बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

मूल वेतन में 15 % बढ़ोतरी नहीं कर सरकार ने की वादाखिलाफी, शिक्षक दिवस पर शिक्षको को शिक्षा मंत्री ने दिया।

मूल वेतन में 15 % बढ़ोतरी नहीं कर सरकार ने की वादाखिलाफी, शिक्षक दिवस पर शिक्षको को शिक्षा मंत्री ने दिया।

मूल वेतन में 15 फीसदी की बढ़ोतरी समेत अपनी विभिन्न मांगों को लेकर प्राथमिक शिक्षक संघ ने शनिवार को कलेक्ट्रेट में धरना-प्रदर्शन दिया। संघ के जिलाध्यक्ष जितेन्द्र कुमार यादव, राजेश कुमार राय समेत अन्य शिक्षकों ने कहा कि जिले में कार्यरत प्रारंभिक और माध्यमिक शिक्षक सरकार व विभाग की उपेक्षित रवैये से मानसिक, आर्थिक और शारीरिक परेशानी से जूझ रहे हैं। श्रीकांत राय ओर मनोज कुमार यादव ने कहा कि नियोजित शिक्षकों के मूल वेतन में 15 प्रतिशत की वृद्धि नहीं कर सरकार वादाखिलाफी कर रही है। एक अप्रैल से ही इसे लागू करने का वादा किया गया था। पंकज कुमार यादव, सैयद अली इमाम ने कहा कि एमडीएम का बोरा बेचने संबंधी काम से शिक्षकों को नहीं हटाकर सरकार शिक्षकों का शोषण कर रही है। मौके पर राकेश कुमार, पूनम कुमारी, सुबोध राय, पायल कुमारी ने कहा कि अगर समस्याओं का समाधान नहीं हुआ आंदोलन तेज होगा।

सत्याग्रह प्रधान शिक्षक बहाली में टीईटी हो।
टीईटी-एसटीईटी शिक्षकों ने प्रधान शिक्षक की बहाली में टीईटी को अनिवार्य करने, प्रधानाध्यापक की बहाली में एसटीईटी को अनिवार्य करने, टीईटी-एसटीईटी शिक्षकों के अलग संवर्ग के गठन समेत विभिन्न मांगों को लेकर शनिवार को सत्याग्रह आंदोलन किया। 21 सूत्री मांगों के समर्थन में टीईटी-एसटीईटी उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ गोपगुट के बैनर तले जिला मुख्यालय स्थित धरना स्थल के प्रांगण में शिक्षकों ने सत्याग्रह कर अपना आक्रोश प्रकट किया। सत्याग्रह का नेतृत्व करते हुए जिलाध्यक्ष मृत्युंजय कुमार एवं राज्य सचिव नजीर हुसैन, मीडिया प्रभारी विवेक कुमार ने कहा कि शिक्षा का अधिकार अधिनियम लागू होने के बाद बिहार समेत अन्य प्रदेशों में भी शिक्षक बनने के लिए टीईटी को अनिवार्य बताया गया है। जबकि, नई शिक्षा नीति में उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों तक कोषाध्यक्ष अ एसटीइंटी को। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि आखिर जो शिक्षक ही बनने के पात्र नहीं है वे प्रधान शिक्षक या प्रधानाध्यापक कैसे बनेंगे जिला कोषाध्यक्ष अरविंद कुमार उपाध्यक्ष मनोज कुमार अनुज कुमार संजय कुमार ने कहा कि जब परीक्षा ही योग्यता का पैमाना है तो लाखों परीक्षार्थी में से चुनकर आय टीईटी एसटीईटी शिक्षकों का सरकार सम्मान करें एवं उनके लिए अलग संवर्ग गठित हो

शिक्षा मंत्री के हाथों आज मिलेगा पुरस्कार सम्मानित करेंगे।
पटना । स्कूली शिक्षा में उत्कृष्ट योगदान के लिए राष्ट्रीय शिक्षक | पुरस्कार के लिए चयनित राज्य के दो | शिक्षक को शिक्षा मंत्री विजय कुमार | चौधरी रविवार को शिक्षक दिवस पर सम्मानित करेंगे इसी के साथ राजकीय शिक्षक पुरस्कार के लिए चयनित शिक्षक भी पुरस्कृत होंगे। शिक्षक दिवस समारोह का आयोजन शिक्षा विभाग के डॉ. मदन मोहन झा स्मृति सभागार में होगा। राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार के लिए कैमूर जिले के राजकीयकृत मध्य विद्यालय डहरक (रामगढ़) के प्रभारी प्रधानाध्यापक हरिदास शर्मा एवं मधुबनी जिले के राजनगर के राजकीयकृत मध्य विद्यालय रांटी की शिक्षिका श्रीमती चंदना दत्ता का चयन हुआ है । दूसरी ओर राजकीय शिक्षक पुरस्कार के लिए चयनित बीस शिक्षकों में निशि कुमारी, धनंजय आचार्य, श्रीमती कुमारी विभा, जितेंद्र कुमार सिन्हा, श्रीमती कंचन कामिनी, मनोज कुमार निराला, नसीम अख्तर, राम एकबाल राम, अमित कुमार, शिवनारायण मिश्रा, प्रमोद कुमार, राजीव कुमार पाठक, शशिभूषण शाही, श्रीमती नम्रता मिश्रा, श्रीमती पूनम यादव, श्रीमती सुनीता सिन्हा, श्रीमती भारती रंजन कुमारी, श्रीमती श्रुति कुमारी, श्रीमती विभा रानी एवं श्रीमती मंजू कुमारी शामिल हैं।


Buy Amazon Product