बड़ी खबरें

नियोजित शिक्षकों के चालू वित्तीय वर्ष एवं बकाया वेतन का भुगतान के लिए राशि हुआ आवंटन जान ले कितना मिलेगा ।नियोजित शिक्षकों के चालू वित्तीय वर्ष एवं बकाया वेतन का भुगतान के लिए राशि हुआ आवंटन जान ले कितना मिलेगा । नियोजित शिक्षकों के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी बिहार सरकार ने वेतन के साथ एरिया का भी कर दिया आवंटन कौन सा महीना का मिलेगानियोजित शिक्षकों के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी बिहार सरकार ने वेतन के साथ एरिया का भी कर दिया आवंटन कौन सा महीना का मिलेगा सरकारी स्कूलों में चल रहे वर्ग में बैठकर अफसर करेंगे निरीक्षण, शिक्षकों को मिलेगा 15 जून के बाद सेवांत लाभ का मौका। सरकारी स्कूलों में चल रहे वर्ग में बैठकर अफसर करेंगे निरीक्षण, शिक्षकों को मिलेगा 15 जून के बाद सेवांत लाभ का मौका। डीईओ कार्यालय में मची हड़कंप, 2006 के बाद वाले नियोजित शिक्षकों के दक्षता को लेकर सबसे बड़ी खुशखबरी ।डीईओ कार्यालय में मची हड़कंप, 2006 के बाद वाले नियोजित शिक्षकों के दक्षता को लेकर सबसे बड़ी खुशखबरी । प्रारंभिक विद्यालय में प्रधान शिक्षक की बीपीएससी से होने वाली परीक्षा जून के इस तारीख की हो गई घोषणा जान ले पूरा दिशा निर्देश।प्रारंभिक विद्यालय में प्रधान शिक्षक की बीपीएससी से होने वाली परीक्षा जून के इस तारीख की हो गई घोषणा जान ले पूरा दिशा निर्देश। नियोजित शिक्षकों के लिए इस वक्त बड़ी खुशखबरी स्कूलों को मिलेगा दूरी का प्रमाण पत्र अब बढ़ेगा DAनियोजित शिक्षकों के लिए इस वक्त बड़ी खुशखबरी स्कूलों को मिलेगा दूरी का प्रमाण पत्र अब बढ़ेगा DA

नियोजित शिक्षकों के सर्टिफिकेट की जांच को लेकर फिर मामला उठ गया।

नियोजित शिक्षकों के सर्टिफिकेट की जांच को लेकर फिर मामला उठ गया।

पटना। राज्य में 94 हजार प्रारंभिक शिक्षकों की होने वाली बहाली में चयनित अभ्यर्थियों की काउंसलिंग तो पहले हो जायेगी, लेकिन उनके शैक्षणिक एवं प्रशैक्षणिक प्रमाणपत्रों की जांच के बाद ही उन्हें नियुक्ति पत्र मिलेंगे। प्रारंभिक विद्यालयों में तकरीबन १4 हजार शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रियाधीन है। इसके लिए शिक्षा विभाग द्वारा तय शिड्यूल के तहत नियोजन इकाइयों द्वारा मेधा सूची जारी की जा चुकी है।

 

 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बुधवार को शिक्षा विभाग की, की गयी समीक्षा बैठक में 94 हजार प्रारंभिक शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर गतिरोध की स्थिति समाप्त हो गयी है । इसके मद्देनजर माना जा रहा है कि काउंसलिंग की तिथि जल्द तय होगी। इसके पूर्व तक पंचायती राज एवं नगर निकाय संस्थाओं द्वारा शिक्षकों की बहाली में काउंसलिंग एवं नियुक्ति पत्र देने की तिथि साथ-साथ होती थी। लेकिन, पटना उच्च न्यायालय द्वारा पंचायती राज एवं नगर निकाय संस्थाओं द्वारा। 

 

नियुक्त शिक्षकों के शैक्षणिक एवं प्रशैक्षणिक प्रमाणपत्रों की निगरानी जांच के आदेश के बाद पिछली बहाली में शिक्षक पद के चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र तो दे दिये गये। लेकिन वेतनादि के भुगतान का आदेश उनके शैक्षणिक एवं प्रशैक्षणिक प्रमाणपत्रों की जांच के बाद ही करने का आदेश दिया गया। इससे इतर शिक्षा विभाग ने अब यह मन मना लिया है कि नियोजन इकाइयों द्वारा चयनित अभ्यर्थियों की काउंसलिंग के बाद उनके तमाम शैक्षणिक एवं प्रशैक्षणिक प्रमाणपत्रों की जांच करा ली जाय ।

बरसों का इंतजार खत्म मिल गई सबसे बड़ी खुशखबरी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खोल दिया पिटारा।

 

 इसके तहत टीईटी- सीटीईटी उत्तीर्णता प्रमाणपत्र की भी जांच होगी। उसके बाद उन्हें नियुक्ति पत्र दिये जायेंगे | शिक्षा विभाग की यह कोशिश होगी कि काउंसलिंग करा चुके चयनित शिक्षक अभ्यर्थियों के शैक्षणिक एवं प्रशैक्षणिक प्रमाणपत्रों के साथ ही टीईटी या सीटीईटी उत्तीर्णता प्रमाणपत्र की जांच जल्द से जल्द करायी जाय। 
इस दिशा में शिक्षा विभाग द्वारा की जा रही अब तक की तैयारियों से मिले संकेत के मुताबिक प्रमाणपत्रों की जांच के लिए विभाग द्वारा पोर्टल बनाये जा रहे हैं।

सरकारी स्कूलों के कागजात नहीं सौंपने पर बीईओ,सीआरसी सहित शिक्षकों पर हो सकेगी कार्रवाई।

 

 उसी पोर्टल पर चयनित शिक्षक अभ्यर्थियों को अपने तमाम शैक्षणिक एवं प्रशैक्षणिक प्रमाणपत्रों के साथ ही टीईटी या सीटीईटी उत्तीर्णता प्रमाणपत्र अपलोड करने होंगे। इसके लिए समय-सीमा तय होगी। उसके बाद प्रमाणपत्रों की जांच होगी । यह सब तय समय-सीमा के तहत होगा। इससे प्रमाणपत्रों की जांच की प्रक्रिया तो जल्द पूरी होगी ही, इसमें पारदर्शिता भी आयेगी ।


Buy Amazon Product