बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

स्थानांतरण की मांग को लेकर 27 से शिक्षक देंगे धरना

स्थानांतरण की मांग को लेकर 27 से शिक्षक देंगे धरना

■ संघ के राज्य संयोजक ने शिक्षकों से की अपील

■ पटना के गर्दनीबाग में शिक्षक करेंगे अनिश्चितकालीन धरना

खगड़िया। प्रारंभिक से उच्च माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत नियोजित शिक्षक-शिक्षिका वर्षों से स्थानांतरण के लिए इंतजार कर रहे हैं। अब शिक्षकों का धैर्य जवाब दे रहा है। बिहार पंचायत प्रारंभिक/माध्यमिक विद्यालय सेवा (नियुक्ति, प्रोन्नति, स्थानांतरण, अनुशासनिक कार्रवाई एवम् सेवाशर्त) 2020 में महिला एवम् दिव्यांग शिक्षकों के लिए अंतर्नियोजन इकाई अंतरजिला में ऐच्छिक स्थानांतरण एवं पुरुष शिक्षकों के लिए पारस्परिक स्थानांतरण के लिए निहित प्रावधान के बावजूद अब तक स्थानांतरण की प्रक्रिया प्रारंभ नहीं किया जा रहा है। जिससे शिक्षकों में आक्रोश है।

यह भी पढ़ें - नियोजित शिक्षकों का खुल गया किस्मत का ताला बरसों से था इंतजार आखिरकार मिल ही गया।

अंततः बाध्य होकर शिक्षकों ने पटना के गर्दनीबाग में 27 जून से अनिश्चितकालीन हड़ताल सह धरना प्रदर्शन के लिए मजबूर हुए हैं। स्थानांतरण संघर्ष मंच के राज्य संयोजन समिति सदस्य टुनटुन कुमार ने सूबे के शिक्षकों के प्रदर्शन में भाग लेने की अपील की है। शुक्रवार को एक विज्ञप्ति जारी कर कहा कि शिक्षकों के स्थानांतरण नहीं होने से शारीरिक और मानसिक रूप से परेशान हैं। महिला शिक्षकों को भारी दिक्कत है। मानवीय संवेदना को ध्यान में रखते हुए अविलंब स्थानांतरण के अधिसूचना जारी करें, अन्यथा बिहार के हजारों शिक्षक आंदोलन तेज करने के लिए मजबूर होंगे। स्थानांतरण संघर्ष मंच के सदस्य रूबी राज मंडल, प्रमोद कुमार, राजू कुमार, नावेद अंजुम, राशिद आलम, मुन्ना कुमार, वीरेंद्र कुमार, नमिता सिसोदिया आदि शिक्षकों ने स्थानंतरण प्रक्रिया प्रारंभ को लेकर आंदोलन में भाग लेने के लिए लगातार शिक्षकों से संपर्क कर रहे हैं।


Buy Amazon Product