बड़ी खबरें

बड़ी खबर: नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में पढ़ाई के साथ कमाई भी होगी: धर्मेंद्र प्रधानबड़ी खबर: नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में पढ़ाई के साथ कमाई भी होगी: धर्मेंद्र प्रधान दिवाली से पहले कर्मचारियों ब शिक्षकों को मिल सकता है बंपर तोहफा 3 जगह से आएगा पैसा जान ले कैसे?दिवाली से पहले कर्मचारियों ब शिक्षकों को मिल सकता है बंपर तोहफा 3 जगह से आएगा पैसा जान ले कैसे? कैचअप कोर्स से बच्चों और शिक्षकों का 3 ग्रेड में होगा मूल्यांकन जाने विस्तार से उसके बाद शिक्षकों का क्या होने वाला है? कैचअप कोर्स से बच्चों और शिक्षकों का 3 ग्रेड में होगा मूल्यांकन जाने विस्तार से उसके बाद शिक्षकों का क्या होने वाला है? 3.57 लाख शिक्षकों को 15% वेतन वृद्धि का लाभ वित्त विभाग से आने के बाद अब नए साल में मिलने की उम्मीद: अपर मुख्य सचिव3.57 लाख शिक्षकों को 15% वेतन वृद्धि का लाभ वित्त विभाग से आने के बाद अब नए साल में मिलने की उम्मीद: अपर मुख्य सचिव प्रारंभिक विद्यालयों में प्रधान शिक्षक प्रधानाध्यापक पद का जिला भार हुआ आवंटन पत्र हुआ जारी।:प्राथमिक शिक्षा निर्देशकप्रारंभिक विद्यालयों में प्रधान शिक्षक प्रधानाध्यापक पद का जिला भार हुआ आवंटन पत्र हुआ जारी।:प्राथमिक शिक्षा निर्देशक शिक्षकों को बरगला रही सरकार 15 प्रतिशत की वेतन बढ़ोतरी स्थानांतरण एवं प्रोन्नति का भी मामला लटका। शिक्षकों को बरगला रही सरकार 15 प्रतिशत की वेतन बढ़ोतरी स्थानांतरण एवं प्रोन्नति का भी मामला लटका।

केंद्रीय कर्मचारियों के साथ-साथ राज्य कर्मियों को भी जुलाई महीने से महंगाई भत्ता (DA) पर आया बड़ा फैसला।

केंद्रीय कर्मचारियों के साथ-साथ राज्य कर्मियों को भी जुलाई महीने से महंगाई भत्ता (DA) पर आया बड़ा फैसला।

• कोरोना को देखते हुए पिछले वर्ष जनवरी से ही केंद्र और राज्य के कर्मियों का नहीं बढ़ रहा डीए
• वर्तमान में 17 फीसदी है राज्य सरकार के कर्मियों का डीए

कोरोना महामारी का असर आर्थिक गतिविधियों के साथ ही सरकारी कर्मियों के डीए (महंगाई भत्ता) पर भी पड़ा है. इस बार जुलाई में केंद्र के साथ ही राज्य सरकार के कर्मियों को भी डीए मिलने की उम्मीद नहीं है. चूंकि केंद्र सरकारी की घोषणा के बाद ही इसी तर्ज पर राज्य सरकार भी अपने कर्मियों के लिए डीए की घोषणा करती है. यह लगातार चौथा मौका होगा, जब सरकारी कर्मियों को डीए नहीं मिलेगा. जनवरी 2020 से ही सरकारी कर्मियों के डीए में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है.

अब नियोजित शिक्षकों को नियमित शिक्षकों की भांति सहायक शिक्षक एवं राज्य कर्मी का दर्जा की कवायत हो गई शुरु।

इससे पहले जुलाई 2019 में कर्मियों का डीए पांच प्रतिशत बढ़ा था और यह 12 प्रतिशत से बढ़कर 17 प्रतिशत हो गया था. वर्तमान में इसी 17 प्रतिशत की बढ़त के हिसाब से सरकारी कर्मियों को डीए मिलता आ रहा है. जनवरी 2020 में यह 17 प्रतिशत से बढ़कर 21 प्रतिशत होना था, लेकिन कोरोना महामारी की वजह से नहीं हुआ. इसके बाद से लगातार कोरोना महामारी के चरणबद्ध प्रभाव के कारण यह अभी तक नहीं बढ़ पाया है.

सरकारी कर्मियों को होगा एरियर का बड़ा नुकसान


वर्तमान में मिल रहे 17 फीसदी डीए में अगर निर्धारित समय पर नियमित रूप से बढ़ोतरी होती, तो अभी यह बढ़कर 28 फीसदी पर पहुंच जाता. वर्ष में दो बार जनवरी और जुलाई में डीए दर का निर्धारण होता है और इसके आधार पर इसमें बढ़ोतरी की जाती है. अब जब भी सरकारी कर्मियों को डीए मिलेगा, तो उन्हें पिछले सभी बकाये को जोड़कर प्रतिशत में बढ़ोतरी होगी, जिसका फायदा उन्हें तत्काल वेतन में होगा, परंतु इसका बकाया एरियर नहीं मिलेगा.

इससे सरकारी कर्मियों को एरियर का बड़ा नुकसान होगा, परंतु कोरोना महामारी की इस विकट परिस्थिति में टैक्स संग्रह में गिरावट और आर्थिक गतिविधि मंद पड़ने के कारण यह कटौती लाजिमी है. हालांकि, वित्त विभाग के अधिकारी इस पर बताते हैं कि केंद्र स्तर पर जुलाई में स्थिति सामान्य होने के बाद क्या हालात बनते हैं, इस पर कुछ कहा नहीं जा सकता है, परंतु मौजूदा स्थिति को देखते हुए डीए मिलने की संभावना फिलहाल नहीं है.


Buy Amazon Product