बड़ी खबरें

78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी।78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी। राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी

पत्र संख्या 1816 के निर्देशानुसार नियोजित शिक्षकों को वेतन में होगी वृद्धि अपना जान ले कितना मिलेगा।

पत्र संख्या 1816 के निर्देशानुसार नियोजित शिक्षकों को वेतन में होगी वृद्धि अपना जान ले कितना मिलेगा।

■ बिहार पंचायत, नगर, प्रारंभिक शिक्षक के प्रतिनिधि आरडीडीई से मिले।
■ आरडीडीई ने डीपीओ स्थापना को वेतन विसंगति दूर करने का दिया निर्देश।
शिक्षकों के • वेतन में 15 प्रतिशत वृद्धि की घोषणा हुई थी। सरकार ने इसे लागू भी कर दिया। कई जिले के शिक्षकों को बढ़ा हुआ वेतन मिलने भी लगा, लेकिन गया जिले में अभी 13 हजार शिक्षकों को बढ़े हुए वेतन का लाभ नहीं मिल रहा है। दूसरी तरफ अन्य वेतन • विसंगतियां भी खत्म नहीं हुई है। इसको लेकर शिक्षकों के आक्रोश है। शिक्षकों का एक प्रतिनिधि मंडल शनिवार को आरडीडीई से मिला। वेतन विसंगति दूर करने का आदेश : शिक्षक नेता रमेश कुमार ने कहा कि शिक्षा विभाग के उप सचिव की ओर से पत्र संख्या 1816 निर्गत किया गया, जिसमें कहा गया है कि यदि वरीय शिक्षकों का वेतन, कनीय शिक्षकों से कम कर दिया गया है, तो वरीय शिक्षकों का वेतन कनीय शिक्षकों के बराबर करने का निर्देश जिला कार्यक्रम पदाधिकारी को दिया जाता है।

यह भी पढ़ें - सभी शिक्षकों की वर्षों की मांग हुई पूरी समग्र शिक्षा से ₹10000 टैब मोबाइल खरीदने के लिए मिलेंगे।

लेकिन गया जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना के द्वारा लगातार वरीय पदाधिकारी के पत्र की अवहेलना की जा रही है। पूर्व प्रशिक्षित शिक्षकों के वेतन विसंगति को अभी तक लटका कर रखा गया है। अभी तक जिले के 13 हजार शिक्षकों को तीन महीने से 15% फिक्सेशन वेतन वृद्धि का लाभ एवं अप्रैल 2021 से वेतन अंतर राशि से वंचित रखा गया है। संघ के पदाधिकारियों के द्वारा भी कई बार जिला शिक्षा पदाधिकारी गया, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना गया, के साथ इस मुद्दे पर बैठक एवं चर्चा हुई है, पर केवल और केवल झूठा आश्वासन हीं मिला। वेतन विसंगति दूर न होने पर शनिवार को बिहार, पंचायत, नगर, प्रारंभिक शिक्षक संघ मूल (गया) के प्रतिनिधि शनिवार को क्षेत्रीय उप शिक्षा निदेशक मगध मंडल से मिले।

यह भी पढ़ें - बिहार के मॉनसून सत्र में लाखों कर्मचारियों के साथ नियोजित शिक्षकों को पुरानी पेंशन योजना लागू करने पर शिक्षा मंत्री ने जता दी सहमति।

16 प्रशिक्षु शिक्षकों को दिया गया अनुभव प्रमाण पत्र।
शेरघाटी के योगापुर मिडिल स्कूल में शनिवार को आयोजित एक सादे समारोह में स्थानीय टीचर ट्रेनिंग कॉलेज के 16 प्रशिक्षु शिक्षकों को चार महीने के स्कूल अभ्यास सत्र के बाद अनुभव प्रमाण पत्र दिए गए। विद्यालय के प्रधान शिक्षक दिग्विजय सिंह ने प्रशिक्षु शिक्षकों को अनुभव प्रमाण पत्र सौंपे जाने के पूर्व कहा कि एक बेहतर शिक्षक बच्चों को सिर्फ किताबी ज्ञान ही नहीं देता है बल्कि बेहतर चरित्र और आचरण के जरिए बच्चों के सामने एक आदर्श भी प्रस्तुत करता है। प्रशिक्षु शिक्षक मुकुल मंजुल और सन्नी कुमार ने बताया कि चार महीने के दौरान उन्हें स्कूल में सीखने-सिखाने का भरपूर मौका मिला। बच्चों के साथ उनका मनोविज्ञान समझकर व्यवहार करने की क्षमता और कौशल का भी विकास हुआ। यहां से प्राप्त अनुभव और ज्ञान का इस्तेमाल वे बच्चों को पढ़ाने में कर सकेंगे। इस तरह का प्रशिक्षण किसी भी शिक्षक की योग्यता को बढ़ा देता है प्रमाण पत्र पाने वाले अन्य प्रशिक्षुओं में स्वीटी कुमारी, आस्था कश्यप, मिनहाज हसन, तनिष्क आर्या और साइमा सबा आदि का नाम शामिल है।


Buy Amazon Product