बड़ी खबरें

राज्य के प्रारंभिक शिक्षकों के वेतन के लिए 914 करोड़ रुपए हो गए जारी नए वेतन में अब कितना बढ़कर मिलेगा जान ले।राज्य के प्रारंभिक शिक्षकों के वेतन के लिए 914 करोड़ रुपए हो गए जारी नए वेतन में अब कितना बढ़कर मिलेगा जान ले। नई नीति के तहत स्कूली पाठ्यक्रम को नए ढांचे में गढ़ने की तैयारी शिक्षकों को ऐसा करना होगा? नई नीति के तहत स्कूली पाठ्यक्रम को नए ढांचे में गढ़ने की तैयारी शिक्षकों को ऐसा करना होगा?  पप्पू यादव की ‘दहाड़’, कहा- नित्यानंद राय और तेजस्वी को चुल्लू भर पानी में डूब मर जाना चाहिए, जानें पूरा मामला पप्पू यादव की ‘दहाड़’, कहा- नित्यानंद राय और तेजस्वी को चुल्लू भर पानी में डूब मर जाना चाहिए, जानें पूरा मामला शिक्षकों के ग्रेड पे में हुआ बड़ा बदलाव, नियोजित शिक्षक फिर किए दक्षता परीक्षा की मांग।शिक्षकों के ग्रेड पे में हुआ बड़ा बदलाव, नियोजित शिक्षक फिर किए दक्षता परीक्षा की मांग।  महागठबंधन में दरार, कांग्रेस से पीछा छुड़ाने की फिराक में राजद! महागठबंधन में दरार, कांग्रेस से पीछा छुड़ाने की फिराक में राजद! प्रशिक्षित नियोजित शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग के प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने वेतन निर्धारण को लेकर जारी किया निर्देश पत्र हुआ जारी।प्रशिक्षित नियोजित शिक्षकों के लिए शिक्षा विभाग के प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने वेतन निर्धारण को लेकर जारी किया निर्देश पत्र हुआ जारी।

राज्य में मची हाहाकार 11 को अनिवार्य सेवानिवृत्ति की कार्रवाई एवं अन्य पर वेतन काटने की आदेश।

राज्य में मची हाहाकार 11 को अनिवार्य सेवानिवृत्ति की कार्रवाई एवं अन्य पर वेतन काटने की आदेश।

निरीक्षण में 42 कर्मी मिले गायब 11 की होगी अनिवार्य सेवानिवृति शेष कर्मचारियों का 1 दिन का वेतन काटने का निर्देश। 
पटना: समय: सुबह दस बजे, स्थान : पटना कलेक्ट्रेट। जिलाधिकारी डॉ. डॉ. चंद्रशेखर सिंह की गाड़ी परिसर में प्रवेश करती है। डीएम हैरान हैं कि कार्यालय खुलने का समय है और सन्नाटा पसरा है। न परिसर में कोई गाड़ी है और न कार्यालयों में चहल-पहल। डीएम के अर्दली भी हांफते हुए पहुंच रहे हैं। फिर क्या था, डीएम ने एक-एक विभाग का निरीक्षण करना शुरू कर दिया। हिंदी भवन स्थित कलेक्ट्रेट में 42 कर्मी गायब मिले। भड़के डीएम ने सभी पर गाज गिरा दी । 

नियोजित शिक्षकों को यूटीआई की राशि वापसी एवं अन्य समस्याओं पर आया बड़ा फैसला -

 

गायब 42 कर्मियों में से 11 वैसे हैं, जो पांच जनवरी को भी डीएम का निरीक्षण के दौरान गायब मिले थे। दोबारा गायब मिले इन 11 कर्मियों के खिलाफ अनिवार्य सेवानिवृति का दंड की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। शेष कर्मियों का एक दिन का वेतन काटने का निर्देश जारी किया गया। कर्मियों से स्पष्टीकरण पूछते हुए 24 घंटे में जवाब मांगा गया है। सेवा पुस्तिका में निंदा अकित : कर्मियों के जवाब के साथ संबंधित कार्यालय के अधिकारी का मंतव्य भी मांगा गया है । आदतन अनुपस्थित रहने वाले कर्मियों की वेतन कटौती के साथ सेवा पुस्तिका में निंदा अंकित कया जाएगा।

इन कर्मियों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति का दंड। मो.सगीहउद्दीन अहमद, प्रधान लिपिक जिला सामान्य शाखा, सिंह, लिपिक सामान्य शाखा, आलोक कुमार, लिपिक सामान शाखा राजन कुमार, लिपिक स्थापना शाखा, उमाशंकर प्रसाद प्रधान लिपिक भू अर्जन कार्याल अरविंद कुमार, लिपिक जिला भ अर्जन कार्यालय, अरविंद कुमार लिपिक जिला भू अर्जन कार्याल निलेश कुमार ठाकुर, लिपिक जिला भू अर्जन कार्यालय, संतो कुमार, लिपिक जिला भू अर्जन कार्यालय, सुनील खलको, मोह जिला भू अर्जन कार्यालय, अशो कुमार, जंजीर वाहक जिला भू अर्जन कार्यालय।
अनुपस्थित कर्मचारी अनुपस्थित कर्मियों में 21 लिपिक, 11 कार्यालय परिचारी, चार डाटा इंट्री ऑपरेटर, दो जंजीर वाहक और एक चालक शामिल हैं।
डीएम ने कार्रवाई।


Buy Amazon Product