बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

अधिक ठंड के कारण 26 दिसंबर से 31 दिसंबर तक सभी सरकारी स्कूल होंगे बंद शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव ने जारी किया पत्र

अधिक ठंड के कारण 26 दिसंबर से 31 दिसंबर तक सभी सरकारी स्कूल होंगे बंद शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव ने जारी किया पत्र

शीतलहर के प्रभाव के कराण राज्य के सभी सरकारी विद्यालयों को 26 दिसम्बर से 31 दिसम्बर 2022 तक बंद रखे जा सकने के संबंध में कहना है कि राज्य में बढ़ते ठण्ड एवं शीतलहर के कारण जनप्रतिनिधियों, बच्चों के अभिभावकगण तथा प्राथमिक / माध्यमिक शिक्षक संघों के द्वारा विद्यालयों को बंद करने हेतु अनुरोध किया जा रहा है।
अतः अनुरोध है जिला में बढ़ते ठण्ड एवं शीतलहर की समीक्षा कर अपने जिला के सभी सरकारी विद्यालयों को 26 दिसम्बर से 31 दिसम्बर 2022 तक बंद करने पर विचार किया जा सकता है। साथ ही स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार इस पर शीघ्र निर्णय लेने की कृपा करेंगे।
                                        विश्वासभाजन
                                   (दीपक कुमार सिंह)
                 ह० /- अपर मुख्य सचिव, शिक्षा विभाग,

यह भी पढ़ें - शिक्षकों के अंतर वेतन एवं एरियर के भुगतान का समय निर्धारण हो गया आप भी जान ले

 

यह भी पढ़ें - नियोजित शिक्षकों को नियमित शिक्षकों की तरह स्थानांतरण के साथ अब मिलेगी सभी सुविधाएं तैयार हो गया प्रस्ताव


शिक्षकों की अगवानी से अभिभूत हुए अभिभावक
पटना।
प्राइमरी-मिडिल स्कूलों में में 3री से 5वीं कक्षा के बच्चों के अभिभावक पहुंचे। शिक्षकों ने जब उनकी आगवानी की, तो अभिभावक अभिभूत हो उठे ।गुरुवार को प्रदेश के सभी 72 हजार सरकारी प्राइमरी-मिडिल स्कूलों में 3री से 5वीं कक्षा के बच्चों के अभिभावकों के साथ अभिभावक शिक्षक संगोष्ठी आयोजित हुई । उसमें बच्चों की पढ़ाई से जुड़ी गतिविधियों का प्रदर्शन भी हुआ। संबंधित 72 हजार स्कूलों में 43 हजार प्राइमरी स्कूल हैं, जिनमें 1ली से 5वीं कक्षा तक की पढ़ाई होती है। बाकी 29 हजार मिडिल स्कूल हैं, जिनमें 1ली से 8वीं कक्षा तक की पढ़ाई होती है।

यह भी पढ़ें - 1 से 12 दिसंबर 2023 तक सभी सरकारी स्कूल रहेगा बंद शिक्षकों को मिल गई छुट्टी शिक्षा निदेशालय ने जारी किया आदेश

3री से 5वीं कक्षा तक के बच्चों के कक्षा के बच्चों के अभिभावकों के साथ  आपको बता दूं कि इसके पहले बुनियादी साक्षरता एवं संख्या ज्ञान मिशन के तहत सभी संबंधित 72 हजार स्कूलों में 20 अक्तूबर को 1ली कक्षा के बच्चों के अभिभावकों के साथ एवं 26 नवंबर को 20 अभिभावकों के साथ अभिभावक अभिभावक-शिक्षक संगोष्ठी हो चुकी है।
शिक्षक संगोष्ठी के लिए स्कूलों में पहले से ही तैयारियां चल रही थीं। बेंच, डेस्क, दरी, सफेदा की व्यवस्था की गयी थी । स्कूल किट एवं चिल्ड्रेन किट भी बच्चों के उपयोग के लिए रखे गये थे । प्रत्येक अभिभावक से उनके बच्चे की उपलब्धि के बारे में बात की गयी। अभिभावकों को स्कूल का भ्रमण कराया गया। उनके सुझाव भी लिये गये। बच्चे घर में पढ़ें, इसके लिए अभिभावक प्रेरित किये गये । अभिभावकों को अपने बच्चों का गणित से संबंधित प्रदर्शन काफी अच्छा लगा ।


Buy Amazon Product