बड़ी खबरें

 राज्य के नियोजित शिक्षकों को वरीयता को लेकर शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री अपर मुख्य सचिव का संयुक्त बयान जारी राज्य के नियोजित शिक्षकों को वरीयता को लेकर शिक्षा मंत्री मुख्यमंत्री अपर मुख्य सचिव का संयुक्त बयान जारी सुबे के लाखों शिक्षकों को मिलेगी बड़ी राहत शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह को मिलीसुबे के लाखों शिक्षकों को मिलेगी बड़ी राहत शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह को मिली शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं

निर्देशक सतीश चंद्र झा ने कहां एक जून, 2022 के प्रभाव से हुई 6.33 प्रतिशत की वृद्धि प्रतिमाह 1,200 से 2,800 रुपये तक क्या होगा इजाफा।

निर्देशक सतीश चंद्र झा ने कहां एक जून, 2022 के प्रभाव से हुई 6.33 प्रतिशत की वृद्धि प्रतिमाह 1,200 से 2,800 रुपये तक क्या होगा इजाफा।

राज्य में मध्याहन भोजन के प्रखंडों से लेकर राज्य स्तर तक के संविदा वाले अधिकारी-कर्मचारियों का मानदेय बढ़ गया है। संविदा वाले अधिकारी-कर्मचारियों के मानदेय में 6.33 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। मानदेय में वृद्धि एक जून, 2022 के प्रभाव से लागू की गयी है। इससे राज्य, जिला एवं प्रखंड स्तर के संविदा वाले अधिकारी-कर्मचारियों का मानदेय प्रतिमाह औसतन 1,200 रुपये से लेकर 2,800 रुपये तक बढ़ गया है। इससे संबंधित आदेश पी. एम. पोषण योजना के निदेशक सतीश चन्द्र  झा के हस्ताक्षर से जारी हुआ है। मानदेय में वृद्धि के आदेश से संविदा वाले तकरीबन छह सौ अधिकारी- कर्मचारी लाभान्वित होंगे। दरअसल, बिहार राज्य मध्याहन भोजन योजना सूचकांक (सी. पी. इंडेक्स) के आधार पर प्रति वर्ष अधिकारी कर्मचारियों के मानदेय की जाती है। इससे संबंधित दिशा-निर्देश 12 जुलाई, 2013 को ही निर्गत है।

यह भी पढ़ें - 8th Pay Commission: केंद्रीय व राज्य कर्मचारियों के साथ शिक्षकों लिए बड़ी खबर, लागू होगा आठवां वेतन आयोग! 18 से 26 हजार बढ़ जाएगी सैलरी।

इसके मद्देनजर बिहार राज्य मध्याहन भोजन योजना समिति के सभी पदाधिकारियों एवं कर्मियों (राज्य स्तर से लेकर जिला एवं प्रखंड स्तर तक) के मूल मानदेय में उपभोक्ता मूल्य सूचकांक के आधार पर 6.33 प्रतिशत वृद्धि की स्वीकृति दी गयी है। पी. एम. पोषण योजना के निदेशक सतीश चन्द्र झा के हस्ताक्षर से जारी आदेश के मुताबिक यह वृद्धि एक जून, 2022 के प्रभाव से ही लागू होगी। यह वृद्धि वैसे नियोजित अधिकारी-कर्मचारियों को देय होगी, जिनकी सेवा अवधि एक जून, 2022 को कम-से-कम एक वर्ष पूरी हो चुकी हो। आदेश में कहा गया है कि यह वृद्धि मध्याहन भोजन योजना समिति (पी. एम. पोषण योजना) के मुख्यालय एवं क्षेत्रीय कार्यालयों में कार्यरत अधिकारी-कर्मचारियों को ही देय होगी । इस राशि का व्यय बिहार राज्य मध्याहन भोजन योजना समिति (पी. एम. पोषण योजना) के प्रबंधन, अनुश्रवण एवं मूल्यांकन मद में उपलब्ध राशि से किया जाना है। आदेश के मुताबिक जिलों में पर्याप्त राशि उपलब्ध नहीं होने की स्थिति में राशि की मांग की जा सकेगी। आदेश की प्रति बिहार राज्य मध्याह्न भोजन योजना समिति (पी. एम. पोषण योजना) के सभी पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों सहित लेखा पदाधिकारी एवं लेखापाल को दी गयी है ।


Buy Amazon Product