बड़ी खबरें

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से प्रश्न पूछा गया महंगाई भत्ता की तीन किस्त क्यों रोका गया इस पर मंत्री ने जवाब क्या दिया जान ले।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से प्रश्न पूछा गया महंगाई भत्ता की तीन किस्त क्यों रोका गया इस पर मंत्री ने जवाब क्या दिया जान ले।

क्या वित्त मंत्री यह बताने की कृपा करेंगे कि:
(क) क्या केन्द्र सरकार के कर्मचारियोपेशনओोगियों के महंगाई भत्ते को जुलाई 2021 तक रोके जाने के कारण उन्हें कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।
 (ख) यदि हां, तो केन्द्र सरकार के कर्मचारियो/पेंशनभोगियों के महंगाई भत्ते को जुलाई 2021 से पहले बहाल नहीं किए जाने के क्या कारण हैं: और
(ग) क्या केन्द्र सरकार के कर्मचारी और पेंशनभोगी महंगाई भत्ते की तीन किस्तों के लिए पात्र नहीं हैं और यदि हां, तो क्या सरकार इन किस्तों को भी जारी करेगी, यदि नहीं, तो इसके क्या कारण है?

नियोजित शिक्षकों को यूटीआई की राशि वापसी एवं अन्य समस्याओं पर आया बड़ा फैसला

 

उत्तर:-
वित्त मंत्रालय में राज्य मंत्री (श्री अनुराग सिंह ठाकुर)
(क) और (ख) कोवि-19 महामारी से उत्पन्न संकट को देखते हुए, सरकार ने 01.01.2020, 01.07.2020 और 01.01.2021 से केन्द्र सरकार के कर्मचारियों और पैशनभोगिर्या को महंगाई भत्ता और महंगाई राहत की देय तीन किस्तों को रोकने का निर्णय लिया है। इससे बचाई गई 37530.08 करोड़ रुपए की राशि से कोविड-19 महामारी से पड़ने वाले आर्थिक प्रभाव से निपटने में मदद मिलेगी। (ग) जब कभी 01.07.2021 से देय महंगाई भत्ते की आगामी किस्ते जारी करने का निर्णय लिया जाएगा, 01.01.2020, 01.07.2020 और 01.01.2021 से प्रभावी महंगाई भत्तों की दरों को प्रत्याशित प्रभाव से बहाल किया जाएगा और 01.07.2021 से प्रभावी संचयी संशोधित दरों में मिला दिया

इसे भी पढ़ें।
सरकारी अफसर काम नहीं करते तो उन्हें इतनी सैलरी क्यों दें। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने एक बार फिर बुधवार को सरकारी अधिकारियों के काम करने के रवैये पर नाराजगी जताई है। गडकरी ने टेक्नोलॉजी सेंटर्स एंड एक्सटेंशन सेंटर्स ऑफ एमएसएमई उद्घाटन कार्यक्रम में कहा कि 'खाया पीया कुछ नहीं, गिलास तोड़ा बारह आना हो गए हैं अधिकारी, इतनी सैलरी क्यों दें? गडकरी ने कहा, अगर हम गाय और भैंस घर पर पालते हैं तो ज्यादा दूध देना चाहिए तो उसको अच्छी खुराक देते हैं, और खुराक देने के बाद दूध ही नहीं मिले तो जानवरों का उपयोग क्या है? इस कार्यक्रम का आयोजन वर्चुअली किया गया था। गडकरी एमएसएमई और मंत्रालय के इंवेस्टमेंट से राज्य में होने वाली ग्रोथ जैसे मुद्दे पर बोल रहे थे।


Buy Amazon Product