बड़ी खबरें

 राज्य के नियोजित शिक्षकों को वरीयता को लेकर शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री अपर मुख्य सचिव का संयुक्त बयान जारी राज्य के नियोजित शिक्षकों को वरीयता को लेकर शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री अपर मुख्य सचिव का संयुक्त बयान जारी सुबे के लाखों शिक्षकों को मिलेगी बड़ी राहत शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह को मिलीसुबे के लाखों शिक्षकों को मिलेगी बड़ी राहत शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह को मिली शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं

सबसे बड़ी खबर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शिक्षकों को ढाई लाख रुपए का देने का कर दिया ऐलान।

सबसे बड़ी खबर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शिक्षकों को ढाई लाख रुपए का देने का कर दिया ऐलान।

पटना। देश के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आजाद कि जन्मदिन 11 नवंबर को मनाए जाने वाला शिक्षा दिवस समारोह इस बार एक घंटे का होगा। समारोह यहां अधिवेशन भवन में होगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समारोह का उद्घाटन करेंगे। मुख्यमंत्री के हाथों ही राज्य में शिक्षा के क्षेत्र में दिया जाने वाला ढाई लाख रुपये के मौलाना अबुल कलाम आजाद शिक्षा पुरस्कार प्रदान किया जायेगा। यह राज्य में शिक्षा के क्षेत्र में दिया जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार है। समारोह अधिवेशन भवन में शाम पांच बजे से शुरू होकर एक घंटे तक चलेगा। यह निर्णय सोमवार को तैयारी समिति की बैठक में लिया गया। इसकी अध्यक्षता शिक्षा विभाग के अपर मुख्यसचिव संजय कुमार ने की। बैठक में बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक श्रीकान्त शास्त्री, शिक्षा विभाग के विशेष सचिव व जन शिक्षा निदेशक सतीश चन्द्र झा, शोध एवं प्रशिक्षण निदेशक डॉ. विनोदानंद झा, प्राथमिक शिक्षा निदेशक अमरेंद्र प्रसाद सिंह, जन शिक्षा के सहायक निदेशक रमेश चन्द्रा, 'किलकारी' की निदेशक ज्योति परिहार एवं बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी रविशंकर सिंह सहित सभी संबंधित अधिकारी शामिल थे।

यह भी पढ़ें - कक्षा 1 से 12 तक के शिक्षकों की बढ़ी मुश्किलें नई शिक्षा नीति ने लागू कर दिया।

इस बीच ढाई लाख रुपये के मौलाना अबुल कलाम आजाद शिक्षा पुरस्कार के लिए शिक्षा विभाग के सचिव असंगबा चुबा आओ की अध्यक्षता में गठित चयन समिति की बैठक 28 अक्तूबर को होगी। इस बार पुरस्कार के
लिए 28 प्रविष्टियां आयी हैं। चयन समिति के निर्णय के मुताबिक पुरस्कार हेतु अभिवंचित वर्ग की शिक्षा के लिए कार्य करने वाले व्यक्ति या बालिका शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान देने वाले व्यक्ति, पुस्तकालय, आंगनबाड़ी क्षेत्र में काम करने वाले व्यक्ति का चयन किया जा सकता है। पुरस्कार के लिये विशेष परिस्थिति में समान विशिष्टता रखने वाले दो व्यक्तियों का भी चयन किया जा सकता है, जो सर्वसम्मति से सभी को स्वीकार्य हो। आपको याद दिला दूं कि पुरस्कार के लिए दस सदस्यीय चयन समिति की पहली बैठक पिछले माह शिक्षा विभाग के सचिव असंगबा चुबा आओ ने बैठक की अध्यक्षता में हुई थी।

यह भी पढ़ें - सरकारी विद्यालयों में शिक्षकों ने अभी तक नहीं किये शुरू बिहार शिक्षा परियोजना ने सभी जिलों से मांगी रिपोर्ट।

छठ बाद स्कूलों में बच्चों की कोरोना जांच की मांग उठी।
पटना। आस्था का महापर्व छठ के बाद स्कूलों में बच्चों का कोरोना जांच कराने की मांग अभिभावकों ने सतर्कता के लिहाज से उठायी है। ऑल इंडिया अभिभावक संघ के अध्यक्ष राकेश रॉय ने छठ में दूसरे राज्यों से भी बड़ी संख्या में लोग आते हैं। इसके साथ ही राज्य के अंदर भी बड़ी संख्या में लोग गांव घर जाते हैं, जो वहां से छठ के बाद लौटते हैं। संगठन ने सरकार से कहा है कि ऐसे में सतर्कता के लिहाज से यह जरूरी है कि छठ बाद ऑफलाइन पढ़ाई के लिए जब स्कूल खुले, तो पहले बच्चों की कोरोना जांच करायी जाय।


Buy Amazon Product