बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

अवकाश के दिन खोले गए स्कूलों में कार्यरत शिक्षकों को जल्द मिलेगी क्षतिपूर्ति अवकाश शिक्षा विभाग से आ गयी

अवकाश के दिन खोले गए स्कूलों में कार्यरत शिक्षकों को जल्द मिलेगी क्षतिपूर्ति अवकाश शिक्षा विभाग से आ गयी

मुजफ्फरपुर, परिवर्तनकारी प्रारंभिक शिक्षक संघ ने शनिवार को डीइओ से मिलकर दिवाली या छठ के साथ क्षतिपूर्ति अवकाश देने की मांग की है. संघ के प्रमंडलीय संगठन प्रभारी लखन लाल निषाद ने डीइओ से मिलने के बाद कहा कि शिक्षकों को मिले 60 अवकाश में से चार रद्द किये गये अवकाश की क्षतिपूर्ति के लिए डीइओ के सामने मांग रखी गयी है. एक जनवरी, 22 मार्च, 17 सितंबर और आठ अक्तूबर को अवकाश को रद्द किया गया. हिंदी विद्यालय में यह अवकाश चार दिन मिलेगा और उर्दू विद्यालय में दो दिन दुर्गा पूजा की छुट्टी के दौरान बीपीएससी की परीक्षा के लिए भी शिक्षकों का 29 व 30 सितंबर को अवकाश रद्द किया गया था, उसकी भी भारपाई के लिए संगठन ने पत्र जारी करने का आग्रह किया, जिस पर डीइओ ने सकारात्मक आश्वासन दिया. शिष्टमंडल में प्रमंडलीय संगठन प्रभारी लखन लाल निषाद, जिला महासचिव हिमांशु शेखर सिंह, मुनिंद्र कुमार झा, जिला सचिव मो हामिद असगर सहित अन्य उपस्थित थे

यह भी पढ़ें - सरकारी स्कूल के शिक्षक और रसोइया ने क्लासरूम में किया रोमांस, बिहार के बांका से वायरल हुआ वीडियो

स्कूल इंस्पेक्टर सहित आधा दर्जन बीइओ का एक दिन का वेतन रोका
गया। जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय में शुक्रवार को हुई बैठक में स्कूल इंस्पेक्टर सहित आधा दर्जन बीइओ अनुपस्थित रहे. जिले में शिक्षा संबंधी योजनाओं व अन्य बिंदुओं पर चर्चा को लेकर सभी प्रखंडों के प्रखंड शिक्षा पदाधिकारियों व स्कूल इंस्पेक्टरों की बैठक बुलाई गयी थी. जिसमें अनुपस्थित शिक्षा विभाग के अफसरों को जिला शिक्षा पदाधिकारी राजदेव राम ने गैरजिम्मेदार रवैया बताते हुए शोकॉज किया है. अनुपस्थि रहे अफसरों को एक दिन का वेतन स्थगित किया है. अनुपस्थित रहने वालों में नगर निगम उतरी के विद्यालय अवर निरीक्षक, बोधगया, डुमरिया, टनकुप्पा, फतेहपुर, परैया, गुरारू व शेरघाटी प्रखंडों के प्रखंड शिक्षा पदाधिकारियों के एक दिन का वेतन स्थगित करते हुए 24 घंटे में स्पष्टीकरण की मांग की है

यह भी पढ़ें - 2 वर्षों के बाद शिक्षकों को मिली भारी जिम्मेदारी शिक्षा विभाग ने जारी कर दी सूची आप भी देख ले

इंटर परीक्षा • क्वालिफाई करनेवाले स्टूडेंट्स का ही जारी होगा एडमिट कार्ड
सेंटअप टेस्ट में फेल या अनुपस्थित होने पर नहीं दे पाएंगे बोर्ड परीक्षा
 मुजफ्फरपुर अगले वर्ष होनेवाली इंटर परीक्षा में इस बार वही छात्र- कॉलेज - प्लस टू स्कूलों में होनेवाले सेंटअप टेस्ट छात्रा शामिल हो पाएंगे जो सेटअप टेस्ट में क्वालिफाई करेंगे। सेंटअप टेस्ट में अनुपस्थित या फेल होने पर बोर्ड परीक्षा में शामिल होने की अनुमति नहीं मिलेगी। बोर्ड क्वालिफाई करनेवाले स्टूडेंट्स का ही ऑनलाइन एडमिट कार्ड जारी करेगा। पिछले वर्ष मुख्य परीक्षा में फेल, इंप्रूवमेंट व कंपार्टमेंटल वाले अभ्यर्थी के लिए इसमें शामिल होना जरूरी नहीं है। इसे लेकर बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने अभ्यर्थी व शिक्षकों समेत प्रधानाध्यापकों के लिए निर्देश जारी कर दिया है। बता दें कि 2023 की इंटर परीक्षा के पहले सेंटअप टेस्ट व कॉपियों का मूल्यांकन संबंधित संस्थान में ही होगा। लेकिन, परीक्षा का पैटर्न बोर्ड आधारित होगा। इसके लिए प्रश्नपत्र भी बोर्ड ने ही तैयार किया है। बोर्ड ने कॉलेजों व प्लस टू स्कूलों में सेंटअप टेस्ट के लिए 11 से 21 अक्टूबर तक की तिथि निर्धारित की है। इस अवधि में शैक्षणिक संस्थानों के प्रधान अपनी सुविधा से सेंटअप टेस्ट करा सकते हैं। परीक्षा के लिए डीईओ कार्यालय से प्रश्नपत्र 10 अक्टूबर तक मिल जाएंगे। जिले से अगले वर्ष इंटर परीक्षा में करीब 55 हजार स्टूडेंट्स शामिल होंगे।


Buy Amazon Product