बड़ी खबरें

नियोजित शिक्षकों की पदोन्नति एवं वेतन को लेकर अपर मुख्य सचिव एवं प्राथमिक शिक्षा निदेशक का संयुक्त निर्देश जारी

नियोजित शिक्षकों की पदोन्नति एवं वेतन को लेकर अपर मुख्य सचिव एवं प्राथमिक शिक्षा निदेशक का संयुक्त निर्देश जारी

शिक्षकों ने कहा, हालात पर नियंत्रण के बाद हो पंचायत चुनाव। 
पटना । राज्य में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए शिक्षकों ने पंचायत चुनाव पर रोक लगाने की मांग राज्य सरकार से एवं राज्य चुनाव आयोग से की है। बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ ने कहा है कि अगर पंचायत चुनाव पर रोक नहीं लगायी गयी, तो मतदानकर्मी के रूप में उसमें ड्यूटी बजाने वाले शिक्षक-कर्मचारियों में संक्रमण को रोकना मुश्किल हो जायेगा। इसके मद्देनजर संगठन के अध्यक्ष ब्रजनंदन शर्मा, वरीय उपाध्यक्ष नूनूमणि सिंह एवं राम अवतार पांडेय। 

बढ़ते संक्रमण को देख सभी स्कूल 30 जून तक रहेंगे ग्रीष्मा अवकाश -

 

कार्यकारी अध्यक्ष मनोज कुमार, महासचिव नागेंद्रनाथ शर्मा, उपाध्यक्ष घनश्याम यादव एवं महादेव मिश्रा तथा प्रवक्ता प्रेमचंद्र ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए आपदा की स्थिति में पंचायत चुनाव पर तब तक रोक लगाने की मांग की है, जब तक स्थिति नियंत्रण में न आ जाय। संगठन ने कोरोना से दम तोड़ने वाले प्रत्येक शिक्षक को पचास लाख रुपये मुआवजा देने की मांग दुहरायी है तथा कहा है कि अब तक साठ से सत्तर शिक्षकों की सांस कोरोना से टूट चुकी है। सैकड़ों शिक्षक संक्रमित होकर विभिन्न अस्पतालों में इलाज करा रहे हैं ।

वेतन के लिए टीईटी प्रारंभिक शिक्षक संघ ने भी उठायी आवाज। 
पटना । बकायों सहित अद्यतन वेतन भुगतान के लिए टीईटी प्रारंभिक शिक्षक संघ ने भी आवाज उठायी है। संगठन के प्रदेश संयोजक राजू सिंह, महासचिव आलोक रंजन एवं सचिव शैलेन्द्र राय ने शिक्षकों के बकायों सहित अद्यतन वेतन भुगतान के लिए ज्ञापन शिक्षा विभाग के अपर मुख्यसचिव, बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक एवं प्राथमिक शिक्षा निदेशक को भेजा है। ज्ञापन में कहा गया है। 

कि एसएसए मद से वेतन पाने वाले शिक्षकों को तीन माह से वेतन नहीं मिला है। पिछले वर्ष हड़ताल पर रहे लाखों शिक्षकों को हड़ताल अवधि के समंजन के बावजूद भी 37 दिन का वेतन एक साल बाद भी नहीं मिला है। 2014 से लेकर 2019 के विभिन्न सत्रों में प्रशिक्षित हुए शिक्षकों को अंतर वेतन की राशि भी नहीं मिर्ली है। ज्ञापन में वेतन वृद्धि से संबंधित विस्तृत दिशा-निर्देश के साथ ही स्नातक ग्रेड टीईटी शिक्षकों को प्रधान अध्यापक पद पर प्रोन्नति के लिए भी दिशा-निर्देश जारी करने की मांग की गयी है ।


Buy Amazon Product