बड़ी खबरें

नियोजित शिक्षकों के चालू वित्तीय वर्ष एवं बकाया वेतन का भुगतान के लिए राशि हुआ आवंटन जान ले कितना मिलेगा ।नियोजित शिक्षकों के चालू वित्तीय वर्ष एवं बकाया वेतन का भुगतान के लिए राशि हुआ आवंटन जान ले कितना मिलेगा । नियोजित शिक्षकों के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी बिहार सरकार ने वेतन के साथ एरिया का भी कर दिया आवंटन कौन सा महीना का मिलेगानियोजित शिक्षकों के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी बिहार सरकार ने वेतन के साथ एरिया का भी कर दिया आवंटन कौन सा महीना का मिलेगा सरकारी स्कूलों में चल रहे वर्ग में बैठकर अफसर करेंगे निरीक्षण, शिक्षकों को मिलेगा 15 जून के बाद सेवांत लाभ का मौका। सरकारी स्कूलों में चल रहे वर्ग में बैठकर अफसर करेंगे निरीक्षण, शिक्षकों को मिलेगा 15 जून के बाद सेवांत लाभ का मौका। डीईओ कार्यालय में मची हड़कंप, 2006 के बाद वाले नियोजित शिक्षकों के दक्षता को लेकर सबसे बड़ी खुशखबरी ।डीईओ कार्यालय में मची हड़कंप, 2006 के बाद वाले नियोजित शिक्षकों के दक्षता को लेकर सबसे बड़ी खुशखबरी । प्रारंभिक विद्यालय में प्रधान शिक्षक की बीपीएससी से होने वाली परीक्षा जून के इस तारीख की हो गई घोषणा जान ले पूरा दिशा निर्देश।प्रारंभिक विद्यालय में प्रधान शिक्षक की बीपीएससी से होने वाली परीक्षा जून के इस तारीख की हो गई घोषणा जान ले पूरा दिशा निर्देश। नियोजित शिक्षकों के लिए इस वक्त बड़ी खुशखबरी स्कूलों को मिलेगा दूरी का प्रमाण पत्र अब बढ़ेगा DAनियोजित शिक्षकों के लिए इस वक्त बड़ी खुशखबरी स्कूलों को मिलेगा दूरी का प्रमाण पत्र अब बढ़ेगा DA

डीईओ ने कर दिया आदेश सभी शिक्षकों के फरवरी से प्रत्येक माह के वेतन से 40 प्रतिशत वसूली जाएगी।

डीईओ ने कर दिया आदेश सभी शिक्षकों के  फरवरी से प्रत्येक माह के वेतन से 40 प्रतिशत वसूली जाएगी।

करोड़ों का घोटाला 31 दिसंबर 1995 के बाद बहाल सहायक शिक्षकों का मामला प्रमंडलीय आयुक्त के आदेश पर आरडीडीई कर रहे मामले की जांच पटना के डीईओ ने जिले के 600 से अधिक सहायक शिक्षकों को अवैध तरीके से प्रोन्नति देकर वेतन बढ़ाया हरित को एकमुश्त 6 से 7 लाख का लाभ पहुंचाया। पटना जिले में वर्ष 31 दिसंबर 1995 के बाद नियुक्त 600 से अधिक सहायक शिक्षकों के वेतन में कटौती होगी।जिला शिक्षा पदाधिकारी ज्योति कुमार ने फरवरी माह से इन शिक्षकों के वेतन में 40 फ़ीसदी कटौती का आदेश। 

जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना को दिया है मामला शिक्षा विभाग के नियम को दरकिनार कर शिक्षकों को प्रोन्नति बढ़ा हुआ वेतन देने का है इसकी जांच के लिए सामाजिक कार्यकर्ता गायत्री देवी ने 1 जुलाई 2020 को प्रमंडलीय आयुक्त को आवेदन दिया था। शिक्षकों का हर माह 7 से ₹8000 वेतन भी बढ़ गया। आवेदन में आरोप था कि डीईओ ज्योति कुमार जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना किशोर कुमार और लिपिक शंभू कुमार ने 31 दिसंबर 1995 के बाद नियुक्त शिक्षकों को गलत तरीके से बढ़िया वेतनमान का निर्धारण कर। 

नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खुशखबरी वेतन को 1764 करोड़ रुपए जारी लाखों प्रारंभिक शिक्षकों को 2 माह का वेतन 3 दिन में होगी भुगतान।

 

करोड़ों रुपए सरकारी राशि की बंदरबांट की है 600 से अधिक शिक्षकों को प्रथम उन्नयन ग्रेड पे 4600 देते हुए नियुक्ति से प्रशिक्षित मानकर वेतन का निर्धारण किया गया इसके कारण सप्तम पुनरीक्षित वेतनमान में प्रत्येक शिक्षकों की दो से तीन वार्षिक वेतन वृद्धि हो गई इसमें एक एक शिक्षक को छह से सात लाख बकाया का एकमुश्त भुगतान किया गया जबकि प्रोन्नति नियमावली के तहत 12 वर्षों की संतोषजनक सेवा के बाद वरीय वेतनमान के रूप में प्रथम उन्नयन ग्रेड पे 4600 देने का प्रावधान है।

 

डीईओ ने पहले कहा कोई गड़बड़ी नहीं अब वेतन वापसी का आदेश।
सामाजिक कार्यकर्ता की शिकायत पर प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने क्षेत्रीय शिक्षा उप निर्देशक को जांच के आदेश दिए हैरान करने वाली बात यह है कि आरोपियों पर था लेकिन जांच कर रिपोर्ट भी उन्होंने ही तैयार की और क्षेत्रीय शिक्षा उप निर्देशक को बताया गया कि वेतन पुनरीक्षण में कोई गड़बड़ी नहीं है इसके बाद शिकायतकर्ता ने फिर आयुक्त का दरवाजा खटखटाया। 

 

इस पर आयुक्त ने आरडीडीई को पत्र लिखकर उनसे खुद जांच करने को कहा इसके बाद आरडीडीई ने जांच शुरू की सूत्रों के मुताबिक अब तक 85 शिक्षकों की गलत लाभ का मामला सामने आया है अभी जांच जारी है सूत्रों के मुताबिक यह संख्या 600 पार जाएगी इस बीच डीईओ ने 40% वेतन कटौती का आदेश जारी कर दिया

 

डीईओ वोले कितना शिक्षक का बढा वेतन मालूम नहीं।
ज्योति कुमार ने बताया कि कितने शिक्षकों का वेतन बढ़ा है इसकी जानकारी स्थापना शाखा को होगी 31 दिसंबर 1995 के बाद बहाल शिक्षकों को मैट्रिक प्रशिक्षित वरीय वेतनमान दिया गया इसको रद्द किया जाता है  साथ ही फरवरी से प्रत्येक माह के वेतन से 40% वसूली होगी।


Buy Amazon Product