्वीकृति के फलस्वरूप ग्रेड पे की स्वीकृति के में स्थिति स्पष्ट नहीं होने के कारण महालेखाकार ने माध्यमिक शिक्षा निदेशक से मार्गदर्शन मांगा था। इसके मद्देनजर शिक्षा विभाग ने वित्त विभाग से परामर्श लिया। इसके आलोक में माध्यमिक शिक्षा निदेशक द्वारा महालेखाकार को दिये गये मार्गदर्शन में कहा गया है कि राजकीयकृत एवं परियोजना उच्च विद्यालयों के सहायक शिक्षकों के प्रवेश वेतनमान पीबी -2 प्लस ग्रेड पे 4600 होने की स्थिति में इन्हें प्रथम एमएसीपी पीबी-2 प्लस ग्रेड पे 4800 देय होगा। द्वितीय एमएसीपी की स्वीकृति पर पीबी-2 प्लस ग्रेड पे 5400 तथा तृतीय एमएसीपी पीबी-3 प्लस ग्रेड पे 5400 अनुमान्य होगा। इसकी सभी क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशकों एवं जिला शिक्षा पदाधिकारियों को भी दी गयी है।

आधार कार्ड में कई बार नहीं हो सकता बदलाव। 
मुंबई  । अगर आप यह सोच रहे हैं कि आप बार-बार आधार कार्ड में अपना नाम और जन्मदिन की तारख ब द ल सकते हैं तो यह गलत है। आधार AADHAAR कार्ड में कोई भी बदलाव कुछ ही बार होता है। उसके बाद आप उसे नहीं बदल सकते हैं। हालांकि अगर आपका मोबाइल नंबर आधार कार्ड में अपडेट नहीं है तो फिर पहले तो आपको इसे अपडेट कराने के लिए आधार कार्ड सेंटर पर जाना होगा। अगर मोबाइल नंबर अपडेट है तो फिर आप कुछ बदलाव ऑन लाइन कर सकते हैं। इस समय आधार किसी भी सेवा के लिए बहुत जरूरी है। इसलिए आधार कार्ड में सभी जानकारियां अपडेट रखनी चाहिए। साल 2019 यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिट ऑफ इंडिया ने नाम, जन्मतिथि और जेंडर (लिंग) के बदलाव पर एक सीमा लगा दिया। इसके लिए आपको एक छोटा सा चार्ज भी देना होता है। जैसे बायोमैट्रिक अपडेट के लिए आपको 100 रुपए देना होगा जबकि डेमोग्राफिक अपडेट के लिए 50 रुपए और आधार को कलर में डाउनलोड करने के लिए 30 रुपए का चार्ज देना होगा ।

आधार में आप अपना नाम केवल दो बार अपडेट कर सकते हैं या बदल सकते हैं। जहां तक जन्मदिन की बात है तो आप इसकी तारीख एक बार ही बदल सकते हैं। इसके बाद अधिकतम बदलाव जन्मतिथि में आप 3 साल का कर सकते हैं। यानी आपकी जो जन्मतारीख है उसके तीन साल आगे या तीन साल पीछे की तारीख को आप कर सकते हैं। यह तारीख आपके आधार के एनरॉलमेंट के आधार पर तय होगी। इसी तरह कोई भी व्यक्ति एनरॉलमेंट के समय जो जन्मतारीख का कागजात दिया होगा, उसी को रिकॉर्ड भी माना जाएगा। अगर एनरॉलमेंट के समय आपने कोई डॉक्यूमेंट नहीं दिया है तो फिर आपने जो कहा होगा, उसे ही रिकॉर्ड में लाया जाएगा। भविष्य में यदि आप जन्मदिन की तारीख बदलना चाहते हैं तो फिर आपको उसका डॉक्यूमेंट देना होगा। यह एक ही बार बदला या अपडेट किया जाएगा। अगर आप अपने लिंग यानी जेंडर में कोई बदलाव चाहते हैं तो इसके लिए भी एक बार की सुविधा है। आप एक बार इसे बदल सकते हैं। अगर आप नाम, जन्मतिथि और जेंडर को कई बार बदलना चाहते हैं तो यह संभव है। लेकिन यह तब संभव होगा जब कोई अपवादस्वरूप स्थिति होगी। आपको इसके लिए आधार के क्षेत्रीय कार्यालय में ही फिर जाना होगा। ऐसी स्थिति में पहले आपको आधार के क्षेत्रीय कार्यालय या फिर हेल्प एटदीरेट यूआईडीएआई. जीओवी. इन को ईमेल करना होगा। फिर आपको इसका कारण बताना होगा कि आप इसे क्यों करना चाहते हैं । इसके बाद इससे संबंधित डिटेल्स और उसका प्रूफ देना होगा। आधार का क्षेत्रीय कार्यालय इसका ड्यू डिलिजेंस करेगा। अगर उसे लगा कि आपकी अपील सही है तो फिर क्षेत्रीय कार्यालय इसके लिए मंजूरी देगा। अगर आपकी अपील सही नहीं लगी तो फिर मंजूरी नहीं मिलेगी।


Buy Amazon Product