बड़ी खबरें

78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी।78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी। राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी

नियोजित शिक्षकों को ईद से पहले वेतन के साथ एरिया का होगा भुगतान 991 करोड़ का हुआ आवंटन।

नियोजित शिक्षकों को ईद से पहले वेतन के साथ एरिया का होगा भुगतान 991 करोड़ का हुआ आवंटन।

ईद से पहले राज्य के शिक्षकों का होगा वेतन भुगतान, आदेश जारी।
पटना : राज्य में समग्र शिक्षा के तहत कार्यरत समग्र शिक्षा के दो लाख 56 हजार आठ सौ 96 प्रारंभिक शिक्षकों को ईद के पहले वेतन भुगतान होगा। शिक्षा विभाग ने जारी 991 करोड़ 32 लाख 98 हजार 945 रुपये से वेतन भुगतान सुनिश्चित कराने का आदेश सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को दिया है। प्राथमिक शिक्षा निदेशक रवि प्रकाश ने सभी जिलों को यह भी निर्देश दिया है इस साल जिन नवनियुक्त शिक्षकों के सभी प्रमाण पत्रों की जांच पूरी हो चुकी है और जांच में सही पाया गया है उन्हें वेतन भुगतान सुनिश्चित करें।समग्र शिक्षा के प्रारंभिक शिक्षकों के वेतन भुगतान के लिए विभिन्न नियोजन इकाइयों को राज्य सरकार एवं समग्र शिक्षा अभियान के अंतर्गत अनुदान की राशि दी जाती है। 3.23 लाख पंचायत, प्रखंड एवं नगर शिक्षकों में से 66 हजार एक सौ चार नगर, प्रखंड एवं पंचायत शिक्षकों का वेतन भुगतान राज्य सरकार की निधि से तथा शेष का वेतन भुगतान समग्र शिक्षा अभियान के मद से किए जाने का प्रविधान है।

यह भी पढ़ें - राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी ने जारी किया पत्र पूर्व के शिक्षकों की भाँती इन सभी नियोजित शिक्षकों के वेतन होंगे समान शिक्षकों ने लगाया अबीर गुलाल।

प्रारंभिक शिक्षकों के 50 हजार पद रह गए रिक्त।
पटना। प्रारंभिक विद्यालयों में करीब 91 हजार पदों पर चल रही शिक्षक नियोजन प्रक्रिया में अब भी 50 हजार से अधिक पद खाली रह गये हैं। शिक्षा विभाग को 'योग्य' अभ्यर्थी नहीं मिल रहे है। वह भी तब जबकि छठे चरण के तहत नियोजन प्रक्रिया 34 महीने से (5 जुलाई 2019 ) से चल रही है। चार बार योग्य अभ्यर्थियों के चयन को काउंसिलंग हो चुकी है। जुलाई व अगस्त 2021, फरवरी 2022 में हुई काउंसिलिंग के अलावा हाल ही छूटी हुई नियोजन इकाइयों में चयन का विशेष चक्र हुआ। 90 हजार 762 पदों के लिए चल रही नियुक्ति प्रक्रिया के तहत अब तक महज 40 हजार ही नियुक्ति पत्र बांटे जा सके हैं।

यह भी पढ़ें - राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी ने जारी किया पत्र पूर्व के शिक्षकों की भाँती इन सभी नियोजित शिक्षकों के वेतन होंगे समान शिक्षकों ने लगाया अबीर गुलाल।

तीन सामान्य  काउंसिलिंग चक्रों के तहत 41 हजार 515 चिनयित हुए। इनमें से 39 हजार 057 की ज्वाइनिंग हुई। वहीं 18 अप्रैल के विशेष चक्र में करीब 2300 पदों के लिए काउंसिलिंग के दौरान 1377 का चयन हुआ और 932 को ही नियुक्ति पत्र दिए गए। 445 चयनितों के प्रमाण पत्र संदेहास्पद होने से उनकी जांच चल रही है। इस तरह चार चरणों को मिलाकर 51 हजार प्रारंभिक शिक्षकों के पद रिक्त रह गए हैं। अब तक की नियुक्ति में सामान्य पुरुष व महिला, ओबीसी पुरुष, ईबीसी पुरुष के ही पद अधिक भरे हैं। सबसे अधिक ओबीसी व ईबीसी श्रेणी की महिलाओं के पद रिक्त रह गए हैं। नियोजन इकाइयों को इस श्रेणी के दावेदार नहीं मिले।

यह भी पढ़ें - लाखों नियोजित शिक्षकों के लिए खुशखबरी केवाईसी जमा करें और जल्द भुगतान पाएं जान ले पूरी विस्तार से UTI सरकार कैसे देगी

बीएड: आवेदन के लिए कल से खुलेगा पोर्टल।
पटना | राज्य भर के सरकारी और निजी बीएड कॉलेजों में नामांकन के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा होनी है। बीएड कोर्स के लिए आवेदन की प्रक्रिया सोमवार से शुरू हो जाएगी। सोमवार से पोर्टल खुल जाएगा। अभ्यर्थियों को आवेदन में एक हजार रुपये देना होगा। इसके लिए राशि ऑनलाइन ही जमा करनी होगी। आवेदन की अंतिम तिथि 17 मई है। 18 से 21 मई तक विलंब शुल्क के साथ आवेदन कर सकते हैं। 9 जून को प्रवेश पत्र जारी किया जाएगा। वहीं 23 जून को संयुक्त प्रवेश परीक्षा होगी। राज्यभर में करीब 330 कॉलेजों में 35 हजार के आसपास सीटें हैं। हालांकि सभी विश्वविद्यालयों से उसके अंतर्गत आने वाले कॉलेजों की सूचना मांगी गई है। राज्य स्तरीय बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा (सीईटी बीएड 2022) के लिए तैयारी शुरू हो गयी है । इसको देखते हुए नोडल संस्थान ललित नारायण मिथिला विवि को परीक्षा कराने की जिम्मेवारी राजभवन द्वारा दी गयी है। विवि द्वारा द्वारा राज्य के सभी विश्वविद्यालयों से वैसे कॉलेजों की सूची मंगायी है, जिन्हें एनसीटीई की मान्यता प्राप्त है। जिन कॉलेजों की मान्यता विगत समय में समाप्त हो गयी है, उनमें सीटें एलॉट नहीं की जाएंगी। वैसे कॉलेजों को च्वॉइस फिलिंग की को परेशानी नहीं हो।


Buy Amazon Product