बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

प्राथमिक शिक्षा निदेशालय ने सरकारी स्कूलो के लिए जारी किया था पत्र प्रत्येक माह के तीसरे शनिवार को रहेंगे अवकाश शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर

प्राथमिक शिक्षा निदेशालय ने सरकारी स्कूलो के लिए जारी किया था पत्र प्रत्येक माह के तीसरे शनिवार को रहेंगे अवकाश शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर

 

मुजफ्फरपुर, । अगले एक महीने तक तीन हजार स्कूलों की रसोई और भंडार गृह में अधिकारी पहुंचेंगे और वहां से विभागीय अधिकारियों के साथ ऑनलाइन हो कर वहां की स्थिति दिखाएंगे। स्कूलों में मध्याह्न भोजन में गंदगी और अव्यवस्था को लेकर अधिकारियों को यह टास्क मिला है। 8 अगस्त से 9 सितम्बर तक यह अभियान चलेगा।

पीएम पोषण योजना निदेशक सतीश चन्द्र झा ने इस संबंध में निर्देश दिया है। निदेशक ने कहा है कि मध्याह्न भोजन के तहत बच्चों को गर्म, ताजा और पका हुआ भोजन उपलब्ध कराना है। स्कूल स्तर पर साफ-सफाई के अभाव में कई तरह की घटनाएं हाल में सामने आई हैं। इस अभियान के तहत हर स्कूल में साफ-सफाई एवं सुरक्षा सुनिश्चित करने का लक्ष्य है और इसकी लेकर मिला निर्देश जवाबदेही अधिकारियों की है।
निदेशक ने निर्देश दिया है कि एक स्कूल में महीने में एक बार अधिकारी जरूर पहुंचेंगे। बीईओ, प्रखंड मध्याह्न भोजन योजना पदाधिकारी जरूर पहुंचेंगे। अभियान के दौरान अधिकारी पूरी प्रक्रिया की फोटो लेंगे और उसी समय एमआईएस पर अपलोड करेंगे। किचेन की सफाई के साथ ही बर्तनों और भोजन पकाने की भी व्यवस्था की फोटोग्राफी होग।

यह भी पढ़ें - राज्य सरकार ने कर्मचारियों व शिक्षकों को दिया खुशियों का सौगात भाजपा सरकार ने भी इतनी प्रतिशत DA देने का कर दिया ऐलान अब सैलरी हो जाएगी इतनी।

सरकार स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग (प्राथमिक शिक्षा निदेशालय)
अधिसूचना विभागीय पत्रांक 1834, दिनांक 05.09.2007 के आलोक में राजकीयकृत विद्यालयों के लिए निर्धारित दैनिक कार्यावधि में दिवा कालीन व्यवस्था में प्रत्येक शनिवार को विद्यालय प्रातः 08.00 बजे से 11.00 बजे ( प्रातः कालीन व्यवस्था में प्रत्येक शनिवार को प्रातः 06.30 बजे से 09.30 बजे) निर्धारित किया गया था तथा अन्य दिवसों को विद्यालय पूर्वाह्न 10.00 बजे से 04.00 बजे तक संचालित होता था।

सरकारी विद्यालयों में अध्ययनरत् बच्चों के शिक्षण अधिगम में सुधार हेतु बच्चों के सीखने के समय में वृद्धि तथा विद्यालयों में निःशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम, 2009 द्वारा निर्धारित शिक्षण दिवसों एवं शैक्षणिक अवधि के अनुरूप संचालन के निमित राज्य सरकार द्वारा निर्गत विभागीय अधिसूचना संख्या 2144 दिनांक 02.11.2021 की कंडिका 4 (घ) (i) के तहत् शनिवार को पूर्ण कार्य दिवस घोषित किया गया था।

इस संबंध में शिक्षक संघों द्वारा व्यक्तिगत / अन्य कार्यों के लिए कम से कम एक दिन अवकाश निर्धारित करने का अनुरोध किया गया है।

शिक्षक संघों से प्राप्त अनुरोध पर सम्यक विचारोपरांत राज्य सरकार द्वारा अधिसूचना संख्या 2144 दिनांक 02.11.2021 की कंडिका 4 (घ) (i) को संशोधित करते हुए प्रत्येक माह के तीसरे शनिवार को विद्यालय में अवकाश घोषित किया जाता है।

                राजेश कुमार शर्मा
                 सरकार के सचिव
                     राँची

यह भी पढ़ें - राज्य सरकार ने कर्मचारियों व शिक्षकों को दिया खुशियों का सौगात भाजपा सरकार ने भी इतनी प्रतिशत DA देने का कर दिया ऐलान अब सैलरी हो जाएगी इतनी।

 


Buy Amazon Product