बड़ी खबरें

नियोजित शिक्षकों के चालू वित्तीय वर्ष एवं बकाया वेतन का भुगतान के लिए राशि हुआ आवंटन जान ले कितना मिलेगा ।नियोजित शिक्षकों के चालू वित्तीय वर्ष एवं बकाया वेतन का भुगतान के लिए राशि हुआ आवंटन जान ले कितना मिलेगा । नियोजित शिक्षकों के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी बिहार सरकार ने वेतन के साथ एरिया का भी कर दिया आवंटन कौन सा महीना का मिलेगानियोजित शिक्षकों के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी बिहार सरकार ने वेतन के साथ एरिया का भी कर दिया आवंटन कौन सा महीना का मिलेगा सरकारी स्कूलों में चल रहे वर्ग में बैठकर अफसर करेंगे निरीक्षण, शिक्षकों को मिलेगा 15 जून के बाद सेवांत लाभ का मौका। सरकारी स्कूलों में चल रहे वर्ग में बैठकर अफसर करेंगे निरीक्षण, शिक्षकों को मिलेगा 15 जून के बाद सेवांत लाभ का मौका। डीईओ कार्यालय में मची हड़कंप, 2006 के बाद वाले नियोजित शिक्षकों के दक्षता को लेकर सबसे बड़ी खुशखबरी ।डीईओ कार्यालय में मची हड़कंप, 2006 के बाद वाले नियोजित शिक्षकों के दक्षता को लेकर सबसे बड़ी खुशखबरी । प्रारंभिक विद्यालय में प्रधान शिक्षक की बीपीएससी से होने वाली परीक्षा जून के इस तारीख की हो गई घोषणा जान ले पूरा दिशा निर्देश।प्रारंभिक विद्यालय में प्रधान शिक्षक की बीपीएससी से होने वाली परीक्षा जून के इस तारीख की हो गई घोषणा जान ले पूरा दिशा निर्देश। नियोजित शिक्षकों के लिए इस वक्त बड़ी खुशखबरी स्कूलों को मिलेगा दूरी का प्रमाण पत्र अब बढ़ेगा DAनियोजित शिक्षकों के लिए इस वक्त बड़ी खुशखबरी स्कूलों को मिलेगा दूरी का प्रमाण पत्र अब बढ़ेगा DA

केंद्रीय राज्य कर्मी के साथ साथ राज्य कर्मचारियों का डीए पर फैसला 26 तारीख को आ सकती है।

केंद्रीय राज्य कर्मी के साथ साथ राज्य कर्मचारियों का डीए पर फैसला 26 तारीख को आ सकती है।

महंगाई भत्ता (डीए) फ्रीज किए जाने के निर्णय को वापस लेने पर 26 जून को फैसला संभावित है। वित्त मंत्रालय और कर्मचारियों के संगठन नेशनल काउंसिल ऑफ जेसीएम की 26 जून को बैठक संभावित है।

नियोजित एवं नियमित शिक्षकों के लिए जारी हुआ प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षा निदेशक का संयुक्त आदेश।


महंगाई भत्ता (डीए) फ्रीज किए जाने के निर्णय को वापस लेने पर 26 जून को फैसला संभावित है। वित्त मंत्रालय और कर्मचारियों के संगठन नेशनल काउंसिल ऑफ जेसीएम की 26 जून को बैठक संभावित है। यह बिंदु बैठक के मुख्य एजेंडा में शामिल हैं। कांफेडरेशन ऑफ सेंट्रल गवर्नमेंट इंप्लाइज एंड वर्कर्स के अध्यक्ष सुभाष चंद्र पांडेय ने बताया कि इसमें फ्रीज अवधि का एरियर दिए जाने की मांग भी रखी जाएगी।

कोविड संक्रमण के दौरान आर्थिक चुनौती से निपटने के लिए केंद्रीय एवं राज्य कर्मचारियों का जनवरी-2020 से डीए एवं डीआर फ्रीज कर दिया गया है। जुलाई-2021 से बढ़े डीए और डीआर के भुगतान की संभावना जताई जा रही है लेकिन सरकार की ओर से इसे लेकर अभी तक कोई घोषणा नहीं की गई है।



इसके अलावा अलग-अलग वजहों से मई में प्रस्तावित बैठकें भी स्थगित हो गईं। इसके बाद कर्मचारियों में जुलाई से भी डीए नहीं मिलने की आशंका बन गई है। हालांकि अब इसी मुद्दे पर 26 जून को बैठक बुलाने जाने से कर्मचारियों में एक बार फिर उम्मीद जगी है कि जुलाई से बढ़े डीए एवं डीआर का भुगतान किया जाएगा।


विरोध-प्रदर्शन : शिक्षकों के एरियर भुगतान को लेकर अनशन शुरू



• परिवर्तनकारी शिक्षक महासंघ के जिलाध्यक्ष सूर्यकांत पाठक भी आमरण अनशन पर बैठे

नवप्रशिक्षित शिक्षकों के एरियर भुगतान को लेकर शिक्षकों ने सोमवार से डीईओ कार्यालय के बरामदे पर आमरण-अनशन शुरू किया। इसका नेतृत्व परिवर्तनकारी शिक्षक महासंघ के जिलाध्यक्ष सूर्यकांत पाठक ने किया।

पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत आंदोलन के समर्थन में बिहार प्रदेश प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश मीडिया प्रभारी मृत्युंजय ठाकुर भी आमरण अनशन पर बैठे। बारिश के कारण पहले दिन शिक्षकों की संख्या कम रही। मंगलवार से भीड़ बढ़ने की संभावना है। श्री पाठक ने कहा कि करीब 30 महीने से 13 माह का एरियर भुगतान बाधित है। आवंटन रहने के बावजूद भुगतान नहीं किया जा रहा है। अधिकारी सिर्फ आश्वासन देते रहे हैं। बाध्य होकर उन्हें आमरण अनशन शुरू करना पड़ा है। एरियर भुगतान होने तक आमरण अनशन जारी रहेगा।

डीपीओ स्थापना ने सभी बीईओ से एरियर से संबंधित रिपोर्ट मांगी

बता दें कि शिक्षकों के आंदोलन की घोषणा के बाद डीपीओ स्थापना ने सभी बीईओ से बकाया एरियर से संबंधित रिपोर्ट मांगी है। मौके पर मुख्य रूप से परिवर्तनकारी शिक्षक महासंघ के जिला संयोजक उपेंद्र दूबे, कोषाध्यक्ष कृष्णा सिंह, संजय सिंह, बिहार प्रदेश प्रारंभिक शिक्षक संघ के मीडिया प्रभारी विनोद कुमार पाण्डेय, सुभाष कुमार, मुन्ना कुमार, कन्हैयालाल बैठा, राजकिशोर कुमार श्रीवास्तव, मो. शोएब, विनोद राम, मुकेश सिंह, जयप्रकाश नारायण प्रसाद, राजेश कुमार, मो. नसीम अख्तर, अजय शंकर मिश्रा, सुरेश राम, मुन्ना यादव, ऐहशानुल हक, रामविनय गिरी, राजेश दास, अजीत सिंह, राजेश बैठा आदि उपस्थित थे।


Buy Amazon Product