बड़ी खबरें

शिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगाशिक्षकों को मिली खुशखबरी सरकारी स्कूल के संचालन में हुआ भारी परिवर्तन जान ले अब कितने बजे तक स्कूल चलेगा 2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा2006 से लेकर अब तक के नियोजित शिक्षकों के लिए बड़ी खबर मिलेगी सरकारी राज्य कर्मी का दर्जा खुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूचीखुशखबरी शिक्षकों के लिए प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षा विभाग ने अवकाश तालिक में हुआ भारी परिवर्तन जारी हुआ सूची प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएंप्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक दिए गए लिंक पर जाकर जल्द सूचना प्राप्त कर लें आप कहीं छूट ना जाएं शिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसलाशिक्षकों को भी पुरानी पेंशन योजना शीघ्र लागू हो इस पर लिया गया बड़ा फैसला सभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतानसभी जिलों में शिक्षकों के लिए दिसंबर महीने का वेतन एवं अंतर राशि के लिए 11 अरब 92 करोड़ 85 लाख का हुआ आवंटन अब होगा भुगतान

राज्य के 72000 प्राइमरी एवं मिडिल स्कूल के शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग ने जारी कर दिया निर्देश जान ले क्या करना है?

राज्य के 72000 प्राइमरी एवं मिडिल स्कूल के शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग ने जारी कर दिया निर्देश जान ले क्या करना है?

राज्य के 72 हजार सरकारी प्राइमरी- मिडिल स्कूलों के तकरीबन पौने दो करोड़ बच्चे हाथ धोना सीखेंगे। बच्चे स्कूलों में मनने वाले अंतरराष्ट्रीय हाथ धुलाई महोत्सव में हाथ धोना सीखेंगे। यह महोत्सव स्कूलों में 25 सितंबर से शुरू होकर 23 अक्तूबर तक मनेगा इस अवधि में चार शनिवार पड़ेंगे। हर शनिवार को स्कूलों में गतिविधियां होंगी। इस बाबत राज्य के सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारियों (प्रारंभिक शिक्षा एवं एसएसए) को बिहार शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा निर्देश दिये गये हैं। इसके मुताबिक अंतरराष्ट्रीय हाथ धुलाई महोत्सव के चार शनिवार में से पहले शनिवार (25 सितंबर) को स्कूलों में बच्चों के बीच हाथ धुलाई का प्रदर्शन होगा। इसके जरिये बच्चों को बताया जायेगा कि हाथ कैसे धोयें। 

यह भी पढ़ें - राज्य शिक्षा शोध एवं प्रशिक्षण परिषद के निर्देशक प्रभारी ने प्रारंभिक विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों के लिए आया निर्देश, पत्र हुआ जारी।

उन्हें यह भी बताया जायेगा कि हाथ धोना क्यों जरूरी है तथा कब-कब और किससे हाथ धोया जाना चाहिये। बच्चों को इस बात के लिए जागरूक किया जायेगा कि विभिन्न प्रकार के संक्रमण से बचने के लिए हाथ धुलाई अत्यंत आवश्यक है। साबुन से हाथ धोने से डायरिया, दस्त, पीलिया जैसे रोगों से बचा जा सकता है। अब तो कोरोना वायरस से बचाव के लिए भी यह आवश्यक हो गया है। प्राय: देखा गया है कि बच्चों को उचित हाथ धुलाई की जानकारी नहीं रहती है, जिसके ग्रसित हो जाते हैं। इसके मद्देनजर बच्चों को जागरूक करने में विद्यालयों की अहम भूमिका है। इसलिए अंतरराष्ट्रीय हाथ धुलाई महोत्सव के तहत स्कूलों में बच्चों को हाथ धुलाई से संबंधित शिक्षा दी जायेगी। 

यह भी पढ़ें - डीए latest news :20484 रुपए बढ़ेगी केंद्रीय के तर्ज पर राज्य कर्मचारियों की सैलरी,जुलाई AICPI आंकड़े से हुआ कन्फर्म अब 31% होगा महंगाई भत्ता।

खैर, महोत्सव के दूसरे शनिवार ( दो अक्तूबर) को स्कूलों में बच्चों के बीच हाथ धुलाई पर चित्रकारी प्रतियोगिता होगी। उस दिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती भी है। तीसरे शनिवार (नौ अक्तूबर) को स्कूलों में बच्चों के बीच स्वच्छता एवं हाथ धुलाई पर निबंध एवं प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता होगी। चौथे शनिवार ( 23 अक्तूबर) को स्कूलों में स्वच्छता संकल्प समारोह मनेगा। त्सव उसमें बच्चे स्वच्छता का संकल्प 


Buy Amazon Product