बड़ी खबरें

78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी।78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी। राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी

3.57 लाख शिक्षकों को बढ़ा हुआ वेतन जनवरी माह से ही मिलेगी, 3 जनवरी तक देख सकेंगे संशोधित वेतन।

3.57 लाख शिक्षकों को बढ़ा हुआ वेतन जनवरी माह से ही मिलेगी, 3 जनवरी तक देख सकेंगे संशोधित वेतन।

पंचायत और नगर निकायों के लगभग 3.57 लाख शिक्षकों को 15 प्रतिशत वेतन वृद्धि के बाद संशोधित वेतन का निर्धारण जनवरी में हो जायेगा। शिक्षक तीन से चार जनवरी तक अपना संशोधित वेतन देख सकेंगे। वेतन निर्धारण संबंधी शिकायत शिक्षकाय डीईओ कार्यालय में कर सकेंगे । 10 जनवरी से विद्यालय के लॉगइन से मेधासॉफ्ट के माध्यम से पे स्लिप डाउनलोड कर संबंधित शिक्षक कर सकेंगे। पे स्लिप दो प्रति में तैयार होगा। एक प्रति को सेवापुस्त में चस्पा किया जाएगा। इस संबंध में विशेष सचिव सह माध्यमिक शिक्षा निदेशक मनोज कुमार ने गुरुवार को सभी डीईओ को पत्र भेजा। दूसरी ओर शिक्षा विभाग के उप सचिव द्वारा जारी आदेश में कहा गया है सीनियर से जूनियर शिक्षक का वेतन अधिक होने की कुछ जिलों से शिकायत मिल रही है । ऑनलाइन कैलकुलेटर से 15 प्रतिशत के वेतनवृद्धि नर्धारण के दौरान वेतन विसंगति दूर करने के लिए कहा है। वेतन निर्धारण में गड़बड़ी हुई, तो डीपीओ (स्थापना) जिम्मेदार होंगे। जिलों के लिए एनआईसी द्वारा ऑनलाइन पे कैलकुलेटर सॉफ्टवेयर तैयार किया गया है। इसकी मदद से वेतन वृद्धि के बाद वेतन निर्धारण हो जायेगा । प्रारंभिक से लेकर उच्च माध्यमिक स्कूलों के शिक्षकों को वेतन में लगभग तीन से चार हजार रुपये प्रतिमाह वृद्धि का लाभ मिलेगा। पहले से मिल रहे वेतन में 1.15 से गुणा करने पर जो राशि आएगी, उसे पे मैट्रिक्स के अनुसार निर्धारित कर एक अप्रैल 2021 से वेतन वृद्धि का लाभ मिलेगा ।

यह भी पढ़ें - शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव ने शिक्षकों के लिए जारी किया निर्देश पत्र हुआ जारी।

पटना में सबसे अधिक 1980 प्रधान शिक्षक व पूर्वी चंपारण में 342 प्रधानाध्यापक की रिक्ति। 
राज्य के 40506 प्राथमिक विद्यालयों में प्रधान शिक्षक और 6421 उच्च माध्यमिक विद्यालयों में •प्रधानाध्यापक की नियुक्ति होनी है। प्रधान शिक्षक के सबसे अधिक 1980 पद पटना और प्रधानाध्यापक के सबसे अधिक पद 342 पूर्वी चंपारण रिक्त हैं। प्रधान शिक्षक के सबसे कम पद 216 शिवहर में प्रधानाध्यापक के सबसे कम 33 पद, अरवल में हैं। प्रधानाध्यापक का संवर्ग प्रमंडल और प्रधान शिक्षक का संवर्ग जिला स्तर का होगा। प्रधानाध्यापक का तबादला प्रमंडल और प्रधान शिक्षक का तबादला जिला स्तर पर होगा। सरकार के नियमित कर्मियों की तरह इन शिक्षकों को सरकार से मिलने वाली सुविधाओं का लाभ मिलेगा। दोनों पदों की बहाली के लिए 150-150 वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाएंगे। प्रत्येक प्रश्न एक अंक के होंगे। 0.25 प्रतिशत निगेटिव मार्किंग होगी। यानी चार प्रश्न के गलत देने पर एक अंक करेंगे। दो घंटे की परीक्षा होगी। परीक्षा में संबंधित हिंदी, अंग्रेजी, गणित, सामान्य अध्ययन और शिक्षक एप्टीट्यूट से जुड़े प्रश्न पूछे जाएंगे।

यह भी पढ़ें - नियोजित शिक्षकों के 15% बड़े हुए वेतन निर्धारण के लिए भरना होगा फॉर्म इन कागजात के बिना नहीं होगा निर्धारण।

प्रधान शिक्षक पद के लिए योग्यता। 
40518 प्राथमिक स्कूलों में प्रधान शिक्षक की नियुक्ति के लिए निजी स्कूलों के शिक्षकों को मौका नहीं मिलेगा। पंचायत या नगर प्रारंभिक शिक्षक के पद पर न्यूनतम 8 साल तक लगातार सेवा कर चुके शिक्षक आवेदन कर सकेंगे। उम्र सीमा तय ● नहीं हैं। पंचायतीराज संस्था एवं नगर निकाय संस्था के तहत स्नातक शिक्षक, जिनकी सेवा " है, यानी जो दो साल से अधिक कार्य संपुष्ट कर चुके हैं, वे आवेदन कर सकेंगे। वर्ष 2012 या उसके बाद नियुक्त शिक्षक के लिए शिक्षक पात्रता परीक्षा में उत्तीर्ण होना आवश्यक है। मान्यताप्राप्त विवि से कम से कम 50 प्रतिशत अंकों के साथ स्नातक उत्तीर्ण होना चाहिए। एससी, एसटी, अति पिछड़ा, पिछड़ा, दिव्यांग, महिला और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए न्यूनतम निर्धारित अंक में 5 प्रतिशत की छूट मिलेगी। अभ्यर्थी को डीएलएड या बीटी या बीएड या बीएण्ड या बीएससीएड या बीएलएड उत्तीर्ण होना चाहिए।


Buy Amazon Product