बड़ी खबरें

78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी।78 हजार केंद्रीय राज्य कर्मियों को 188 करोड़ से ज्यादा दिवाली बोनस के रूप में बड़ी धनराशि मिलेगी। राज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दियाराज्य के 80 हजार सरकारी स्कूलों में शिक्षकों को 18 अक्टूबर के होने वाले कार्यक्रमों के लिए निर्देशक प्राथमिक शिक्षा ने पत्र जारी कर दिया बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहरबेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को अब जल्द मिल सकेगा प्रमोशन का आ गया फैसला शिक्षकों में अत्यंत खुशी की लहर सरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धिसरकारी कर्मियों के साथ नियोजित शिक्षकों को भी सरकार ने दिया दिवाली से पहले धमाकेदार तोहफा DA में हुआ 4% की वृद्धि हो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबितहो जाएं सावधान, चहक कार्यक्रम में विभाग द्वारा भेजे गए सामग्री को गलत तरीके से लेने को लेकर शिक्षक हो रहे निलंबित 2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी2015 तक के बहाल नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नत वरीता के आधार पर वेतन में होगी बढ़ोतरी

12 वर्षों के बाद बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नति वेतन वृद्धि के साथ शिक्षकों में खुशी की लहर।

12 वर्षों के बाद बेसिक ग्रेड के नियोजित शिक्षकों को स्नातक ग्रेड में होगा प्रोन्नति वेतन वृद्धि के साथ शिक्षकों में खुशी की लहर।

नियोजित शिक्षकों की माँग बहुत दिनों से थी कि उन्हें भी वेतन वृद्धि तथा प्रोन्नति का लाभ मिले सरकार की नियमावली में हीं अंकित है कि शिक्षकों को काल-बद्ध प्रोन्नति दिया जाएगा। इसी के तहत जिला शिक्षा पदाधिकारी बक्सर द्वारा 12 वर्ष प्रशिक्षित शिक्षक के रूप में सेवा कर चुके शिक्षकों को वेतन वृद्धि का लाभ मिलेगा। पत्र के माध्यम से कहा गया है कि 12 वर्ष सेवा पूरी करने वाले बेसिक ग्रेड के शिक्षकों को स्नातक वेतनमान में प्रोन्नति दी जाएगी लेकिन उनकी कोटि वही रहेगी।

यह भी पढ़ें - अपर मुख्य सचिव ने शिक्षकों के हक में जारी किया आदेश DEO एवं BEO को जारी कर दिया पत्र।

यानी केवल वित्तीय लाभ दिया जाएगा। शिक्षक संघर्ष मोचां बक्सर के अध्यक्ष मुक्तेश्वर प्रसाद ने कहा कि 2020 की नियमावली में 12 वर्ष सेवा पूरी करने वाले शिक्षकों को काल-बद्ध प्रोन्नति देने का नियम बनाया गया है । इसके पहले की सेवा शतं में आठ वर्ष पर काल-बद्ध प्रोन्नति देने का प्रावधान था। 12 वर्ष करके सरकार शिक्षकों के साथ अन्याय कर रही है । इससे लाखों शिक्षकों को अभी एकाध वर्ष इंतजार करना पड़ेगा । कुछ शिक्षकों का कार्यकाल अगस्त 2022 में बारह वर्ष पूरा हो रहा है। में ऐसे शिक्षकों में खुशी का माहौल है क्योंकि लंबे अंतराल के बाद यह लाभ मिल रहा है। शिक्षक नेतृत्वकर्ता अमितेश कुमार, जयप्रकाश शर्मा, अवधेश पासवान, संतोष कुमार चंद्रमा राम, राजेश कुमार, अजीत सिंह जनार्दन सिंह यादव, सत्येन्द्र कुमार जय कुमार सहित शिक्षकों ने खुशी जाहिर किया।

यह भी पढ़ें - 70 हजार सरकारी स्कूलों के लिए शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार ने जारी किया निर्देश ऐसा नहीं होने पर शिक्षकों पर होगी कार्रवाई।

इंस्पायर अवार्ड : 15 से 30 तक छात्र कर सकेंगे आवेदन।

पटना।कक्षा 6 से 10वीं तक के छात्र - छात्रा इन्सपायर अवार्ड में ले सकते हैं भाग राज्यस्तर पर चुने गए छात्रों के नवाचार आइडिया राष्ट्रीय स्तर पर भेजे जाएंगे।
बिहार के मान्यता प्राप्त सरकारी, निजी, अनुदानित विद्यालयों की कक्षा 6 से दसवीं तक में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को अपनी वैज्ञानिक समझ और नवाचार के करण राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनाने का अवसर आ गया है। भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी विभाग की ओर से इंस्पायर अवार्ड मानक योजना के शैक्षणिक सत्र 2022-23 के कार्यक्रम जारी हो गये हैं। इस योजना के तहत देशभर से स्कूली छात्र-छात्राओं के एक लाख नवाचार का चयन कर विद्यार्थियों के खाते में दस-दस हजार की राशि उनके नवाचारों के मॉडल निर्माण के लिए दी जाएगी।

इंस्पायर अवार्ड 2022-23 में बिहार से स्कूली विद्यार्थियों की अधिकाधिक भागीदारी को लेकर शिक्षा विभाग के सचिव तथा बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के एसपीडी असंगबा चुबा आओ ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को विस्तृत निर्देश दिये हैं।

यह भी पढ़ें - राज्य के सभी कर्मचारियों एवं शिक्षकों को पुरानी पेंशन प्राप्त करने के लिए इस अभियान से चलना होगा

इसके मुताबिक हर स्कूल को अपने 5 प्रतिभावान विद्यार्थियों के मौलिक नवाचार को इंस्पायर अवार्ड के आनलाइन पोर्टल एटकअर पर अपलोड करना है। जिला स्तर पर जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (सर्वशिक्षा) सह जिला नोडल पदाधिकारी, इंस्पायर अवार्ड द्वारा स्कूलों से प्राप्त आवेदनों की समीक्षा होगी फिर वे चयनित आइडिया को राज्य स्तर पर अग्रसारित करेंगे। राज्य स्तर से चयनित नावाचार को राष्ट्रीय स्तर पर भेजा जाएगा। स्कूल स्तर पर विद्यार्थी 15 से 30 जुलाई तक अपने आइडिया की प्रविष्टि कर सकेंगे। राज्य स्तर से राष्ट्रीय स्तर पर इन्हें अग्रसारित करने की अंतिम तिथि 30 सितम्बर रखी गयी है। श्री असंगबा ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों से कहा है कि वे सभी विद्यालयों का इंस्पायर अवार्ड पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन सुनिश्चित कराएं। सभी मध्य एवं माध्यमिक विद्यालयों के विज्ञान शिक्षकों के सहयोग से विद्यार्थी अपने आइडिया को एटकअर पोर्टल पर 30 जुलाई तक अपलोड करें। जिलास्तर पर इस अवार्ड को लेकर जागरूकता पैदा करने के लिए सभी विद्यालय प्रधान एवं स्कूलों के नोडल विज्ञान शिक्षक की डीईओ जिलास्तरीय बैठक आयोजित करेंगे। इस प्रतियोगिता के लिए छठी से दसवीं की हर कक्षा से दो-दो विद्यार्थी का आइडिया चयनित होगा।


Buy Amazon Product